PNB सहित देश के इन 10 बैंकों का होगा विलय, वित्त मंत्री ने किए बड़े ऐलान

PNB सहित देश के इन 10 बैंकों का होगा विलय, वित्त मंत्री ने किए बड़े ऐलान

Shivani Sharma | Updated: 31 Aug 2019, 07:21:07 AM (IST) फाइनेंस

  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉफ्रेंस की
  • इस दौरान उन्होंने देश के सरकारी बैंकों के मर्जर को लेकर बड़ी घोषणाएं कीं

नई दिल्ली। देश की अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण प्रेस कॉफ्रेंस की। जिसमें बैंकों को लेकर उन्होंने बड़ी घोषणाएं कीं। इसमें बैंकों के मर्जर के लेकर निर्मला सीतरमण ने बड़ा ऐलान किया है। वित्त मंत्री के ऐलान के बाद देश में सिर्फ 12 सरकारी बैंक रह जाएंगे। बता दें, एक हफ्ता पहले 23 अगस्त को अर्थव्यवस्था में तेजी लाने के लिए कुछ महत्वपूर्ण घोषणाएं की गई थीं। पिछले सप्ताह प्रेस कॉफ्रेंस के बाद उन्होंने कहा था कि अगले सप्ताह वह कुछ और बड़ी घोषणाएं की जाएंगी। प्रेस कान्फ्रेंस में वित्त मंत्री के साथ कई वित्त सचिव भी मौजूद थे।


बैंकिंग सेक्‍टर में एक बार फिर आ रहा मर्जर का दौर


1. निर्मला सीतारमण ने पंजाब नेशनल बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक के विलय का ऐलान किया। इस विलय के बाद पीएनबी देश का दूसरा बड़ा सरकारी बैंक बन जाएगा। इसके साथ ही नए बैंक की 11,437 शाखाएं होंगी। वहीं, विलय के बाद पीएनबी में 17.95 लाख का कारोबार होगा।

2. इसके अलावा निर्मला सीतारमण ने केनरा बैंक और सिंडिकेट बैंक के विलय का भी ऐलान किया। विलय के बाद केनरा बैंक का 15.2 लाख करोड़ का कारोबार होगा। इसके साथ ही मर्जर के बाद केनरा बैंक की 10.342 शाखाएं होंगी।

3. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, आंध्रा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक का भी विलय होगा। यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, आंध्रा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक मर्जर के बाद देश का 5वां सबसे बड़ा बैंक होगा।

4. इसके अलावा इंडियन बैंक में इलाहाबाद बैंक के विलय का ऐलान किया गया। इस मर्जर के बाद यह देश का 7वां सबसे बड़ा बैंक बन जाएगा।

5. बैंकों को लेकर किए गए इन बड़े एलान के बाद अब देश में 12 PSBs बैंक रह गए हैं। इससे पहले साल 2017 में पब्‍लिक सेक्‍टर के 27 बैंक थे।

 

6. वित्त मंत्री ने एलान करते हुए कहा कि UCO बैंक में सरकार 2100 करोड़ पूंजी डाली जाएगी। वहीं, यूनाइटेड बैंक में 1600 करोड़ रुपए की पूंजी डाली जाएगी। इसके अलावा ओवरसीज में 3800 करोड़, बैंक ऑफ इंडिया में 11,700 करोड़, इंडियन बैंक में 2500 करोड़ रुपए की पूंजी डालने का एलान किया। वहीं, बैंक ऑफ बड़ौदा को 7,000 करोड़, केनरा बैंक को 6500 करोड़ और पीएनबी को 16,000 रुपए देने का एलान किया है।

आपको बता दें कि बैंकों के मर्जर की तारीखों को लेकर अभी तक कोई एलान नहीं किया गया हैं। जल्द ही बैंकों की तारीखों का एलान भी कर दिया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि देश 5 लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था की ओर बढ़ रहे हैं। हमने 8 सरकारी बैंकों ने रेपो रेट लिंक प्लान लॉन्च किए, NBFC की राहत के लिए कई कदम उठाए, 4 NBFC को PSB बैंकों से मदद मिली, क्रेडिट ग्रोथ के लिए आज का कदम महत्वपूर्ण, फाइनेंशियल सेक्टर के लिए मजबूत नींव की जरुरत है। वहीं, ग्रॉस एनपीए में कमी देखने को मिली, ग्रॉस एनपीए 8.65 लाख करोड़ से घटकर 7.90 लाख करोड़।


पिछले शुक्रवार बैंकिंग सेक्‍टर को लेकर किया ये एेलान

इसके अलावा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बैंकों को जल्द ही 70,000 करोड़ रुपये की पूंजी उपलब्ध कराने का ऐलान किया। इसके साथ ही बताया कि बैंक अब आरबीआई द्वारा रेपो रेट में की गई कटौती का फायदा सीधे ग्राहकों को देंगे। इसका असर ये होगा कि ग्राहकों को अब होम और ऑटो लोन सस्ते मिलेंगे।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार,फाइनेंस,इंडस्‍ट्री,अर्थव्‍यवस्‍था,कॉर्पोरेट,म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned