सावन सोमवार के दिन- इस खास विधि से करें भगवान शिव की पूजा, मिलेगा मनचाहा वरदान

सावन महीने में पड़ने वाले पहले सोमवार को भगवान शिव की पूजा अर्चना...

By: दीपेश तिवारी

Updated: 09 Jul 2020, 01:50 PM IST

वर्ष 2020 का सावन का महीना शुरू हो चुका हैं। जिसकी शुरुआत ही सोमवार से हुई। सनातन धर्मावलंबियों में सावन के महीने का खास महत्व माना जाता है। भगवान शंकर का प्रिय माह होने के चलते इस पूरे महीने में भगवान शिव की पूजा की जाती है।

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार इस महीने में भगवान शिव की पूजा करके आप मनचाहा फल पा सकते हैं। वहीं हिंदी पंचांग के अनुसार चैत्र माह से प्रारंभ होने वाले हर वर्ष के, पांचवें महीने में ही श्रावण मास आता है जबकि अंग्रेजी कैलेंडर की मानें तो, हर वर्ष सावन का महीना जुलाई या अगस्त में पड़ता है।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, सावन महीने में पड़ने वाले पहले सोमवार को भगवान शिव की पूजा अर्चना करने पर सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं। इस महीने में शिव भक्त अपनी कांवड़ यात्रा भी शुरू करते हैं। वहीं इस बार सावन माह में शुभ संयोग बन रहा है।

MUST READ : सावन माह में क्या करें और क्या नहीं, जानें यहां

https://www.patrika.com/astrology-and-spirituality/shravan-month-what-to-do-and-what-don-t-6246657/

सावन के पूरे महीने में भगवान शिव की पूजा अराधना का विशेष आशीर्वाद प्राप्त होता है। ऐसे में आज हम आपको इस महीने में भगवान शिव की विशेष पूजा की विधि बताने जा रहे हैं। पं. शर्मा के अनुसार इस विधि से भगवान शिव की पूजा करके आप आसानी से भगवान शिव प्रसन्न कर सकते हैं साथ ही इससे आपकी हर इच्छा पूरी होने की संभावना बढ़ जाती है...


भगवान शिव की पूजा विधि-

: इस महीने में सुबह जल्दी उठें और स्नान करके साफ कपड़े पहनें।

: पूजा स्थान की अच्छी तरह साफ़-सफाई करें, और वहां गंगाजल का छिड़काव करें।

: आसपास के मंदिर में जाकर शिवलिंग पर जल व दूध का अभिषेक भी करें।

: इसके बाद भगवान शिव और शिवलिंग को चंदन का तिलक लगाएं।

MUST READ : कोरोना का सावन पर असर-घर में ही पूजा कर ऐसे पाएं भगवान शंकर का आशीर्वाद

https://www.patrika.com/religion-news/savan-puja-at-home-in-corona-time-6248148/

: इसके बाद भगवान शिव को सुपारी, पंच अमृत, नारियल, बेल पत्र, धतूरा, फल, फूल आदि अर्पित करें।

: अब टीपक जलाएं और भगवान शिव का ध्यान लगाएं।

: इसके बाद शिव कथा व शिव चालीसा का पाठ कर, महादेव की आरती करें।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned