Hanuman Jyanti 2021 Date: हनुमान जयंती पर अपनाएं ये कुछ खास उपाय,हर मनोकामना होगी पूरी

चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि पर हनुमान प्राकट्योत्सव...

By: दीपेश तिवारी

Published: 26 Apr 2021, 10:45 PM IST

कलयुग के देवता हनुमान जी का दिन सप्ताह के वारों में मंगलवार माना जाता है। इसके अलावा हिंदू पंचांग के अनुसार, चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि पर Hanuman जन्मोत्सव (प्राकट्योत्सव) मनाया जाएगा।

ऐसे में इस बार यानि 2021 में हनुमान जन्मोत्सव यानि हनुमान जयंती का दिन भी मंगलवार 27 अप्रैल को ही पड़ रहा है। वहीं इस बार 13 अप्रैल से शुरू हुए Hindu Nav Samvatsar 2078 के राजा और मंत्री भी मंगल ही हैं। इसे देखते हुए जानकारों का मानना है कि इस बार हनुमान जयंती अति विशेष रह सकती है।

हनुमान जन्मोत्सव (जयंती) 2021 का शुभ मुहूर्त:

चैत्र माह, शुक्ल पक्ष, पूर्णिमा तिथि 27 अप्रैल, मंगलवार...
पूर्णिमा तिथि प्रारम्भ- 26 अप्रैल 2021, सोमवार, दोपहर 12 बजकर 44 मिनट से
पूर्णिमा तिथि का समापन- 27 अप्रैल 2021, मंगलवार, रात 9 बजकर 01 मिनट तक

27 अप्रैल 2021 को हनुमान जयंती के साथ ही मंगलवार होने के चलते हनुमान जी के इस विशिष्ट दिन उनकी पूजा का भी विशेष विधान है। मान्यता है कि इस दिन की गई हनुमान पूजा विशेष फल देती है।

इसके अलावा इस दिन Bajrangbali को प्रसन्न करने के लिए कई चमत्कारी उपाय हैं, जो कि जानकारों के अनुसार मंगलवार को ही किए जाने चाहिए।

पंडित एसके पांडे के अनुसार इस दिन सुबह-सुबह पीपल के कुछ पत्ते तोड़ लें और उन पत्तों चंदन या कुमकुम से श्रीराम नाम लिखें। इसके बाद इन पत्तों की एक माला बनाएं और हनुमानजी को अर्पित करें।

या चाहें तो किसी पीपल पेड़ को जल चढ़ाएं और सात परिक्रमा करें। इसके बाद पीपल के नीचे बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ करें।

जानकारों के अनुसार हनुमान चालीसा या हनुमानजी का कोई भी पाठ पढऩे के अपने नियम हैं, इसके तहत पाठ करते समय जिस श्लोक का जाप किया जाता है, हनुमान जी का वही रूप पूजाकर्ता के ध्यान में रहना चाहिए।

खास उपाय :
1. कड़ी मेहनत के बाद भी सफलता नहीं मिल पा रही है तो...
यदि आपको कड़ी मेहनत के बाद भी मनचाही सफलता नहीं मिल पा रही है तो अपने साथ एक नींबू और 4 लौंग लेकर हनुमानजी के मंदिर ( Hanuman Temple ) में जाएं। यहां हनुमानजी के सामने नींबू के ऊपर चारों लौंग लगा दें। फिर हनुमान चालीसा का पाठ करें या हनुमानजी के मंत्रों का जाप करें।

मंत्र जाप के बाद हनुमानजी से सफलता दिलवाने की प्रार्थना करें और वह नींबू अपने साथ रखकर कार्य करें। माना जाता है कि ऐसा करने से मेहनत के साथ ही कार्य में सफलता मिलने की संभावनाएं बढ़ जाएंगी।

2. कार्यों में बार-बार बाधाएं आने की समस्या व मनोकामनाएं पूर्ण करने के लिए...
इस उपाय के तहत किसी सिद्ध हनुमान मंदिर में अपने साथ एक नारियल लेकर जाएं। मंदिर में हनुमानजी की प्रतिमा के सामने नारियल को अपने सिर पर सात बार वार लें।

इसके दौरान हनुमान चालीसा का जाप करते रहें। सिर पर वारने के बाद नारियल हनुमानजी के सामने फोड़ दें। माना जाता है कि इस उपाय से आपकी सभी बाधाएं दूर हो जाएंगी।

इसके अलावा यदि आप मालामाल होना चाहते हैं तो रात के समय हनुमान मंदिर जाएं और वहां प्रतिमा के सामने में चौमुखा दीपक लगाएं। चौमुखा दीपक यानी दीपक चार ओर से जलाना है।

इसके साथ ही Hanuman Chalisa का पाठ करें। मान्यता है कि ऐसा प्रतिदिन करेंगे तो बहुत ही जल्द बड़ी-बड़ी परेशानियां भी आसानी से दूर हो जाएंगी। साथ ही ये उपाय आपको मालामाल बनाने में भी मदद करेगा।

धर्म के जानकारों के मुताबिक Shri Hanuman के मंदिर में 1 नारियल पर स्वस्तिक बनाएं और हनुमानजी को अर्पित करें। हनुमान चालीसा का पाठ करें। अपनी श्रद्धा के अनुसार किसी हनुमान मंदिर में बजरंग बली की प्रतिमा पर चोला चढ़वाएं। माना जाता है कि ऐसा करने से आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाएंगी।

3. पैसों की तंगी की समस्या होने पर
यदि आपको Money Problem का सामना कर रहे हैं तो सप्ताह के हर मंगलवार को ब्रह्म मुहूर्त में उठें। इसके बाद नित्य कर्मों से निवृत्त होकर किसी पीपल के पेड़ से 11 पत्ते तोड़ लें।

ध्यान रखें पत्ते पूरे होने चाहिए, कहीं से टूटे या खंडित नहीं होने चाहिए। इन 11 पत्तों पर स्वच्छ जल में कुमकुम या अष्टगंध या चंदन मिलाकर इससे श्रीराम का नाम लिखें।

पत्तों पर नाम लिखते समय हनुमान चालीसा का पाठ करें...

जब सभी पत्तों पर Shri Ram नाम लिख लें, उसके बाद राम नाम लिखे हुए इन पत्तों की एक माला बनाएं। इस माला को किसी भी हनुमानजी के मंदिर जाकर वहां बजरंगबली को अर्पित करें। इस प्रकार यह उपाय करते रहें। माना जाता है कि ऐसा करने से कुछ समय में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होने लगते हैं।

लेकिन ध्यान रखें उपाय करने वाला भक्त किसी भी प्रकार के अधार्मिक कार्य न करें। अन्यथा इस उपाय का प्रभाव निष्फल हो जाएगा। उचित लाभ प्राप्त नहीं हो सकेगा। साथ ही अपने कार्य और कर्तव्य के प्रति ईमानदार रहें।

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned