चाय के हैं शौकीन, तो इन बातों का रखें ध्यान

ज्यादातर मामलों में देखा जाता है कि लोग लिक्विड डाइट के नाम पर हैल्दी जूस (healthy juice) या दूध (milk) के बजाय चाय (Tea) को ज्यादा तवज्जो देते हैं। इसके अलावा लोगों को दिनभर की चाय से ज्यादा सुबह की बेड टी अच्छी लगती है। सेहत के नजरिए से देखा जाए तो चाय व्यक्ति को आलसी बनाने के साथ ही कई रोगों की गिरफ्त में भी ले आती है।

By: जमील खान

Published: 02 Apr 2021, 07:29 PM IST

ज्यादातर मामलों में देखा जाता है कि लोग लिक्विड डाइट के नाम पर हैल्दी जूस (healthy juice) या दूध (milk) के बजाय चाय (Tea) को ज्यादा तवज्जो देते हैं। इसके अलावा लोगों को दिनभर की चाय से ज्यादा सुबह की बेड टी अच्छी लगती है। सेहत के नजरिए से देखा जाए तो चाय व्यक्ति को आलसी बनाने के साथ ही कई रोगों की गिरफ्त में भी ले आती है। जानें इसके कुछ अन्य नुकसानों के बारे में

ज्यादा गर्म न पीएं चाय
कई राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय रिसर्च और जर्नल की बात करें तो एकदम गर्म चाय पीने के नुकसान काफी ज्यादा हैं। इससे खाने और सांस की नली पर सीधा असर होने से इन्हें क्षति पहुंचती है। फूड पाइप (food pipe) और गले के कैंसर (throat cancer) का खतरा आठ गुना बढ़ जाता है। गले के साथ पेट और आंतों की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचता है।

ये करें
चाय का तापमान पीने के दौरान इतना होना चाहिए कि जीभ से लेकर पेट तक कोई दिक्कत न हो।

खाली पेट न पीएं

चाय में कई तरह के एसिड (acid) पाए जाते हैं। ऐसे में सुबह बेड टी के रूप में चाय पीने से नुकसान हो सकता है। चाय पीने से ये एसिड्स सीधे पेट की अंातरिक सतह को क्षति पहुंचाते हैं। कई शोधों में यह भी सामने आया है कि जो लोग खाली पेट अधिक चाय पीते हैं उन्हें उसी समय से लेकर दिनभर थकान का अहसास ज्यादा होता है। यदि बेड टी ज्यादा कड़क पीते हैं तो पेट में अल्सर और एसिडिटी की आशंका भी बढ़ जाती है।

ये करें : यदि आप खाली पेट चाय पी रहे हैं तो कोशिश करें कि एक-दो बिस्किट, टोस्ट या कुकीज साथ में लें। यदि आप बिना बेड टी के खुद को रिफ्रेश महसूस नहीं करते हैं तो दूध वाली चाय के बजाय ब्लैक टी पी सकते हैं।

दूध की चाय भी सही नहीं : कई विशेषज्ञों के अनुसार चाय बनाते समय जैसे ही इसमें दूध डलता है, इसमें मौजूद तत्त्व व एंटीऑक्सीडेंट्स खत्म हो जाते हैं। खाली पेट दूध वाली चाय पीने से शरीर में थकान बनी रह सकती है।

ये करें : दूध वाली चाय के बजाय ब्लैक टी, ग्रीन टी या हर्बल टी पी जा सकती है।

भोजन के तुरंत बाद नहीं : कुछ लोगों का मानना है कि भोजन करने के बाद चाय की एक चुस्की खाने को पचाने में मदद करती है। लेकिन ऐसा करना शरीर के लिए सही नहीं है। असल में चाय में टेनिन तत्त्व होता है। यह तत्त्व भोजन करने के बाद आहार में मौजूद आयरन के साथ रिएक्ट कर सकता है। जिसका शरीर पर नकारात्मक असर होता है खासकर पाचनतंत्र पर।

ये करें : भोजन और चाय के बीच कम से कम 2-3 घंटे का गैप होना चाहिए। रात के खाने से पहले और बाद चाय से परहेज करें।

Show More
जमील खान
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned