Shardiya Navratri 2020 : आज नवरात्र के चौथे दिन इस मंत्र का जाप, आपको दे सकता है आकूत धन संपदा

नवरात्रि पर अचानक धन प्राप्ति का अचूक उपाय...

By: दीपेश तिवारी

Updated: 20 Oct 2020, 12:53 PM IST

शारदीय नवरात्र 2020 का आज चौथा दिन है, इस चौथे दिन मां दुर्गा के कुष्मांडा स्वरूप की पूजा की जाती हैं। ज्योतिष के अनुसार जहां कूष्माण्डा मां सूर्य का मार्गदर्शन करती हैं और इनकी पूजा से सूर्य के कुप्रभावों से बचा जा सकता है। वहीं यह भी मान्यता है कि इस दिन जो भी धन प्राप्ति, रोजगार प्राप्ति और पैसों की आवक जैसी समस्याओं का समाधान चाहता है, उसे इस दिन कुछ मंत्रों का विधि पूर्वक जाप करना चाहिए। पंडित सुनील शर्मा के अनुसार इसके लिए माता के मंदिर में जाकर या फिर अपने घर में ही सूर्योदय के समय कम से कम 108 बार इनका जाप कर कोई भी भक्त मां कुष्मांडा की कृपा से अथाह धन का आशीर्वाद पा सकता हैं।

1- अचानक धन प्राप्ति के लिए : ये करें उपाय
इसके तहत नवरात्रि के चौथे दिन शुद्ध होकर मां दुर्गा के मंदिर में या घर में ही पूजा स्थल पर उत्तर दिशा की ओर मुख करके पीले आसन पर बैठ जाएं, अब मिट्टी या दीपक के नये 9 दीपक माता के सामने जला लें। ध्यान रखें जप तक आपकी पूजा चलती रहे तब तक ये दीपक जलते रहने चाहिए । दीपक के सामने लाल चावल की एक ढेरी बनाकर उस पर एक श्रीयंत्र स्थापित कर कुंकुम, फूल, धूप, दीप से पूजन करें ।

अब इस मंत्र का जप सफेद स्फटिक की माला से करें-

मंत्र- ।। ऊँ श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्मयै नम: ।।

मंत्र जप पूरा होने के माता से अपनी मनोकामना की प्रार्थना करें । दूसरे दिन सुबह श्रीयंत्र को अपने पूजा स्थल पर स्थापित कर लें और शेष पूजा सामग्री को किसी नदी में बहा दे या फिर एकांत शुद्ध जगह पर गाड़ दें । माना जाता है कि ऐसा करने यानि इस उपाय से कुछ ही दिनों में अचानक अथाह धन प्राप्ति होती है।

मनचाही नौकरी प्राप्ति के लिए-
शारदीय नवरात्रि के चौथे दिन सुबह घर के पूजा स्थल में एक सफेद रंग का सूती आसन बिछाकर उस पर पूर्व दिशा की ओर मुख करके उस पर बैठ जाएं । अब अपने सामने पीला कपड़ा बिछाकर उस पर 108 दानों वाली स्फटिक की माला रख दें और इस पर केसर व इत्र छिड़क कर इसका धूप, दीप से पूजन करें । पूजन के बाद नीचे दिये मंत्र का 251 बार उसी स्फटिक की माला से जप करें, जप सुबह और शाम को दोनों समय करना हैं । माना जाता है कि इस उपाय के बाद जहां भी नौकरी के लिए जाओगे आपको मनचाही नौकरी मिल जाएगी ।

मंत्र- ।। ऊँ ह्लीं वाग्वादिनी भगवती मम कार्य सिद्धि कुरु कुरु फट् स्वाहा ।।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned