कठुआ के बाद एटा में आठ साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या, विधायक ने लगाया दस लाख का मरहम

suchita mishra

Publish: Apr, 17 2018 04:15:07 PM (IST)

Etah, Uttar Pradesh, India
कठुआ के बाद एटा में आठ साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या, विधायक ने लगाया दस लाख का मरहम

परिवार के साथ शादी समारोह में शामिल होने गई थी बच्ची, इसी बीच एक युवक उसे उठाकर ले गया और वारदात को अंजाम दिया।

एटा। कठुआ में आठ साल की मासूम के साथ हुई दरिंदगी का मामला अभी शांत भी नहीं हो पाया था कि एटा में भी एक आठ साल की बच्ची के साथ रेप कर उसकी हत्या कर दी गई। बीती रात मासूम अपने परिवार के साथ एक शादी समारोह में शामिल होने गई, उसी दौरान ये हादसा हुआ। बच्ची के साथ रेप के बाद हत्या की घटना से नाराज लोगों ने एटा अलीगंज रोड विकास भवन पर जाम लगा दिया और सरकार विरोधी नारे लगाए। इस दौरान उन लोगों ने आरोपी को सौंपे जाने की मांग की।

डीएम, एसएसपी व विधायक पहुंचे
मामला बिगड़ता देख शासन और प्रशासन के भी हाथ पांव फूल गए। आनन फानन में भारी फोर्स के साथ डीएम अमित किशोर व एसएसपी अखिलेश चौरसिया मौके पर पहुंच गए। साथ ही सदर विधायक विपिन वर्मा डेविड की पत्नी तथा मारहरा विधायक वीरेंद्र वर्मा भी मौके पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया।

दस लाख रुपए की सहायता राशि
डीएम, एसएसपी और विधायक ने पीड़ित परिवार को काफी समझाने का प्रयास किया। लेकिन उनके समझाने के बाद भी लोगों ने जाम नहीं खोला। हालात बेकाबू होते देख शासन द्वारा मृतका के परिवार को दस लाख रुपये की सहायता राशि देने घोषणा की गई। साथ ही एसएसपी अखिलेश चौरसिया ने आरोपी पर संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर सख्त कार्रवाई करने की बात कही। उसके बाद कहीं जाकर लोग मानने को तैयार हुए।

ये था मामला
बीती रात एटा कोतवाली नगर के गांव शीतलपुर में विनय नामक के व्यक्ति की बहन की शादी में पड़ोस के ही रामसेवक अपने पूरे परिवार के साथ शामिल हुए थे। इसी बीच शादी में टैंट का काम करने वाले एक युवक सोनू जाटव आठ साल की बच्ची को उठाकर पास के ही खाली पड़े निर्माणाधीन मकान में ले गया। वहां उसने बच्ची का रेप किया व सबूत मिटाने के लिए उसकी हत्या कर दी। जब परिजनों ने बच्ची को गायब देखा तो उसे खोजने में लग गए। उसी दौरान मकान से चीखने की आवाज आई। पास जाकर देखा तो पाया कि दरिंदा सोनू मासूम का गला दबा रहा है। पिता ने उसे परिजनों की मदद से मौके से ही पकड़ लिया और पुलिस को सौंप दिया। मासूम को परिजन जिला अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टर उसे मृत घोषित कर दिया। वैशाली को डाक्टरों द्वारा मृत घोषित करते ही परिवार में कोहराम मच गया और आक्रोशित लोगों ने एटा अलीगंज रोड विकास भवन पर जाम लगाकर सरकार विरोधी नारे लगाए।

 

Ad Block is Banned