West Bengal Assembly Elections 2021: आज तीसरे चरण की वोटिंग में इन दिग्गजों की किस्मत ईवीएम में होगी बंद

पश्चिम बंगाल में आज तीसरे चरण के लिए वोट डाले जा रहे हैं। यहां 31 सीटों पर वोटिंग हो रही है। इसमें तारकेश्वर सीट भी है, जहां से भाजपा ने स्वपन दासगुप्ता को उम्मीदवार बनाया है।

 

By: Ashutosh Pathak

Published: 06 Apr 2021, 08:55 AM IST

नई दिल्ली।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Elections 2021) में तीसरे चरण की वोटिंग भी महत्वपूर्ण मानी जा रही है। इस चरण में तीन जिलों की कुल 31 विधानसभा सीटों पर वोट डाले जाएंगे, जिसमें तारकेश्वर सीट भी शामिल है। इस सीट से भाजपा ने पूर्व राज्यसभा सांसद और पद्मभूषण से सम्मानित स्वपन दासगुप्ता को उम्मीदवार बनाया है।

विधानसभा की सदस्यता के लिए राज्यसभा से दिया था इस्तीफा
बता दें कि भाजपा ने बंगाल के विधानसभा चुनाव में स्वपनदास गुप्ता को जब प्रत्याशी घोषित किया था, तब इसकी काफी चर्चा हुई थी। विधानसभा का चुनाव लडऩे के लिए स्वपन दासगुप्ता ने राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा भी दे दिया था। तारकेश्वर सीट पर उनका मुकाबला तृणमूल कांग्रेस के रामेंदु सिंह रॉय से है।

यह भी पढ़ें:- ये 7 सीटें जहां ममता बनर्जी के लिए भाजपा ही नहीं संयुक्त मोर्चा ने भी खड़ी कर रखी है मुसीबत

स्वपन के अलावा इन महिला उम्मीदवारों पर भी नजर
इस चरण में कुल 205 उम्मीदवार विभिन्न दलों से मैदान में हैं। इनमें 13 महिला उम्मीदवार भी शामिल हैं। स्वपन दासगुप्ता के अलावा जिन उम्मीदवारों पर आज सबकी नजर है, उनमें तृणमूल कांग्रेस की धानेखली विधानसभा सीट से महिला विधायक आशिमा पात्रा, मगराहाट विधानसभा सीट से तृणमूल कांग्रेस की ही महिला विधायक नमिता साहा और रायदिघी से सीपीआई (एम) के नेता कांति गांगुली शामिल हैं।

भाजपा सांसद की पत्नी तृणमूल कांग्रेस से उम्मीदवार
इस तीसरे चरण में और जो उम्मीदवार चर्चा में रहे, उनमें अरामबाग से तृणमूल कांग्रेस की प्रत्याशी सुजाता मंडल भी शामिल हैं। सुजाता भाजपा सांसद सैमित्र खान की पत्नी है। वहीं, हरिपाल से तृणमूल कांग्रेस की प्रत्याशी कराबी मन्ना, अभिनेत्री से भाजपा नेता बनीं तनुश्री चक्रवर्ती श्यामपुर से अपनी किस्मत आजमा रही हैं। भाजपा के टिकट पर उलुबेरिया से प्रत्याशी पापिया अधिकारी पर भी सबकी निगाहें टिकी हैं।

तीन जिलों की 31 विधानसभा सीटों पर हो रही वोटिंग
भाजपा और तृणमृल कांग्रेस ने इस चरण में हो रही सभी 31 विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे हैं। वहीं, बसपा ने 13, सीपीआई (एम) ने 13, कांग्रेस ने 7, ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक ने दो और एक सीट पर आरएसपी ने उम्मीदवार खड़े किए हैं। इसके अलावा, 39 उम्मीदवार अन्य दूसरे दलों और 68 निर्दलीय उम्मीदवार भी इस बार विधानसभा का चुनाव इस चरण में लड़ रहे हैं। जिन तीन जिलों की 31 विधानसभा सीटों पर आज वोटिंग हो रही है, उनमें दक्षिण 24 परगना की 16 विधानसभा सीट, हुगली में 8 विधानसभा सीट और हावड़ा की 7 विधानसभा सीट शामिल हैं। इस चरण में कुल 78 लाख 52 हजार 425 मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। इसमें 38 लाख 58 हजार 902 महिला मतदाता शामिल हैं।

यह भी पढ़ें:- टीएमसी की प्रत्याशी का वोट को लेकर वायरल हुआ वीडयो, विवाद बढऩे पर पोस्ट किया एक और वीडियो

दस हजार से ज्यादा बूथों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था
बीते दो चरणों में वोटिंग के दौरान हुई हिंसक घटनाओं को देखते हुए इस चरण के सभी 10 हजार 871 मतदान केंद्रों पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। हालांकि, चुनाव आयोग ने सुरक्षा व्यवस्था पिछले दो चरणों में कड़ी की हुई थी, मगर हिंसक घटनाओं की वजह से अशांति फैली। हालांकि, दोनों ही चरणों में वोटिंग का प्रतिशत करीब 80 प्रतिशत तक रहा था।

8 चरणों में वोटिंग, 2 मई को रिजल्ट
बता दें कि पश्चिम बंगाल में कुल 294 विधानसभा सीटों पर चुनाव हो रहे हैं। राज्य में आठ चरणों में वोटिंग होगी। बीते दो चरणों में 60 विधानसभा सीटों पर वोटिंग हो चुकी है। पहले चरण की वोटिंग 27 मार्च को हुई, जबकि दूसरे चरण के लिए 1 अप्रैल को वोट डाले गए। तीसरे चरण के लिए आज यानी 6 अप्रैल को वोट डाले जा रहे हैं। चौथे चरण के लिए 10 अप्रैल को, पांचवे चरण के लिए 17 अप्रैल को, छठें चरण के लिए 22 अप्रैल को, सातवें चरण के लिए 26 अप्रैल को और आठवें चरण के लिए 29 अप्रैल को वोटिंग होगी। नतीजे 2 मई को घोषित होंगे।

Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned