रूस ने सुखोई की मदद से अमरीकी विमान को भगाया, काला सागर क्षेत्र में तनाव गहराया

  • Su-27 फाइटर जेट को लक्ष्य भेदने के लिए इस्तेमाल किया गया था
  • यूएस पी -8 ए पोसेनोन टोही जेट के रूप में पहचाना गया

By: Mohit Saxena

Updated: 06 Jul 2019, 02:14 PM IST

मास्को। रूसी रक्षा मंत्रालय ने शुक्रवार को अपने एक बयान से सबको चौंका दिया। उसने बताया कि सुखोई Su-27 लड़ाकू विमान की मदद से उसने यूएस पी -8 ए पोसाइडन टोही जेट को Black sea स्थित रूसी हवाई क्षेत्र की ओर जाने से रोक दिया।अंत में अमरीकी विमान को वापस लौटना पड़ा।साउथ मिलिट्री डिस्ट्रिक्ट के एयर डिफेंस के अनुसार Su-27 फाइटर जेट को लक्ष्य को भेदने के लिए इस्तेमाल किया गया था। चालक दल ने विमान को हवाई लक्ष्य से सुरक्षित दूरी पर उड़ाया और इसे यूएस पी -8 ए पोसेनोन टोही जेट के रूप में पहचाना गया।

हेलिकॉप्टर दुर्घटना में मारे गए मशहूर अमरीकी उद्योगपति क्रिस क्लाइन

 

plane

मंत्रालय ने कहा कि रूसी उड़ान को अंतरराष्ट्रीय नियमों के अनुसार चलाया गया था और फाइटर जेट मिशन पूरा करने के बाद अपने घर वापस लौट आया। संयुक्त राज्य अमरीका वर्तमान में नाटो के सी ब्रीज नौसेना अभ्यास में भाग ले रहा है।

लीबिया से इटली जा रहे प्रवासियों की नाव पलटी, 80 से अधिक की मौत

रूसी सशस्त्र बलों के अनुसार, रूसी बलों ने पिछले सप्ताह अपने हवाई क्षेत्र के पास 26 विदेशी निगरानी विमानों को देखा है। मीडिया के अनुसार विदेशी विमानों को हवाई क्षेत्र पार करने से रोकने के लिए इस सप्ताह तीन बार रूसी सैन्य जेट तैनात किए गए हैं।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned