अखिलेश यादव का ऐलान, सरकार बनी तो शिवपाल होंगे कैबिनेट मंत्री, चाचा ने ठुकराया ऑफर, कहा सब बेकार की बात

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को इटावा में ऐलान किया कि समाजवादी पार्टी 2022 में छोटे दलों से गठजोड़ करेगी, लेकिन किसी बड़े दल से कोई तालमेल नहीं करेगी।

By: Karishma Lalwani

Published: 15 Nov 2020, 10:37 AM IST

इटावा. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को इटावा में ऐलान किया कि समाजवादी पार्टी 2022 में छोटे दलों से गठजोड़ करेगी, लेकिन किसी बड़े दल से कोई तालमेल नहीं करेगी। अखिलेश ने कहा कि चाचा शिवपाल यादव के लिये इटावा की जसवंतनगर की सीट सपा ने छोड़ दी है। यही नहीं सरकार बनने पर उनको कैबिनेट मंत्री बनाया जायेगा। हालांकि, इसके जवाब में शिवपाल यादव ने भतीजे अखिलेश के ऑफर को बेकार की बात बता कर ठुकरा दिया है।

दिवाली के दिन बधाई देने पहुंचे अखिलेश ने कहा कि समाजवादी सरकार ने इटावा में बहुत बेहतरीन सफारी का निर्माण करवाया है। इटावा-मैनपुरी हाइवे का निर्माण करवाया। यमुना नदी पर पुलों का निर्माण करवाया है। इटावा में एस्ट्रोटर्फ स्टेडियम का निर्माण करवाया। इटावा में आधुनिक जेल का निर्माण करवाया है। इटावा का विकास केवल समाजवादी पार्टी ने ही करवाया है।

डीएम आवास को म्यूजियम में बनाने का ऐलान

अखिलेश ने कहा कि खिलाड़ियों की प्रतिभा को निखारने के काम यश भारती सम्मान देकर किया। इटावा का इतिहास भी आजादी से जुड़ा हुआ है। डीएम आवास कभी अंग्रेज डीएम एओ ह्यूम का रहा है। समाजवादी सरकार बनने पर डीएम आवास को म्यूजियम बनाया जायेगा। अखिलेश यादव बोले कि समाजवादी सरकार में लैपटॉप भी मिल जाता था, योगी सरकार कन्या सुमंगला योजना का लाभ देने का दावा करते है, लेकिन किसे मिल रहा है? किसी को कुछ भी नही पता। धान खरीद में गड़बड़ी ही गड़बड़ी है। भाजपा के जनप्रतिनिधि ही धान खरीद पर सवाल उठा रहे हैं। कई जिलों को ओडीएफ कर दिया गया, जांच हुई तो पता चला कि वहां शौचालय हैं ही नहीं।

अखिलेश ने कहा कि शेर इटावा से कहीं और (गोरखपुर) जा रहे हैं। मैं सरकार से कहूंगा कि हमारी इटावा लायन सफारी शुरू कर दें और जितने शेर ले जाना है ले जाएं। उन्होंने तंज किया कि हमें पता है उनके पास एक भी शेर नहीं हैं। ये ही सरकार कहती थी कि गोरखपुर के डॉक्टर हम इटावा और सैफई में ले आए हैं। दरअसल लायन सफारी इसलिए नहीं खोल रहे हैं, क्योंकि जनता इससे समाजवादी पार्टी की तारीफ करेगी। अखिलेश ने कहा कि मुख्यमंत्री को पता ही नहीं है कि उनके बुंदेलखंड एक्सप्रेस को हमारे इटावा घर से जोड़ दिया है।

शिवपाल ने ठुकराया अखिलेश का ऑफर

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने बड़ा बयान देते हुए भतीजे अखिलेश यादव का ऑफर ठुकरा दिया है। शिवपाल ने कहा कि "कोई क्या कह रहा है हमें उस पर नहीं जाना है, सब बेकार की बात है।'' उन्होंने कहा कि पहले हमें अपनी पार्टी और संगठन मजबूत करना है और फिर उसके बाद बीजेपी को सत्ता से उखाड़ फेंकना है। शिवपाल ने कहा कि हमारी पार्टी बन चुकी है और हमारे कार्यकर्ता सड़कों पर जल्द निकलने वाले हैं।

ये भी पढ़ें: मुस्लिम महिलाओं ने मनाई दीपावली, भगवान राम की आरती कर दिया एकता का संदेश

ये भी पढ़ें: न कोरोना का डर, न आदेश का असर, दिवाली पर आतिशबाजी से गंभीर श्रेणी में पहुंचा कई शहरों का एक्यूआई

BJP
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned