रामगोपाल के नाती पहली बार दिखे सियासी मंच पर, पार्टी में हो सकती है जल्द इंट्री

रामगोपाल के नाती पहली बार दिखे सियासी मंच पर, पार्टी में हो सकती है जल्द इंट्री

Ashish Kumar Pandey | Publish: Sep, 10 2018 08:50:33 PM (IST) | Updated: Sep, 10 2018 08:51:56 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

कार्यकर्ताओं में भरा जोश, महंगाई के खिलाफ पार्टी ने किया जोरदार प्रदर्शन।

 

 इटावा. समाजवादी पार्टी के यादव परिवार में एक और सदस्य की राजनीति में इंट्री जल्द हो सकती है। हम बात कर हैं पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव के नाती कार्तिकेय यादव की। कार्तिकेय यादव भी राजनीतिक तौर पर स्थापित होने की कवायद और कसरत में जुट गए हैं।
सोमवार को समाजवादी पार्टी के प्रदेश व्यापी धरना-प्रदर्शन के दौरान वह अपने बाबा प्रोफेसर रामगोपाल यादव के साथ इटावा तहसील में हुए प्रदर्शन के दौरान मंच पर नजर आए।
इससे पहले भी कार्तिकेय यादव यदाकदा छुटपुट नजर आ जाया करते रहे हैं, लेकिन अपने बाबा के साथ पहली बार मंच पर दिखे हैं। कार्तिकेय यादव भी अपने परिवार की राजनैतिक परंपरा को आगे बढ़ाने के लिए पूरे जोशो खरोस के साथ तहसील परिसर में पहुंचे। उनका यह योगदान देखकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता काफी प्रसन्न नजर आए क्योंकि युवा पूरा उनके साथ बड़ी तादात में तहसील परिसर पहुंचे थे।
इस जोशीले प्रदर्शन मे इटावा के समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष गोपाल यादव के साथ जिला पंचायत अध्यक्ष अभिषेक यादव, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष कुलदीप गुप्ता संटू, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष फुरकान अहमद, आनंद यादव, विमल भदौरिया के साथ-साथ जिले भर के हजारों कार्यकर्ता कचहरी परिसर में एकत्रित हुए और रैली को सफल बनाने में सहयोग किया। इस दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। कार्यकर्ताओं का कहना था कि मोदी सरकार जब से सत्ता में आई है तब से महंगाई बढ़ती ही जा रही है। वहीं पेट्रोल और डीजल के दामों में बेतहाशा बृद्धि हो रही है। इसका असर आम जनता पर सीधा पड़ता दिख रहा है।

पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों और महंगाई पर विपक्ष ने सोमवार को भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोला। सपा कार्यकर्ताओं ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि इस सरकार को सत्ता में बने रहने का काई अधिकार नहीं है। जब से भाजपा की सरकार बनी है लोग परेशान हो गए है। इस सरकार में गरीबों की कोई सुनने वाला नहीं है। बेरोजगारी बढ़ती जा रही है।

Ad Block is Banned