अपने पीछे करोड़ों रुपए की संपत्ति छोड़ गए केशुभाई पटेल, पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम किया था निवेश

  • जानकारी के अनुसार उनके पास 5 से 10 करोड़ रुपए तक की है संपत्ति
  • पोस्ट ऑफिस की सीनीयर सिटीजन स्कीम में 15 लाख का था निवेश
  • लाखों रुपए की एग्रीकल्चर लैंड के अलावा कमर्शियल बिल्डिंग भी

By: Saurabh Sharma

Updated: 29 Oct 2020, 01:55 PM IST

नई दिल्ली। देश के पुराने पॉलिटिकल लीडर्स में से एक और गुजरात में बीजेपी की नींव डालने वाले बड़े केशुभाई पटेल ( Keshubhai Patel ) आज दुनिया छोड़कर चले गए हैं। उन्होंने अपना आखिरी चुनाव 2012 में गुजरात विधानसभा का लड़ा था। अगर उनकी संपत्ति की बात करें तो उस चुनाव में चुनाव आयोग को दिए अपने एफिडेविट से पता चल सकता है। जानकारी के अनुसार केशुभाई पटेल की संपत्ति ( Keshubhai Patel Property ) में इजाफा अचल संपत्ति की कीमतों में बढ़ोतरी से हुआ है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर 2012 के हिसाब से उनकी संपत्ति थी और अब उनके पास अनुमानित कितनी संपत्ति हो गई थी।

keshubhai_patel.jpg

बैंक खातों में थे एक करोड़ रुपए से ज्यादा
अगर बात बैंक खातों की करें तो 2012 के हिसाब से एक करोड़ रुपए से ज्यादा रुपए थे। एफिडेविट में दी गई जानकारी के अनुसार केशुभाई पटेल के पास कुल 12 बैंक खाते थे, जिनमें 1,11,52,159 रुपए थे। जबकि 95 लाख रुपए के आसपास कैश जमा था। उन्होंने प्राइवेट कंपनियों के बांड और शेयरों में भी निवेश किया हुआ था। जिसकी कीमत 34,14,320 रुपए थी। मौजूदा समय में इनकी कीमत और संख्या में कमी भी देखने को मिल सकती है। बीते 10 साल में बांड और शेयरों में अच्छा खासा रिटर्न भी देखने को मिला है।

post_office.jpg

पोस्ट ऑफिस की स्कीम में किया हुआ था निवेश
केशुभाई पटेल ने बांड और शेयरों के अलावा सरकारी स्कीम में भी निवेश किया हुआ था। 2012 के एफिडेविट के अनुसार उन्होंने 2005 में पोस्ट ऑफिस की सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में 15 लाख रुपए का निवेश किया हुआ था। किसी सरकारी स्कीम में इतनी मोटी रकम किसी भी पॉलिटिशियन द्वारा कम ही देखने को मिलती है। मुमकिन है कि उनके दौर के किसी भी नेता द्वारा पोस्ट ऑफिस की स्कीम में इतनी मोटी रकम ना निवेश की हो।

keshubhai_sanjay_20160208_350_630.jpg

लाखों रुपए की अचल संपत्ति
वहीं बात अचल संपत्ति की करें तो वो भी कम नहीं थी। एफिडेविट के अनुसार उनके नाम पर राजकोट में 30 लाख रुपए की एग्रीकल्चर लैंड थी, जिसकी कीमत मौजूदा समय में बढ़ चुकी होगी। वहीं अहमदाबाद हाईकोर्ट के सामने उनके पास कमर्शियल स्पेस भी था, जिसकी कीमत 44 लाख रुपए थी, जिसकी कीमत में भी मौजूदा समय में बढ़ चुका होगा। वहीं उनके नाम पर गांधी नगर में आवास भी जिसकी कीमत 22 लाख रुपए था, जिसकी कीमत भी बढ़ चुकी होगी। जानकारों की मानें तो अचल संपत्ति में इजाफा होने के कारण उनके पास कुल संपत्ति 5 करोड़ रुपए के आसपास हो सकती है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned