मास क्यूनिकेशन में बनाएं कॅरियर और हर महीने कमाएं लाखों की तनख्वाह

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन, नई दिल्ली ने अपने विभिन्न पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्सेज के लिए इच्छुक व योग्य आवेदकों से आवेदन मंगवाए हैं।

By: सुनील शर्मा

Published: 01 May 2018, 01:21 PM IST

देश के प्रसिद्ध जन संचार संस्थान, आईआईएमसी (इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन), नई दिल्ली ने अपने विभिन्न पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्सेज के लिए इच्छुक व योग्य आवेदकों से आवेदन मंगवाए हैं। संस्थान में जर्नलिज्म (हिंदी, इंग्लिश, उर्दू, उडिय़ा, मराठी और मलयालम), एडवर्टाइजिंग एंड पŽब्लिक रिलेशंस, रेडियो एंड टेलीविजन में पीजी डिप्लोमा कराया जाता है। इन सभी कोर्सेज में एडमिशन के लिए आवेदकों को एंट्रेंस टेस्ट, ग्रुप डिस्कशन और पर्सनल इंटरव्यू पास करना होता है। संस्थान के इन कोर्सेज में एडमिशन के इच्छुक आवेदक 1 मई 2018 तक आवेदन फॉर्म जमा करवा सकते हैं।

यह है योग्यता
संस्थान के सभी पीजी डिप्लोमा कोर्सेज में दाखिला लेने के लिए जरूरी है कि आवेदकों के पास किसी भी विषय में बैचलर्स डिग्री हो। बैचलर्स डिग्री के अंतिम वर्ष की परीक्षाओं में बैठने जा रहे या बैठ चुके आवेदक भी आवेदन कर सकते हैं। हालांकि, उन्हें 31 अगस्त 2018 तक सभी जरूरी दस्तावेज जमा कराने होंगे। संस्थान की ओर से आयु सीमा भी तय की गई है। जनरल कैटेगिरी के जो आवेदक 1 अगस्त 1993 या उसके बाद जन्मे हैं, एससी/ एसटी/ पीएच कैटेगिरी के जो आवेदक 1 अगस्त 1988 या उसके बाद जन्मे हैं और ओबीसी कैटेगिरी के जो आवेदक 1 अगस्त 1990 के बाद जन्मे हैं, वे सभी प्रवेश के लिए योग्य हैं।

कितनी हैं सीट्स
नई दिल्ली स्थित आईआईएमसी कैंपस के हिंदी जर्नलिज्म कोर्स में 62 सीट्स, इंग्लिश जर्नलिज्म कोर्स में 62 सीट्स, रेडियो एंड टीवी जर्नलिज्म कोर्स में 46 सीट्स, एडवर्टाइजिंग एंड पीआर कोर्स में 70 सीट्स और उर्दू जर्नलिज्म कोर्स में 15 सीट्स हैं जिन पर एडमिशन लिए जाएंगे। ढेंकनाल स्थित आईआईएमसी में इंग्लिश जर्नलिज्म में 62 सीट्स और उडिय़ा जर्नलिज्म में 23 सीट्स हैं। अमरावती स्थित आईआईएमसी में इंग्लिश जर्नलिज्म में 15 और मराठी जर्नलिज्म में भी 15 सीट्स हैं। कोट्टायम स्थित आईआईएमसी में इंग्लिश जर्नलिज्म में 15 और मलयालम जर्नलिज्म में भी 15 सीट्स हैं। आइजवाल और जम्मू स्थित आईआईएमसी में इंग्लिश जर्नलिज्म में 15-15 सीट्स हैं।

कैसे होगा चयन
योग्य आवेदकों को लिखित एंट्रेंस एग्जामिनेशन के लिए बुलाया जाएगा। परीक्षा नई दिल्ली, अहमदाबाद, आइजवाल, अमरावती, बंगलुरु, भोपाल, चेन्नई, देहरादून, ढेंकनाल, गुवाहाटी, ज्मू, हैदराबाद, कोलकाता, कोट्टायम, लखनऊ, मुंबई, पटना, रांची, रायपुर और श्रीनगर में होगी। उर्दू जर्नलिज्म की परीक्षा नई दिल्ली, भोपाल, श्रीनगर, जम्मू, हैदराबाद, लखनऊ, मुंबई और पटना में होगी। वहीं उडिय़ा, मराठी और मलयालम जर्नलिज्म के लिए परीक्षाएं क्रमश:
ढेंकनाल, मुंबई एवं अमरावती और कोट्टायम में होंगी। इसके बाद उन्हें इंटरव्यू/ग्रुप डिस्कशन के लिए बुलाया जाएगा।

जरूरी तारीखें
1 मई 2018 तक आवेदन फॉर्म भरकर जमा करवा सकते हैं पीजी डिप्लोमा कोर्सेज में एडमिशन के इच्छुक आवेदक।
२६ मई 2018 को करवाया जाएगा उर्दू, उडिय़ा, मराठी और मलयालम जर्नलिज्म के लिए लिखित एंट्रेंस एग्जाम का आयोजन।
२७ मई 2018 को आयोजित होगा बाकी सभी कोर्सेज के लिए लिखित एंट्रेंस एग्जाम।
जून 2018 के दूसरे या तीसरे हफ्ते में लिखित परीक्षा के परिणामों की घोषणा की जाएगी।
जून 2018 के अंतिम हफ्ते या जुलाई 2018 के पहले हफ्ते में इंटरव्यू होंगे।
जुलाई 2018 के दूसरे या तीसरे हफ्ते में अंतिम चयन की घोषणा की जाएगी।
जुलाई 2018 के अंतिम हफ्ते या अगस्त 2018 के पहले हफ्ते से शैक्षणिक सत्र की शुरुआत होगी।

कैसे करें आवेदन
पी जी डिप्लोमा कोर्सेज में एडमिशन के इच्छुक आवेदक संस्थान की वेबसाइट http://www.iimc.nic.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भर सकते हैं या फॉर्म डाउनलोड कर उसे अपनी हैंडराइटिंग में भरकर संस्थान को भेज सकते हैं। जनरल कैटेगिरी के आवेदकों को 1500 रुपए और एससी/ एसटी/ ओबीसी/ पीएच कैटेगिरी के आवेदकों को 1000 रुपए बतौर एप्लीकेशन फीस देने होंगे। यह फीस ऑनलाइन जमा कराई जा सकती है।

लिखित एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर शॉर्टलिस्ट किए गए आवेदकों को इंटरव्यू और ग्रुप डिस्कशन के लिए बुलाया जाएगा। लिखित परीक्षा औरइंटरव्यू या ग्रुप डिस्कशन के आधार पर अंतिम चयन किया जाएगा।

सुनील शर्मा Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned