UP School Reopening 2020: आज से खुल रहे हैं 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए स्कूल, पढ़ें जरुरी निर्देश

UP School Reopening 2020: उत्तर प्रदेश में राजकीय और निजी विद्यालय आज से खोले जा रहे हैं। कक्षाओं की शुरुआत सिर्फ 9वीं से लेकर 12वीं तक के छात्र-छात्राओं के लिए ही की जा रही है।

By: Deovrat Singh

Updated: 19 Oct 2020, 09:44 AM IST

UP School Reopening 2020: उत्तर प्रदेश में राजकीय और निजी विद्यालय आज से खोले जा रहे हैं। कक्षाओं की शुरुआत सिर्फ 9वीं से लेकर 12वीं तक के छात्र-छात्राओं के लिए ही की जा रही है। साथ ही, स्कूल दो शिफ्टों में सुबह 8.50 से 11.50 बजे तक और फिर दोपहर 12.20 से 3.20 बजे तक खोले जाएंगे। राज्य सरकार द्वारा स्कूलों को खोले जाने के लिए कोविड-19 महामारी के मद्देनजर आवश्यक दिशा-निर्देश और स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) पहले ही जारी किये जा चुके हैं। इन सभी नियमों का पालन करना स्कूलों, टीचिंग और नॉन-टीचिंग स्टाफ साथ-साथ सभी छात्र-छात्राओं के लिए अनिवार्य है। इन नियमों में सामाजिक दूरी का पालन जैसे बच्चों को स्कूल भेजने के लिए पैरेंट्स की लिखित सहमति आदि शामिल हैं। आइए नजर डालते हैं मुख्य नियमों पर जिनका पालन जरूरी है।

जरुरी दिशा-निर्देश

सभी छात्र-छात्राओं, टीचिंग, नॉन-टीचिंग स्टाफ को सामाजिक दूरी का पालन करना होगा।
स्कूल में रहने के दौरान हमेशा मास्क/फेस कवर पहने रखना होगा।
सभी छात्र-छात्राओं को पैरेंट्स की लिखित सहमति लेकर जाना होगा।
सभी छात्र-छात्राओं को पूरी आस्तीन की शर्ट या टी-शर्ट, फुल पैंट, जूते-मोजे पहनना होगा।
खांसी-जुकाम के लक्षण होने पर सभी छात्र-छात्राएं, अध्यापक या अन्य स्टाफ स्कूल नहीं जा सकेंगे।
पूरे स्कूल कैंपस के साथ-साथ बच्चों के बैठने और अन्य स्थानों पर सैनिटाइजेशन व साफ-सफाई रखना अनिवार्य होगा।
स्कूल में स्टेशनरी, बुक्स, कॉपियों आदि के आदान-प्रदान पर रोक रहेगी।
स्कूलों के सभी गेट को खोले रखना होगा।
किसी भी कक्षा या सेक्शन के अधिकतम 50 फीसदी छात्र-छात्राओं को ही बुलाना होगा।
स्कूल प्रशासन द्वारा परिसर में सैनिटाइजर व हैंडवाश की व्यवस्था करनी होगी।
गेट पर ही थर्मल स्कैनिंग व प्राथमिक उपचार की व्यवस्था रखनी होगी।
सभी छात्र-छात्राओं को हैंडवाश या सैनिटाइजर से हाथ सैनिटाइज करने के बाद ही स्कूलों जाने दिया जाएगा।
सभी छात्र-छात्राओं की एक साथ छुट्टी नहीं दी जाएगी।
स्कूल बसों और स्कूल से संबद्ध सार्वजनिक वाहनों को भी रोज सैनिटाइज करने के निर्देश दिये गए हैं और इनमें छात्रों को बैठाने में शारीरिक दूरी का पालन करना होगा।

Deovrat Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned