script18 साल की उम्र तक था अनपढ़, अब बना कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में सबसे कम उम्र का अश्वेत प्रोफेसर | UK man, illiterate till 18, becomes youngest black Cambridge professor | Patrika News
यूरोप

18 साल की उम्र तक था अनपढ़, अब बना कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में सबसे कम उम्र का अश्वेत प्रोफेसर

Youngest Black Cambridge Professor: इंग्लैंड के जेसन अर्डेय ने हाल ही में कुछ ऐसा कर दिखाया है जिसके बारे में पहले किसी ने सोचा भी नहीं होगा। जेसन इंग्लैंड की कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में सबसे कम उम्र का अश्वेत प्रोफेसर बन गया है।

Feb 28, 2023 / 04:10 pm

Tanay Mishra

jason_arday.jpg

Jason Arday

इंग्लैंड (England) में रहने वाले जेसन अर्डेय (Jason Arday) ने हाल ही में कुछ ऐसा कर दिखाया है जो पहले कभी नहीं हुआ है। जेसन हाल ही में इंग्लैंड की कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी (Cambridge University) में सबसे कम उम्र का अश्वेत प्रोफ़ेसर बन गया है। इस समय जेसन की उम्र सिर्फ 37 साल है। जेसन से पहले कोई भी अश्वेत व्यक्ति इससे कम उम्र में कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी का प्रोफेसर नहीं बना है। जेसन मूल रूप से साउथ-वेस्ट लंदन (London) के क्लैपहैम (Clapham) का रहने वाला है और इस समय कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में सोशलॉजी का प्रोफेसर है।

18 साल की उम्र तक था अनपढ़

जेसन के कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में सबसे कम उम्र का अश्वेत प्रोफ़ेसर बनना एक खास बात भी है। क्योंकि जेसन 18 साल की उम्र तक अनपढ़ था। 18 साल की उम्र तक जेसन न तो पढ़ सकता था, न ही लिख सकता था।

11 साल की उम्र तक बोल भी नहीं पाता था जेसन

ब्रिटिश मीडिया ब्रॉडकास्टर ने जानकारी देते हुए बताया है कि जेसन 11 साल की उम्र तक बोल भी नहीं पता था। इस बारे में खुद जेसन ने ही मीडिया को बताया है।

jason_arday_1.jpg


यह भी पढ़ें

Twitter ने करीब 200 लोगों को बिना बताए नौकरी से निकाला, बाद में ऐसे पता चला

इस स्थिति से पीड़ित


रिपोर्ट के अनुसार कम उम्र में ही जेसन ऑटिज़्म से पीड़ित हो गया था। ऑटिज़्म से न्यूरोलॉजिकल विकास बाधित होता है। इसी वजह से जेसन 11 साल की उम्र तक बोल नहीं पाता था और 18 साल की उम्र था लिखा और पढ़ नहीं पाता था।

मुश्किल के बावजूद नहीं मानी हार, माँ ने भी दिया साथ

जेसन ने बताया कि ऑटिज़्म की वजह से उसे काफी मुश्किल हुई, पर इसके बावजूद उसने हार नहीं मानी। जेसन की माँ ने भी उसकी बहुत मदद की। जेसन की माँ ने उसके आत्मविश्वास को बढ़ाने के लिए उसे कई तरह के म्यूज़िक से अवगत कराया। इससे जेसन को फायदा हुआ और उसका आत्मविश्वास भी बढ़ा। इससे जेसन का पॉपुलर कल्चर में इंट्रेस्ट बढ़ा और रिसर्च में भी मदद मिली।

अपने एक दोस्त की मदद से जेसन ने 18 साल की उम्र के बाद पढ़ना शुरू किया। इसके बाद जेसन ने हार नहीं मानी और कॉलेज की डिग्री के साथ ही मास्टर्स और पीएचडी की डिग्री भी हासिल की। आज जेसन कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के इतिहास में सबसे कम उम्र का अश्वेत प्रोफेसर है।

यह भी पढ़ें

तुर्की में भूकंपों से हुआ करीब 2 लाख 81 हज़ार करोड़ का नुकसान, वर्ल्ड बैंक ने दी जानकारी



Hindi News/ world / Europe News / 18 साल की उम्र तक था अनपढ़, अब बना कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में सबसे कम उम्र का अश्वेत प्रोफेसर

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो