'करवाचौथ व्रत के लिए खास टिप्स' ऐसे रखें अपनी सेहत और डायट का ध्यान

करवाचौथ का व्रत कर रही हैं तो...
करनाचौथ के व्रत में अगर आप कुछ खाती हैं तो कार्बोहाइड्रेट, फाइबरयुक्त व तरल पदार्थ अधिक मात्रा में लें ।

By: विकास गुप्ता

Published: 04 Nov 2020, 02:04 PM IST

करवा चौथ karwa chauth सुहागिन महिलाओं के लिए एक अहम व्रत है। कुछ महिलाएं इस व्रत में हल्का खाना-पीना कर लेती हैं लेकिन कुछ महिलाएं व्रत के दौरान पूरे दिन कुछ नहीं खातीं। व्रत करते समय खानपान का ध्यान रखेंगे तो शरीर को नुकसान नहीं होगा। अगर आप व्रत में कुछ खाएं तो तला-भुना, तेज मसालेदार न खाएं। इससे बुखार व अन्य समस्याएं हो सकती हैं। पूरा दिन खाली पेट है तो रात में हैवी खाने से कमजोरी, चक्कर, सिर दर्द की आशंका बढ़ जाती है।

ऐसा रखें आहार-
व्रत के भोजन में सेंधा नमक का इस्तेमाल करें । कुट्टू व सिंघाड़े का आटा शरीर के पाचन तंत्र को बढ़ाता और हाई बीपी में लाभदायक है। व्रत रखने से शरीर में एनर्जी का स्तर कम होता है। ऐसे में एनर्जी वाली तरल चीजों से पूरे दिन ऊर्जावान रह सकते हैं। नींबू पानी और दही की लस्सी का सेवन करें। एंटीऑक्सीडेंट युक्त नारियल पानी से बीपी नियंत्रित और अन्य बीमारियों में फायदा मिलता है। विटामिन्स, मिनरल्स, ग्लूकोज से भरपूर बनाना शेक इलेक्ट्रोलाइट संतुलन, बीपी नियंत्रण और हड्डियों के लिए फायदेमंद है। चुकंदर, सेब, पपीता, खीरा, अनार से दिनभर तारोताजा रहेंगे।

व्रत खोलेने के बाद इन बातों का ध्यान रखें-
कमजोरी से बचने के लिए अधिक से अधिक तरल पदार्थ लें। नारियल पानी, नींबू पानी, विटामिन ए युक्त फल लें । भोजन में ऐसे खाद्य पदार्थ शामिल करें जिनमें फाइबर अधिक और वसा की मात्रा कम हो। भोजन हल्का व सुपाच्य हो। एनर्जी युक्त तरल पदार्थ लें। खानपान का ध्यान न रखने से व्रत के बाद डिहाइड्रेशन, बदहजमी, सिरदर्द व चक्कर आने जैसी दिक्कत हो सकती है। रात को खाने में फल, खिचड़ी, दलिया ले सकते हैं। केले व आलू के चिप्स, रेडीमेड आहार न लें। मात्रा से ज्यादा चीनी, तली-भुनी चीजें, पूड़ी न खाएं।

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned