scriptBlood Sugar को रखें काबू: विशेषज्ञ ने बताए टाइप 2 डायबिटीज के लिए महत्वपूर्ण आहार परिवर्तन | Blood Sugar Control Expert Reveals Key Diet Changes for Type 2 Diabetes | Patrika News
रोग और उपचार

Blood Sugar को रखें काबू: विशेषज्ञ ने बताए टाइप 2 डायबिटीज के लिए महत्वपूर्ण आहार परिवर्तन

Blood Sugar Control: क्रोनिक बीमारियां, जैसे टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 diabetes) या प्रीडायबिटीज, इस बात से संबंधित हैं कि हमारा शरीर ग्लूकोज को कैसे मेटाबोलाइज करता है।

जयपुरJun 14, 2024 / 05:34 pm

Manoj Kumar

type 2 diabetes

type 2 diabetes

क्रोनिक बीमारियां, जैसे टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 diabetes) या प्रीडायबिटीज, इस बात से संबंधित हैं कि हमारा शरीर ग्लूकोज को कैसे मेटाबोलाइज करता है। टाइप 2 मधुमेह को प्रभावी रूप से प्रबंधित करने या प्रीडायबिटीज को टाइप 2 मधुमेह में बदलने से रोकने के लिए, जीवनशैली में महत्वपूर्ण परिवर्तन आवश्यक हैं, खासकर आहार के मामले में।

आहार में महत्वपूर्ण परिवर्तन Significant changes in diet

संतुलित आहार पर ध्यान दें Focus on a balanced diet

नए निदान प्राप्त करने वालों के लिए, यह समझना महत्वपूर्ण है कि कौन से आहार परिवर्तन सबसे अधिक प्रभाव डाल सकते हैं क्योंकि यह आपको अपने रक्त शर्करा (Blood Sugar) को नियंत्रित करने, वजन प्रबंधन और हृदय रोग के जोखिम कारकों को नियंत्रित करने में मदद करता है। इनमें उच्च रक्तचाप (High blood pressure) और उच्च रक्त वसा शामिल हैं।
Carbohydrate Intake
Carbohydrate Intake

कार्बोहाइड्रेट सेवन पर नज़र रखें Keep a check on carbohydrate intake

आपके द्वारा उपभोग किए जाने वाले कार्बोहाइड्रेट के प्रकार और मात्रा पर ध्यान दें। जटिल कार्बोहाइड्रेट पर ध्यान केंद्रित करें जैसे कि साबुत अनाज, दालें और सब्जियां, जिनका ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है और जो अधिक स्थायी ऊर्जा प्रदान करते हैं

वसा का प्रकार महत्वपूर्ण है The type of fat is important

अमेरिकन डायबिटीज़ एसोसिएशन (ADA) के अनुसार, आपके द्वारा उपभोग किए जाने वाले वसा का प्रकार कुल वसा की मात्रा से अधिक महत्वपूर्ण है। अस्वास्थ्यकर वसा से बचें और स्वस्थ वसा का सेवन करें जैसे कि ओमेगा-3 फैटी एसिड, जो मछली, अखरोट और अलसी के बीज में पाया जाता है ।

संयमित आहार A balanced diet

अधिक वसा और कार्बोहाइड्रेट का सेवन आपके रक्त शर्करा (Blood Sugar) के स्तर को बढ़ा सकता है। अगर यह उच्च स्तर लंबे समय तक बना रहता है, तो इससे तंत्रिकाओं और अंगों, जैसे कि गुर्दे और हृदय को नुकसान हो सकता है।

उच्च रक्त शर्करा स्तर से संबंधित समस्याएं Problems related to high blood sugar levels

उच्च रक्त शर्करा (Blood Sugar) के स्तर को नियंत्रित नहीं करने पर हाइपरग्लाइसेमिया जैसी समस्याएं हो सकती हैं। अगर यह उच्च स्तर लंबे समय तक बना रहता है, तो यह दीर्घकालिक प्रभावों को जन्म दे सकता है जैसे कि तंत्रिकाओं और अंगों, जैसे कि गुर्दे और हृदय को नुकसान।
Whole Foods
Whole Foods

साबुत खाद्य पदार्थों पर ध्यान दें Focus on whole foods

फल और सब्जियां Fruits and vegetables
विभिन्न रंगों और प्रकारों के फलों और सब्जियों को अपने आहार में शामिल करें, जिसमें बिना स्टार्च वाली सब्जियां शामिल हों, जैसे पत्तेदार साग, ब्रोकोली, और शिमला मिर्च।
साबुत अनाज Whole grains
साबुत अनाज उत्पादों का अधिक सेवन करें जैसे कि ब्राउन राइस, क्विनोआ, ओट्स, और साबुत अनाज उत्पादों को परिष्कृत अनाज की तुलना में प्राथमिकता दें।

लीन प्रोटीन Lean proteins
अपने आहार में लीन मांस, मछली, अंडे, बीन्स, और दालें शामिल करें। हालांकि, पौधों से प्राप्त प्रोटीन अधिक फायदेमंद होते हैं क्योंकि इनमें अधिक फाइबर होता है।
Carbohydrate Intake
Carbohydrate Intake

कार्बोहाइड्रेट सेवन

कार्बोहाइड्रेट सीधे रक्त शर्करा (Blood Sugar) के स्तर को प्रभावित करते हैं, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि आप उपभोग किए जाने वाले कार्बोहाइड्रेट की मात्रा और गुणवत्ता दोनों का प्रबंधन करें।
कार्ब काउंटिंग
कार्बोहाइड्रेट काउंटिंग का उपयोग करना समझें, क्योंकि यह आपके रक्त शर्करा (Blood Sugar) के स्तर को प्रबंधित करने में मदद करता है और यह पता लगाने में सहायक होता है कि विभिन्न खाद्य पदार्थ आपके रक्त ग्लूकोज को कैसे प्रभावित करते हैं।
जटिल कार्बोहाइड्रेट चुनें
जटिल कार्बोहाइड्रेट का चयन करें, जिनका ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है और जो धीरे-धीरे पचते हैं, जिससे अधिक ऊर्जा मिलती है।

सिंपल कार्बोहाइड्रेट सीमित करें
मीठे स्नैक्स, सोडा और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों में पाए जाने वाले सिंपल कार्बोहाइड्रेट का सेवन कम करें।
डिसक्लेमरः इस लेख में दी गई जानकारी का उद्देश्य केवल रोगों और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के प्रति जागरूकता लाना है। यह किसी क्वालीफाइड मेडिकल ऑपिनियन का विकल्प नहीं है। इसलिए पाठकों को सलाह दी जाती है कि वह कोई भी दवा, उपचार या नुस्खे को अपनी मर्जी से ना आजमाएं बल्कि इस बारे में उस चिकित्सा पैथी से संबंधित एक्सपर्ट या डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें।

Hindi News/ Health / Disease and Conditions / Blood Sugar को रखें काबू: विशेषज्ञ ने बताए टाइप 2 डायबिटीज के लिए महत्वपूर्ण आहार परिवर्तन

ट्रेंडिंग वीडियो