RESEARCH : सावधान! आप भी रोजाना सेब खाते हैं तो जरूर पढ़ेें

RESEARCH : सावधान! आप भी रोजाना सेब खाते हैं तो जरूर पढ़ेें

Ramesh Kumar Singh | Updated: 15 Aug 2019, 05:12:12 PM (IST) डाइट-फिटनेस

शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत रखने के लिए विटामिन व एंटीआक्सीडेंटस की जरूरत होती है जो मौसमी फलों व सब्जियों में मिलती है पर सेब ज्यादा खाए जाने वाले फल सेब पर हुए शोध में कुछ चौंकाने वाली बातें सामने आई है। सेब खाने से पहले जरूर जानें इसके बारे में-

क्या आप जानते हैं कि 240 ग्राम सेब खाने से करीब 10 करोड़ बैक्टीरिया अंदर जाते हैं। यह अध्ययन ऑस्ट्रिया के ग्रेज यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी में किया गया। जर्नल फ्रंटियर में प्रकाशित अध्ययन में बताया गया है कि ये बैक्टीरिया हानिकारक हैं या नहीं यह इस बात पर र्निभर करता है कि सेब ऑर्गेनिक या पारम्परिक तरीके से उगाया गया है। इसके बीज में करीब एक करोड़ बैक्टीरिया होते हैं। रोग पैदा करने वाले बैक्टीरिया का समूह 'इसचेरिचिया-शिंगेला'परंपरागत सेबों के नमूनों में पाया गया लेकिन जैविक सेबों में नहीं था।
एक्सपर्ट कमेंट : अच्छे बैक्टीरिया की जरूरत होती
बेहतर पाचन क्षमता के लिए अच्छे बैक्टीरिया की जरूरत होती है। इसके लिए फल, सलाद व सब्जी महत्वपूर्ण स्रोत हैं। कई बैक्टीरिया गलत तरीके से उगाने व पकाने के दौरान खत्म हो जाते हैं। अच्छे बैक्टीरिया कई बीमारियों से बचाते हैं। फल जांच-परखकर खरीदें। यह भी देख लें कि फलों पर वैक्सिंग कोटिंग तो नहीं की गई है। इससे भी सेहत को नुकसान होता है।
डॉ. विशाल गुप्ता, एसोसिएट प्रोफेसर, एसएमएस मेडिकल कॉलेज, जयपुर

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned