बजरी माफियाओं और यूपी पुलिस में मुठभेड़,गोली लगने पर दो माफिया घायल

Grapple mafia and UP police encounter news धौलपुर/ सैंपऊ. प्रतिबंधित चंबल बजरी के परिवहन को रोकने के पुलिस के खोखेल दावों की पोल खुलती नजर आ रही है। धौलपुर से चंबल बजरी लेकर जा रहे बजरी माफियाओं की उत्तर प्रदेश के आगरा जिले के सैंरधी चौराहे पर एक बार फिर से यूपी पुलिस से मुठभेड़ हो गई। दोनों ओर से गोलियां भी चली।

By: Naresh

Published: 05 Feb 2021, 01:45 PM IST

बजरी माफियाओं और यूपी पुलिस में मुठभेड़,गोली लगने पर दो माफिया घायल
-दोनों ओर से फायरिंग
-एस्कोर्ट करने वाली कार व तीन ट्रेक्टर जब्त
Grapple mafia and UP police encounter news धौलपुर/ सैंपऊ. प्रतिबंधित चंबल बजरी के परिवहन को रोकने के पुलिस के खोखेल दावों की पोल खुलती नजर आ रही है। धौलपुर से चंबल बजरी लेकर जा रहे बजरी माफियाओं की उत्तर प्रदेश के आगरा जिले के सैंरधी चौराहे पर एक बार फिर से यूपी पुलिस से मुठभेड़ हो गई। दोनों ओर से गोलियां भी चली। इस दौरान यूपी पुलिस की गोली लगने पर दो बजरी माफिया घायल हो गए। जबकि एक अन्य बजरी माफिया को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। प्रारंभिक पूछताछ में धौलपुर से बजरी लेकर आना सामने आ रहा है। वहीं, घटना के बाद कई बजरी माफिया धौलपुर-भरतपुर मार्ग पर रास्ते में ही बजरी खाली करके फरार हो गए।

जानकारी के अनुसार गुरूवार रात करीब करीब 3 बजे को उत्तर प्रदेश के सैंरधी पुलिस को सूचना मिली कि धौलपुर की ओर से अवैध चंबल बजरी से भरे ट्रैक्टर आ रहे हैं, इस पर पुलिस ने बजरी से भरे ट्रेक्टरों को रोकने का प्रयास किया। पुलिस के नजदीक पहुंचते ही माफियाओं ने पुलिस पर जान से मारने की नियत से फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में पुलिस ने आत्मरक्षा में गोली चलाई, जिससे दो जने घायल हो गए। पुलिस पड़ताल में बजरी के आठ ट्रैक्टर-ट्रॉली होना बताए गए थे। इन बजरी के वाहनों की एक कार द्वारा एस्कोर्ट भी किया जा रहा था। घटना के बाद पुलिस ने तीन ट्रैक्टर एवं बजरी वाहन को एस्कोर्ट करने वाली कार को जब्त किया गया है। जबकि बजरी माफिया धौलपुर-भरतपुर मार्ग पर रास्ते में ही बजरी खाली करके फरार हो गए। पुलिस ने बताया कि गोली लगने से घायल पप्पू पुत्र अंगद निवासी बसाई बंसी पहाड़पुर थाना रुदावल, रामू पुत्र रामनाथ कुआं खेड़ा थाना बाड़ी सदर जिला धौलपुर एवं पंकज पुत्र नारायण निवासी बसई बंसी पहाड़पुर थाना रुदावल को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस पड़ताल में सामने आया है कि बड़ी संख्या में चंबल बजरी से ट्रेक्टर-ट्रॉली बड़ी संख्या में धौलपुर से यहां से होकर गुजरते है।
यूपी पुलिस के सिपाई को कुचला
उल्लेखनीय है कि गत 8 नवंबर 2020 को निकटवर्ती खेरागढ़ थाने के अयेला गांव के निकट भी अवैध चंबल माफियाओं ने ट्रैक्टर से सोनू चौधरी नामक पुलिस कांस्टेबल की हत्या कर दी थी। मामले में यूपी पुलिस ने धौलपुर के कौलारी थाना इलाके के बजरी माफियाओं को गिरफ्तार भी किया गया।
यूपी पुलिस से पहले भी मुठभेड़
गत 9 सितम्बर को आगरा जिले के जगनेर थाना पुलिस ने चंबल रेता के ट्रैक्टर को रुकवाने का प्रयास किया तो ट्रेक्टर-ट्रॉली पर सवार माफियाओं ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी और चंबल रेता से भरी ट्रॉली को फैलाते हुए भागने का प्रयास किया । माफिया की फायरिंग के जबाव में जगनेर थाना पुलिस ने फायरिंग करना शुरू कर दिया। इस दौरान बजरी माफिया सुखराम पुत्र दाताराम निवासी गांव भागना थाना कौलारी जिला धौलपुर के पैर में गोली लगने से घायल हो गया और दो बजरी माफिया मदन पुत्र टीकम ठाकुर निवासी कूकरा थाना सैपऊ जिला धौलपुर, लव कुश पुत्र महावीर निवासी गांव मोहनलाल का पुरा सैया उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार कर लिया गया है।
शहर में दौड़ते रहे बजरी के वाहन
बजरी परिवहन रोकने के दावे के बीच गुरूवार को जिला मुख्यालय के आमरास्तों में चंबल बजरी से भरे ट्रेक्टर-ट्रॉली दौड़ते हुए नजर आए। ऐसे में बजरी के वाहनों को रोकने के लिए जिले में कहीं भी कोई प्रयास नहीं होते नजर आए। खुलेआम दौड़ रहे बजरी के वाहनों पर पुलिस प्रशासन के बंदोबस्तों के दावों पर कई सवाल हो गए है।

इनका कहना...
अवैध चंबल बजरी से भरे ट्रैक्टरों के आने की सूचना पर पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। आत्मरक्षा में चलाई गोली दो जनों के पैर में लगी है। ट्रैक्टर एवं एक रेकी कर रही कार के साथ दो तमंचे बरामद किए गए हैं।
सत्यजीत गुप्ता, एसपी ग्रामीण पश्चिम क्षेत्र, आगरा

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned