script2 innocent children separated mother Father death etawah police god | पिता की मौत, माँ से बिछड़ गए 2 मासूम बच्चे, इनकी कहानी सुनकर पुलिस भी रो पड़ी.. | Patrika News

पिता की मौत, माँ से बिछड़ गए 2 मासूम बच्चे, इनकी कहानी सुनकर पुलिस भी रो पड़ी..

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में पिता की मौत और मॉ की जुदाई से बैचेन दो मासूमो बच्चों के लिए पुलिस भगवान बनकर सामने आई है। जो उन्हें भटकने से रोककर अब उनकी देखरेख कर रही है। इन दर्द भरे बच्चो की कहानी जिसने भी सुनी बस आँखें भर आई।

 

इटावा

Updated: June 17, 2022 07:05:46 pm

दिनेश शाक्य
उत्तर प्रदेश में पुलिस की भूमिका हमेशा सवालो के घेरे मे रहती है लेकिन कभी कभी पुलिस ऐसा काम करती है जो कही ना कही पुलिस के काम काज की हर ओर तारीफ ही तारीफ होती है । ऐसा ही कुछ पिता की मौत और मॉ की जुदाई से अनाथ हुए दो मासूम भाईयो के लिए भी हुआ जब इटावा पुलिस मददगारी भूमिका बन कर सामने आई है ।
Etawah Police with two child as Helping Hands
Etawah Police with two child as Helping Hands
मार्मिकता की कहानी बयान करने वाला यह वाक्या इटावा जिले के बसरेहर इलाके के अमृतपुर गांव का है जहॉ पर एक सख्श की 6 माह पहले मौत के बाद मॉ भी दोनो बच्चो को छोड कर चली गई । दोनो मासूम बच्चे पिता के गम और मॉ की जुदाई मे भटकते हुए किसी तरह से बसरहेर पुलिस थाने जा पहुचे । दरअसल बसरेहर पुलिस थाने मे यह दोनो भाई बिना कपडो के ही पहुंचे थे इसलिए आन डयूटी सब इंस्पेक्टर नीरज शर्मा ने दोनो मासूमों को पहले तो खाना खिलाया उसके बाद में उन्हें नए वस्त्र दिलवाकर उनकी मां से उन्हें जल्द मिलवाने का भरोसा दिया।
इटावा के बसरेहर इलाके के अमृतरपुर गांव के रहने वाले सफीक मोहम्मद की छह महीने पहले मृत्यु हो गई थी। जिसके बाद उसके दोनों पुत्रों दस वर्षीय साहिल व आठ वर्षीय सोहिल की देखरेख उनकी मां रबीना बेगम कर रही थी लेकिन चार दिन पहले अचानक से रबीना दोनों बच्चों को घर पर छोड़कर कहीं चली गई। चार दिन से परेशान दोनों मासूम बच्चे मां के इंतजार में भूख प्यास से अपने घर पर इंतजार करते रहे लेकिन उनकी मां वापस घर नहीं लौटी । इस दौरान परिवार के लोगों ने दोनों बच्चों की कोई देखरेख नहीं की । इस पर दोनों बच्चे साहिल व सोहिल अपनी बुआ हसीना बेगम के साथ रोते-बिलखते हुए सुबह थाने पहुंचे। जहां वरिष्ठ उपनिरीक्षक नीरज शर्मा के सामने जब दोनों बच्चों ने रोते हुए अपनी मां को वापस घर लाने की बात कही तो वरिष्ठ उपनिरीक्षक का दिल पसीज गया। उन्होंने दोनों बच्चों की हालत को देखते हुए पहले तो दोनों बच्चों को अपने हमराहियों से खाना मंगवाकर खाना खिलाया और फिर बाद में दोनों को साथ बाजार ले जाकर उन्हें नए कपडे व जूते दिलवाए। वरिष्ठ उपनिरीक्षक नीरज शर्मा ने दोनों बच्चों को जल्द उनकी मां से मिलाने का भरोसा भी दिलाया। इस पर दोनों बच्चों के चेहरे पर मुस्कान लौट आयी।
यह भी पढे: यूपी के ऐतिहासिक तालाब में लाखों मछलियों की मौत, केमिकल की जांच शुरू

इटावा के एसएसपी जयप्रकाश सिंह बताते है कि बसरेहर पुलिस के पास दो मासूम भाई रोते बिलखते हुए पहुचे जहॉ पर ऑन डयूटी पुलिस सब इंस्पेक्टर नीरज शर्मा ने पुलिस दायित्वो का पालन करते हुए दोनो मासूम बच्चो की मदद के लिए हाथ बढाये । इस तरह के वाक्ये पुलिस बल को कही ना कही उत्साहित करते है ।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

BJP ने देश विभाजन पर वीडियो जारी कर जवाहर लाल नेहरू पर साधा निशाना, कांग्रेस ने किया पलटवारIndependent Day पर देशभर के 1082 पुलिस जवानों को मिलेगा पदक, सबसे ज्यादा 125 जम्मू कश्मीर पुलिस कोहरियाणा में निकली 6600 फीट लंबी तिरंगा यात्रा, मनाया जा रहा आजादी के अमृत महोत्सव का जश्नIndependence Day 2022: लालकिला छावनी में तब्दील, जमीन से आसमान तक काउंटर-ड्रोन सिस्टम से निगरानी14 अगस्त को 'विभाजन विभिषिका स्मृति दिवस' मनाने पर कांग्रेस का BJP पर हमला, कहा- नफरत फैलाने के लिए त्रासदी का दुरुपयोगOne MLA-One Pension: कैप्टन समेत पंजाब के इन बड़े नेताओं को लगेगा वित्तीय झटकाइसलिए नाम के पीछे झुनझुनवाला लगाते थे Rakesh Jhunjhunwala, अकूत दौलत के बावजूद अधूरी रह गई एक ख्वाहिशRakesh Jhunjhunwala Net Worth: परिवार के लिए इतने पैसे छोड़ गए राकेश झुनझुनवाला, एक दिन में कमाए थे 1061 करोड़
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.