ईद-उल-फित्र : ईद पर ऐसा करने से बरसती है अल्लाह की रहमत

मुस्लिम पर्व ईद उल फित्र

By: Shyam

Updated: 23 May 2020, 11:57 AM IST

इस साल पवित्र ईद का पर्व 24 मई दिन रविवार को मनाया जाएगा। रमजान के तीस रोजे खत्म होने के बाद चांद के दीदार होते ही दुनियां भर में मुस्लिम धर्म के भाई बहन अमन चैन, प्रेम और भाई चारे की दुआ के साथ चांद देखकर ईद का परित्र त्यौहार मनाया जाता है। लोग इसे ईद-उल-फित्र भी कहते हैं। सभी के घरों में अल्लाह की रहमत बरसती रहे, चारों ओर अमन-चैन, घर में खुशहाली के साथ रूपया पैसा भी भरपूर आता रहे ऐसी दुआ अल्लाह से की जाती है। ईद की शाम नमाज के बाद ऐसा करने से बरसती है अल्लाह की रहमत।

ईद-उल-फित्र : ईद पर ऐसा करने से बरसती है अल्लाह की रहमत

साल में दो ईद मनाई जाती

इस्लामिक कैलेंडर में दो ईद मनाने का उल्लेख आता है। दूसरी ईद जो ईद-उल-जुहा या बकरीद के नाम से भी जानी जाती है, ईद-उल-फित्र का यह त्यौहार रमजान का चांद डूबने और ईद का चांद नजर आने पर इस्लामिक महीने की पहली तारीख को मनाया जाता है। ईद के त्‍यौहार पर लोग ईदगाह में जाकर नमाज पढ़ने के बाद एक दूसरे के गले मिलते हैं और ईद मुबारक बोलते हुये आपसी प्रेम व भाईचारे की दुआ करने के साथ सब को बरकत मिले व अल्‍लाह की रहमत बरसती रहे ऐसा कहते हैं।

दान देने का रिवाज

कहा जाता हैं कि ईद के दिन इस्लाम को मानने वाले अपनी हैसियत के हिसाब से जरूरतमंदों को दान देते हैं, जिसे इस्लाम में जकात और फितरा भी कहा जाता है और इससे बरकत सदा बनी रहती है।

ईद-उल-फित्र : ईद पर ऐसा करने से बरसती है अल्लाह की रहमत

ईद की शाम को करें यह टोटका

सुख-शांति अमन चैन की दुआ के साथ ही धन-धौलत, रूपया पैसा की प्राप्ति की दुआ भी अल्लाह से इस दिन की जाती है। किसी को कम तो किसी को ज्यादा अल्लाह के रहेम से सबको कुछ न कुछ मिलता ही है। लेकिन अगर आपके मन में ज्यादा रूपया पैसा की चाह है तो ईद के दिन शाम के समय इस सरल टोटके को नमाज अदा करने के बाद किया जाए तो घर में कभी भी किसी चीज की कमी नहीं रहती।

1- बाजार से कुछ कौड़िया खरीद कर लें आये, अब एक पीले कपड़े में 1 चांदी के सिक्कें के साथ 5 या 7 कौड़ियां अपनी तिजोरी में शाम के समय रख दें, आपकी तिजोरी रूपया पैसा से हमेशा भरी रहेगी।

2- कौड़ियों को केसर या हल्दी से रंग कर पीले कपड़े में बांध कर तिजोरी में रखने से रूपया पैसा की बरसात होती है।

3- गल्ले में, तिजोरी में या आलमारी में जहां पैसे रखते हैं वहां ईद के दिन कौड़ियां रखने से अचानक धन लाभ होने लगता है।

************

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned