scriptUP Election 2022 Narrow margins seats of 2017 BJP SP BSP Congress | UP Election 2022: यूपी की वे 47 सीटें जहां 2017 हर पल दिल हो जाता था धक्क, जीत हुई तो नहीं कर पाया कोई यकीन | Patrika News

UP Election 2022: यूपी की वे 47 सीटें जहां 2017 हर पल दिल हो जाता था धक्क, जीत हुई तो नहीं कर पाया कोई यकीन

2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 47 सीटें ऐसी थीं जहाँ जीत का अंतर महज 5000 था। इनमें से बीजेपी ने सबसे अधिक 23 सीटें जीतीं और 15 सीटों में वो दूसरे स्थान पर रही। जबकि समाजवादी पार्टी ने 13 सीटों पर जीत हासिल की जबकि 17 सीटों पर वह उपविजेता रही। इन 47 सीटों में से 8 सीटों पर जीत का अंतर 1,000 वोटों से भी कम था।

लखनऊ

Published: January 24, 2022 04:26:13 pm

UP Election 2022: अगर हम 2017 यूपी विधानसभा चुनाव के नतीजों के विश्लेषण करें तो पाएंगे कि महज 5,000 वोटों का इधर से उधर होना, उत्तर प्रदेश की हर 10वीं सीट का नतीजा बदल सकता है। दरअसल, 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 47 सीटें ऐसी थीं जहाँ जीत का अंतर महज 5000 था। इनमें से बीजेपी ने सबसे अधिक 23 सीटें जीतीं और 15 सीटों में वो दूसरे स्थान पर रही। जबकि समाजवादी पार्टी ने 13 सीटों पर जीत हासिल की जबकि 17 सीटों पर वह उपविजेता रही। वहीं बसपा ने 8 सीटों पर जीत हासिल की तो कांग्रेस, राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) और अपना दल (सोनीलाल) को एक-एक सीट मिला। इन 47 सीटों में से 8 सीटों पर जीत का अंतर 1,000 वोटों से भी कम था।
UP Election 2022: यूपी की वे 47 सीटें जहां 2017 हर पल दिल हो जाता था धक्क
UP Election 2022: यूपी की वे 47 सीटें जहां 2017 हर पल दिल हो जाता था धक्क
इनमें से, भाजपा ने 5 (डूमरियागंज, मीरापुर, श्रावस्ती, मुहम्मदाबाद-गोहना (एससी) और रामपुर मनिहारन) जीती। जबकि बसपा ने 2 (मांट और मुबारकपुर) और समाजवादी पार्टी ने मात्र एक मोहनलालगंज की सीट पर जीत दर्ज की। सबसे कम मार्जिन से जीत दर्ज करने वाले विधायक थे भाजपा के राघवेंद्र प्रताप सिंह। जिन्होंने डुमरियागंज की सीट पर बसपा की सैय्यदा खातून को महज 171 मतों से हराकर जीत दर्ज की।
यह भी पढ़ें

बुन्देलखण्ड का सियासी समीकरण, क्या बीजेपी की जड़ों को हिला सकेंगे सपा-बसपा और कांग्रेस

दूसरा सबसे कम अंतर मीरापुर में दर्ज किया गया। यह सीट भी बीजेपी के ही कब्जे में रही। यहां बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले अवतार सिंह भड़ाना ने सपा उम्मीदवार लियाकत अली को 193 मतों से हराया। हालांकि इस बार के चुनाव में भड़ाना बीजेपी छोड़कर रालोद में शामिल हो चुके हैं।
एक हजार से दो हजार के बीच जीत के अंतर वाली सीटें

इसके अलावा यूपी की तकरीबन नौ सीटें ऐसी थीं जहां जीत का अंतर 1000 से 2000 के बीच था। ये सीटें हैं दुद्धी, भदोही, पट्टी, मटेरा, बांसडीह, टांडा, महमूदाबाद, ऊंचाहार और भरथना।
यह भी पढ़ें

2017 के मुकाबले 2022 में करीब दोगुनी हुईं संवेदनशील सीटों की संख्या

दो हजार से तीन हजार के बीच जीत के अंतर वाली सीटें

10 सीटें ऐसी थीं जहां जीत का अंतर 2000 से 3000 के बीज रहा। ये सीटे हैं नजीबाबाद, लालगंज, गैंसरी, कांठ, फरेंदा, बदलापुर, कन्नौज, अतरौलिया, सिधौली और प्रतापपुर।
तीन हजार से चार हजार के बीच जीत के अंतर वाली सीटें

वहीं 12 सीटें ऐसी थीं जहाँ जीत का अंतर 3000 से 4000 के बीच था। ये सीटे हैं मुरादाबाद नगर, जंगीपुर, धौरहरा, चिल्लूपार, आंवला, धौलाना, दीदारगंज, हरचंदपुर, महोली, पटियाली, छपरौली और बिधूना।
यह भी पढ़ें

हस्तिनापुर सीट का चुनावी समीकरण, जिस दल का विधायक, उसी की बनी सरकार

चार हजार से पाँच हजार के बीच जीत के अंतर वाली सीटें

कुल 8 सीटें ऐसी थीं जहां जीत का अंतर 4000 से 5000 के बीच था। ये सीटे हैं नकुड़, मंझनपुर, मछलीशहर, इसौली, शाहाबाद, सहसवां, गोरखपुर ग्रामीण और सहारनपुर नगर।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Jammu-Kashmir: पहलगाम में 39 ITBP जवानों ले जा रही बस खाई में गिरी, 6 जवान शहीद, अमित शाह ने जताया दुखBihar Cabinet: बिहार सरकार में 'बड़े भाई' की भूमिका में राजद, तेज प्रताप सहित ये 16 विधायक बने मंत्री, ये रही नीतीश कुमार की पूरी टीमKejriwal Press Conference: केजरीवाल ने बताया कैसे बनेगा देश का हर गरीब अमीर, इन 4 बड़े कामों पर दिया जोरदलित वोट छिटकने का डर: डैमेज कंट्रोल में जुटे सत्ता-संगठन, आधा दर्जन मंत्रियों ने जालोर में डेरा डालाकौन होगा बिहार का नेता प्रतिपक्ष: जेपी नड्डा की मौजूदगी में दिल्ली में बैठक, इन मुद्दों पर भी होगी चर्चाFIFA ने भारतीय फुटबॉल महासंघ को किया सस्पेंड; महिला वर्ल्ड कप की मेजबानी भी छीनीमहागठबंधन सरकार बनते आनंद मोहन को मिली आजादी, पटना में परिजनों से मिले, जेल के बदले सर्किट हाउस में बिताई रातसीएम गहलोत का आज से तीन दिवसीय गुजरात दौरा, चुनावी तैयारियों पर पार्टी नेताओं के साथ होगा संवाद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.