शिक्षा मंत्री निशंक ने बीआर्क एडमिशन के लिए जरुरी योग्यता में दी बड़ी राहत, पढ़ें पूरी डिटेल्स

B. Arch 2021-22 admissions: सत्र 2021-22 के लिए बीआर्क डिग्री कोर्स में अब पीसीएम व 12वीं एग्रीगेट में न्यूनतम 50 फीसदी अंक होने की शर्त को हटा दिया है।

By: Deovrat Singh

Published: 19 Mar 2021, 04:50 PM IST

B. Arch 2021-22 admissions: : केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने रमेश पोखरियाल निशंक ने सत्र 2021-22 के लिए बीआर्क एडमिशन में पात्रता को लेकर राहत दी है। कोरोना महामारी के चलते निशंक ने पात्रता में राहत की घोषणा की है। निशंक ने ट्वीट करते हुए यह जानकारी दी कि 'कोविड-19 महामारी के कारण अकादमिक सत्र 2021-22 के लिए बीआर्क डिग्री कोर्स में अब पीसीएम व 12वीं एग्रीगेट में न्यूनतम 50 फीसदी अंक होने की शर्त को हटा दिया है। अब पीसीएम विषयों के साथ 12वीं में पास होने के साथ ही 10+3 डिप्लोमा पात्रता रखी गई है।


नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने फरवरी सत्र के जेईई मेन पेपर-2 का रिजल्ट jeemain.nta.nic.in पर कल गुरुवार को जारी कर दिया था। बीआर्क व बीप्लानिंग कोर्स में एडमिशन के लिए यह यह जेईई पेपर-2 आयोजित किया जाता है। बीआर्क पेपर में जोसयुला वेंकट आदित्या और बी प्लानिंग में जाधव आदित्या सुनिल ने 100 परसेंटाइल हासिल किए हैं। पेपर-2 परीक्षाएं 23 फरवरी 2021 को आयोजित की गई थी। इस बार जेईई मेन परीक्षा 13 भाषाओं में आयोजित की गई है।

यह छूट विद्यार्थियों को 12वीं कक्षा में न्यूनतम प्राप्त अंकों के मामले में दी गई है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक ने पूर्व में भी यह जानकारी दी थी कि 'जिन विद्यार्थियों ने 12वीं की परीक्षा पीसीएम के साथ पास की है या 10+3 स्कीम में मैथ्स के साथ कोई डिप्लोमा किया है, वे सभी सत्र 2020-21 में बीआर्क डिग्री कोर्सेस में प्रवेश के पात्र हैं। कोरोना संक्रमण के चलते कुछ विद्यालय बोर्ड्स परीक्षाएं समय से पूरी नहीं करा पाए। कहीं पर सभी परीक्षाओं के बाद तो कहीं पर इंटरनल असेसमेंट के आधार पर परिणाम तैयार किए गए थे। ऐसे में सभी स्टूडेंट्स को अवसर देने फैसला किया गया है।

आपको बता दें कि पहले केंद्रीय मंत्री ने आईआईटी, एनआईटी व अन्य केंद्रीय सहायता प्राप्त इंजीनियरिंग संस्थानों में प्रवेश के लिए भी 12वीं के न्यूनतम अंकों की अनिवार्यता को हटा दिया था।


एडमिशन की ये होगी प्रक्रिया
इस शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए जेईई मेन 2021 पेपर-2 और नेशनल एप्टीट्यूड टेस्ट फॉर आर्किटेक्चर में प्राप्त स्कोर के आधार पर प्रवेश दिए जाएंगे।

Deovrat Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned