scriptUP Election 2022 Akhilesh Yadav may be contest from Gopalpur Assembly | मुस्लिम-यादव का गठजोड़ के कारण गोपालपुर से लड़ना चाहते हैं अखिलेश | Patrika News

मुस्लिम-यादव का गठजोड़ के कारण गोपालपुर से लड़ना चाहते हैं अखिलेश

विधानसभा चुनाव के इस नए चुनावी कुरूक्षेत्र का नाम है—गोपालपुर। उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ की गोपालपुर विधानसभा अचानक बुधवार को सुर्खियों में आ गई। यूं तो आजमगढ़ में 10 विधानसभा सीट हैं लेकिन इस विधानसभा के खास समीकरण ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को आकर्षित कर लिया है।

लखनऊ

Published: January 19, 2022 01:42:18 pm

सर्दी के कारण उत्तर प्रदेश में गिरते पारे के बीच सियासी गर्मी उबाल मार रही है। नई दिल्ली से पूर्व सीएम अखिलेश यादव को चुनौती मिल रही है, तो लखनऊ से उस सपा उस चुनौती को स्वीकृति दे रही है। इस स्वीकृति ने पूर्वांचल के आजमगढ़ में एक नया कुरूक्षेत्र खड़ा कर दिया है। विधानसभा चुनाव के इस नए चुनावी कुरूक्षेत्र का नाम है—गोपालपुर। उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ की गोपालपुर विधानसभा अचानक बुधवार को सुर्खियों में आ गई। यूं तो आजमगढ़ में 10 विधानसभा सीट हैं लेकिन इस विधानसभा के खास समीकरण ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को आकर्षित कर लिया है। उन्होंने यहीं से चुनाव लड़ने का एलान कर दिया है। इस सीट पर आज तक भाजपा का अपना खाता भी नहीं खुला है। आखिर वह खास समीकरण क्या है। आइए जानते हैं-
UP Election 2022 Akhilesh Yadav may be contest from Gopalpur Assembly
UP Election 2022 Akhilesh Yadav may be contest from Gopalpur Assembly
गोपालपुर है सपा का माई समीकरण

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने यूं ही नहीं गोपालपुर सीट से चुनाव लडऩा चाहते हैं। इस सीट पर सपा का सबसे बेहतरीन वोट बैंक माई काम करता है। इस सीट पर वाई यानी यादव मतदाता 64 हजार हैं। एम यानी मुस्लिम 41 हजार हैं। यही वजह है कि यह सीट सपा का अभेद किला बन जाती है। दलित मतदाता की बात करें तो यह संख्या 51 हजार है। यही वजह है कि सपा को यहां बसपा टक्कर देती है।
यादवों का है वर्चस्व

गोपालपुर सीट पर यादवों को वर्चस्व इतना रहा है कि भाजपा और बसपा भी यादव वर्ग से ही टिकट देती आई हैं। माना जा रहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी इसी माई समीकरण को ध्यान में रखते हुए अपने चुनाव के लिए चयनित किया है। पूर्वांचल के इस इलाके पर लंबे अरसे से एम-वाई (मुस्लिम-यादव) का समीकरण मजबूत रहा है।
यह भी पढ़ें

अपर्णा का जागा राष्ट्रप्रेम, राममंदिर को चंदा, मोदी का जीवन में रहा है प्रभाव, योगी से है गहरा नाता, बिष्ट के अलावा उत्तराखंड मूल की होने से नजदीकियां

हवा के साथ चलते हैं सवर्ण

यादव और मुस्लिम बहुल्य इस सीट पर सवर्ण वोटर रूख के साथ पाला बदलते हैं। ब्राह्मण लगभग 15 हजार, क्षत्रिय 15 हजार, भूमिहार 12 हजार, लाला 03 हजार हैं। वहीं अन्य पिछड़ा वर्ग में राजभर लगभग 24 हजार, मल्लाह 11 हजार, कहार 1500, प्रजापति 10 हजार, चौरसिया 04 हजार, बनिया 23 हजार, चौहान 10 हजार, पासी 10 हजार, सोनकर 07 हजार हैं। इनके अलावा लगभग 17 हजार अन्य जातियां हैं।
यह भी पढ़ें

केशव मौर्य की चुनौती स्वीकार, अखिलेश पहली बार लड़ेंगे विधानसभा चुनाव, आजमगढ के गोपालपुर से ठोकेंगे ताल

पांच में चार है सपा का स्ट्राइक रेट

गोपालपुर विधानसभा क्षेत्र में समाजवादी पार्टी का स्ट्राइक रेट पांच में 4 है। सपा ने इस विधानसभा में 4 बार अपना परचम लहराया और बसपा को एक बार जीत मिली है। 2017 में समाजवादी पार्टी से नफीस अहमद की जीत हुई थी और बसपा से कमला प्रसाद यादव को मिली थी। गठंबधंन के कारण कांग्रेस ने इस सीट पर अपना उम्मीदवार नहीं उतारा था। 2012 में समाजवादी पार्टी के वसीम अहमद को जीत मिली थी। 2007 में बहुजन समाज पार्टी के श्याम नारायण ने जीत दर्ज की थी। इससे पहले 2002 में सपा के वसीम अहमद ने बसपा के के रियाज खान को पटखनी दी थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Mukhtar Abbas Naqvi ने मोदी कैबिनेट से दिया इस्तीफा, बनेंगे देश के नए उपराष्ट्रपति?काली पोस्टर विवाद में घिरीं महुआ मोइत्रा के समर्थन में आए थरूर, कहा- 'हर हिन्दू जानता है देवी के बारे में'यूपी को बड़ी सौगात, काशी को 1800 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात देंगे पीएम Modi, बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का करेंगे लोकार्पणDelhi Shopping Festival: सीएम अरविंद केजरीवाल का बड़ा ऐलान, रोजगार और व्यापार को लेकर अगले साल होगा महोत्सवशिखर धवन बने टीम इंडिया के नए कप्तान, वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम का हुआ ऐलानकौन हैं डॉ. गुरप्रीत कौर, जो बनने जा रही हैं भगवंत मान की दुल्हनिया? सामने आई तस्वीरसलमान के वकील को लॉरेंस गुर्गों की धमकी, मूसेवाला हाल करेंगेDGCA का SpiceJet को कारण बताओ नोटिस, 18 दिनों में 8 बार आई प्लेन में खराबी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.