Govt Jobs में पूछे जाते हैं ये प्रश्न, जानिए इनके उत्तर

इन दिनों गवर्नमेंट जॉब्स पाने के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं में उत्तीर्ण होना होता है। इन प्रतियोगी परीक्षाओं में जनरल नॉलेज, अंग्रेजी, मैथेमेटिक्स, रीजनिंग, इतिहास एवं अन्य समसामयिक विषयों से जुड़े प्रश्न पूछे जाते हैं।

By: सुनील शर्मा

Published: 09 Aug 2020, 04:00 PM IST

इन दिनों गवर्नमेंट जॉब्स पाने के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं में उत्तीर्ण होना होता है। इन प्रतियोगी परीक्षाओं में जनरल नॉलेज, अंग्रेजी, मैथेमेटिक्स, रीजनिंग, इतिहास एवं अन्य समसामयिक विषयों से जुड़े प्रश्न पूछे जाते हैं। इन प्रश्नों को समझ कर, उनके उत्तर याद कर आप अपनी प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी अच्छे से कर सकते हैं। सभी प्रश्नों के उत्तर वीडियो के अंत में दिए गए हैं।

प्रश्न (1) - एयर बबल फ्लाइट क्या हैं?
हाल ही खबरें थीं कि भारत ने अमेरिका और फ्रांस समेत कुछ देशों के साथ ‘एयर बबल’ तैयार कर लिए हैं, इससे उन यात्रियों को राहत मिली है, जो कोविड-19 के कारण बाहर के देशों में फंसे हुए हैं। इसका मतलब है कि एयर बबल अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट या ट्रैवल कॉरिडोर हैं, जो दो देशों ने अपने बीच सुरक्षित रास्ते माने हैं। इन्हें न तो नियमित उड़ान कहा जा सकता है और न फंसे हुए लोगों को बाहर निकालने की सेवाएं। ये विशेष परिस्थितियों की सेवाएं हैं। इन कॉरिडोर पर विशेष परिस्थितियों के लिए फ्लाइट संयोजित की जा रही हैं। इस व्यवस्था का नतीजा है कि करीब चार महीने बाद भारत और अमेरिका के बीच अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू हो पाई हैं। जर्मनी और ब्रिटेन के साथ भी ऐसी ही व्यवस्था की जा रही है। इन उड़ानों पर सम्बद्ध देशों के प्रतिबंध फिर भी जारी रहेंगे, जो वर्तमान परिस्थितियों में लगाए गए हैं।

इस व्यवस्था के तहत भारत ने अमेरिकी एयरलाइंस यूनाइटेड को और फ्रांसीसी एयरलाइंस एयरफ्रांस को विशेष उड़ानों की स्वीकृति दी है। यूनाइटेड को 17 से 31 जुलाई के बीच दिल्ली और मुम्बई से अमेरिका के नेवार्क तक के लिए 18 विशेष उड़ानें भरने की मंजूरी दी गई है। इसी तरह एयर फ्रांस के विमान 18 जुलाई से 1 अगस्त के बीच दिल्ली, मुम्बई और बेंगलुरु से पेरिस के लिए उड़ान भरेंगे। भारत और अन्य देशों के बीच विमान सेवाएं 23 मार्च से बंद हैं। इसी प्रकार एयर इंडिया ने ‘वंदे भारत’ नाम से विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए उड़ानें संचालित की थीं।

प्रश्न (2) - क्रिकेट में नेल्सन अंक क्या होता है?
नेल्सन, डबल नेल्सन और ट्रिपल नेल्सन क्रिकेट में 111, 222 और 333 के स्कोर को कहते हैं। यह एक लोक प्रयोग हैं और इसे ब्रिटेन की नौसेना के अठारहवीं सदी के मशहूर एडमिरल लॉर्ड होरेशियो नेल्सन के नाम से जोड़ते हैं। नेल्सन स्कोर के साथ अंधविश्वास है कि इस पर विकेट गिरता है। हालांकि ‘द क्रिकेटर’ नाम की मशहूर मैगजीन ने पुराने स्कोर की पड़ताल की तो इन पर विकेट ज्यादा नहीं गिरे हैं। सबसे ज्यादा विकेट 0 के स्कोर पर गिरते हैं। प्रसिद्ध अम्पायर डेविड शेफर्ड नेल्सन स्कोर पर या तो एक पैर उठा देते थे या तब तक उछलते रहते थे जब तक स्कोर आगे न बढ़ जाए। नेल्सन स्कोर के मुकाबले ऑस्ट्रेलिया में 87 के स्कोर पर काफी खिलाड़ी आउट होते रहे हैं।

Show More
सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned