CBSE: 3000 स्कूल्स में होगी बोर्ड कॉपियों की जांच, ऐसे होगा मूल्यांकन

सीबीएसई बोर्ड की दसवीं, बारहवीं की कॉपियों के मूल्यांकन के लिए देश में 3 हजार स्कूलों का चयन किया गया है। गृह मंत्रालय के निर्देशों के बाद इनमें मूल्यांकन कराया जाएगा।

By: सुनील शर्मा

Published: 10 May 2020, 07:44 AM IST

सीबीएसई बोर्ड की दसवीं, बारहवीं की कॉपियों के मूल्यांकन के लिए देश में 3 हजार स्कूलों का चयन किया गया है। गृह मंत्रालय के निर्देशों के बाद इनमें मूल्यांकन कराया जाएगा।

CBSE बोर्ड पहले से आठवीं और नवीं तथा ग्यारहवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को अगली कक्षाओं में प्रमोट करने के आदेश पहले ही जारी कर चुका है। बाहरवीं के जिन 29 विषयों और दिल्ली रीजन में दसवीं में बकाया विषयों के पेपर्स की परीक्षा एक से 15 जुलाई के मध्य होगी। केन्द्रीय गृह विभाग के संयुक्त सचिव संजीव कुमार जिंदल ने बताया कि विद्यार्थियों की कॉपियों की जांच 20 मार्च से अटकी है। लॉक डाउन के कारण केन्द्रीयकृत मूल्यांकन मुश्किल हो रहा है। इसको देखते हुए 3 हजार स्कूल का चयन किया गया है। यह रेड, ग्रीन तथा ऑरेन्ज जोन में हैं। केन्द्र और राज्य सरकार के निर्देशानुसार इन स्कूल में CBSE की कॉपियों का मूल्यांकन होगा।

आवश्यकता पड़ने पर CBSE कॉपियों को शिक्षकों के घरों तक भी भेज सकेंगे। अन्य स्कूल लॉकडाउन के चलते बंद रहेंगे। जुलाई में होने वाली बारहवीं की परीक्षाओं का टाइम टेबल जल्दी जारी होगा। बोर्ड अधिकारी परीक्षा केन्द्रों की उपलब्धता, पर्याप्त स्टाफ और अन्य बिंदुओं पर विचार विमर्श करने में जुटे हैं।

सुनील शर्मा Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned