scriptQuarry river lots of water in summer after 15 year Etawah miracle god | इटावा की क्वारी नदी में 15 साल बाद गर्मी में भी खूब पानी, क्या है इस बीहड़ में चमत्कार.. | Patrika News

इटावा की क्वारी नदी में 15 साल बाद गर्मी में भी खूब पानी, क्या है इस बीहड़ में चमत्कार..

उत्तर प्रदेश में चंबल घाटी पूरे विश्व भर में प्रसिद्ध है। चंबल घाटी की लाइफ लाइन क्वारी नदी डेढ़ दशक बाद भीषण गर्मी में भी लबालब है। इटावा की पांच नदियों में से अहम क्वारी नदी अमूमन गर्मी के मौसम में सूख जाती थी। लेकिन इस साल नदी में पानी है। इससे राष्ट्रीय चंबल सेंचुरी के वन्य जीवों में इस बार प्रजनन बढऩे की संभावना है।

इटावा

Updated: April 21, 2022 03:24:05 pm

इटावा पांच नदियों के संगम का जिला है। यमुना, चंबल, सिंधु, पहुज और क्वारी नदी पचनंदा में मिलती हैं। इसके बाद यमुना बन कर प्रयागराज में समाहित होती जाती हैं। क्वारी नदी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले के बेरागढ़ तहसील की बेरागढ़ पहाडिय़ों से निकलती है। और मध्यप्रदेश के कई जिलों से गुजरते हुए इटावा में यूपी में प्रवेश करती है।
File Photo Chambal Ghati
File Photo Chambal Ghati
अक्टूबर-नवंबर में सूख जाती थी नदी
क्वारी नदी के किनारे सैकड़ों गांव बसे हैं। लेकिन करीब डेढ़ दशक से यह नदी अक्टूबर-नवंबर माह में ही सूख जाती थी। इस बार जलीय जीवों से लेकर पशु-पक्षियों पर प्रकृति मेहरबान है। क्वारी में अप्रैल माह में भी तेज जल प्रवाह है। इससे आम जन, सेंचुरी के वन्य जीव और पशु-पक्षी भी अपनी प्यास बुझा रहे हैं। क्वारी नदी के किनारे बसे गांव उखरैला, बिरौना बाग, बझाई कोटरा, सकेरी, गुरभेली आदि गांवों के किसानों ने जायद की फसलें बोयी हैं। पशुपालक राम सिंह ने बताया इस वर्ष क्वारी नदी में कमर तक पानी बह रहा है। जबकि हर साल दीपावली तक नदी का पानी सूख जाता था।

चंबल सेंचुरी में बढ़ेगा प्रजनन
इटावा के जिला प्रभागीय वन अधिकारी अतुल कांत शुक्ला कहते हैं करीब 15 सालों से गर्मी में सूख जाने वाली क्वारी नदी में पानी अचंभित करने वाला है। इससे चंबल सेंचुरी के वन्यजीवों में इस साल अच्छे प्रजनन की संभावना है। क्वारी नदी के किनारे बसे ग्राम सोने का पुरा, उखरैला, चंद्रहंसपुरा, भोया, पसिया, रामकिला, विंडवाखुर्द, हनुमंतपुरा, सिंडौस, खौडऩ, कुंअरपुर कुर्छा, अजीत की गढिय़ा, जाहरपुरा, , पहलन, बिडौरी, रीतौर की मड़ैया, सहित लगभग दर्जनों गांवों में बसे किसान भी प्रफुल्लित हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

पाकिस्तान में गृहयुद्ध जैसे हालात, लाखों समर्थकों संग डी-चौक पहुंचे इमरान खान, लोगों ने फूंका मेट्रो स्टेशन, राजधानी में सड़कों पर सेनाउद्धव के एक और मंत्री पर ED का शिकंजा, महाराष्ट्र के परिवहन मंत्री अनिल परब के घर प्रवर्तन निदेशालय का छापाKashmir On Alert: जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में लश्कर के 3 आतंकी ढेर, सभी सशस्त्र बलों की छुट्टियाँ रद्दBy election in Five States: पांच राज्यों की तीन लोकसभा और सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव का ऐलान, इस दिन होगी वोटिंगUP Budget 2022 Live : योगी कैबिनेट की बैठक में बजट प्रस्ताव को मंजूरीदिल्ली के नए उपराज्यपाल विनय सक्सेना आज संभालेंगे पद, सामने होंगी बड़ी चुनौतियांभारतीयों से कभी नहीं मांगेंगे रहम की भीख, आजादी के लिए संघर्ष जारी रहेगा: यासीन मलिक की पत्नी के 'आतंकी' बोलयासीन मलिक ने किया आइडिया ऑफ इंडिया पर हमला, महात्मा गांधी से तुलना करने पर भड़के जज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.