HEALTH TIPS : उल्टी-दस्त व कब्ज में हरड़ के प्रयोग से मिलती है राहत

हरड़ का प्रयोग आयुर्वेद में औषधि के रूप में किया जाता है। इसमें रोगों के हरण करने की क्षमता होती है, इसलिए इसे हरीतकी कहा जाता है।

By: Ramesh Singh

Published: 21 Feb 2020, 05:16 PM IST

हरड़ पाचन तंत्र को मजबूत बनाती है। साथ ही यह शरीर को डिटॉक्स कर वजन घटाने में भी मदद करती है। इसमें कई प्रकार के एसिडिक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर के इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं। इसमें कई अन्य अघुलनशील पदार्थ भी होते हैं। इसमें 18 प्रकार के अमीनो एसिड भी पाए जाते हैं।
उल्टी-दस्त से मिलता आराम

बुखार, पेट फूलना, उल्टी-दस्त, गैस बनना और बवासीर जैसी समस्याओं में इसका प्रयोग किया जाता है। हरड़ का चूर्ण और शहद का प्रयोग करने से उल्टी-दस्त में आराम मिलता है।
कब्ज में राहत

हरड़ में गैलिक एसिड पाया जाता है जो रक्त में प्लाज्मा इंसुलिन बढ़ाकर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है। कब्ज के लिए चुटकीभर हरड़ चूर्ण को नमक के साथ खाना चाहिए। इसे लौंग या दालचीनी के साथ लें। दस्त की समस्या में हरड़ की चटनी बनाकर दिन में 3-4 बार खाने से दस्त में आराम मिलता है।
जरूर बरतें सावधानी

कमजोर शरीर, अवसादग्रस्त व्यक्ति तथा गर्भवती महिलाओं को इसका प्रयोग करने से बचना चाहिए। इसको बिना आयुर्वेद विशेषज्ञ से परामर्श के नहीं लें।

Ramesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned