scriptsbi savings account holders eliminate minimum balance and sms charges | SBI के करोड़ों ग्राहकों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब कई चार्जेज हुए खत्म, मिलेगा फायदा | Patrika News

SBI के करोड़ों ग्राहकों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब कई चार्जेज हुए खत्म, मिलेगा फायदा

-देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ( State Bank of India ) ने अपने करोड़ों ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है।
-एसबीआई ( SBI Bank ) ने अपने बचत खाते में मिनिमम बैलेंस ( SBI Minimum Balance for Savings Account ) नहीं रखने पर लगने वाले चार्ज को खत्म कर दिया है।
-एसएमएस अलर्ट ( SBI SMS Alert ) पर लगने वाले चार्ज को भी समाप्त कर दिया है।
-इससे बैंक के करोड़ों यूजर्स को काफी फायदा होगा।

नई दिल्ली

Updated: August 22, 2020 02:39:29 pm

नई दिल्ली।
देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ( State Bank of India ) ने अपने करोड़ों ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है। एसबीआई ( SBI Bank ) ने अपने बचत खाते में मिनिमम बैलेंस ( SBI Minimum Balance for Savings Account ) नहीं रखने पर लगने वाले चार्ज को खत्म कर दिया है। इसके अलावा एसएमएस अलर्ट ( SBI SMS Alert ) पर लगने वाले चार्ज को भी समाप्त कर दिया है।

sbi savings account holders eliminate minimum balance and sms charges
SBI के करोड़ों ग्राहकों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब कई चार्जेज हुए खत्म, मिलेगा फायदा

इससे बैंक के करोड़ों यूजर्स को काफी फायदा होगा। एसबीआई ने ट्वीट पर जानकारी देते हुए कहा कि एसबीआई बचत खाताधारकों को अब एसएमएस सर्विस और न्यूनतम बैलेंस न रखने पर कोई शुल्क नहीं देना होगा। बता दें कि एसबीआई में 44 करोड़ से अधिक बचत खाते हैं।

New Startup Policy: बिजनेस करने का शानदार मौका, सरकार दे रही 5 लाख रुपये, जानें कैसे

बचत खाते में कितना मिल रहा ब्याज ( Interest Rate on Saving Account in SBI )
वर्तमान में एसबीआई बचत खाते में जमा राशि पर 2.7 फीसदी की दर से ब्याज का भुगतान कर रहा है। बता दें कि एसबीआई संपत्ति, जमा, शाखाओं, ग्राहकों और कर्मचारियों के मामले में सबसे बड़ा कमर्शियल बैंक है। 31 मार्च 2020 तक, बैंक के पास 32 लाख करोड़ रु के डिपॉजिट हैं। बैंक के पास भारत में 22,000 से अधिक शाखाओं का सबसे बड़ा नेटवर्क है, जिसमें 58,000 से अधिक के एटीएम / सीडीएम नेटवर्क और 61,000 से अधिक के कुल बीसी आउटलेट हैं।

मार्च में हुई थी घोषणा
बता दें कि इससे पहले एसबीआई ने मार्च में सभी बचत खातों में औसत मासिक बैलेंस न होने पर लगने वाले चार्ज को हटाने की घोषणा की थी। इससे पहले एसबीआई के बचत बैंक ग्राहकों को मेट्रो, अर्ध शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में क्रमशः 3000 रु, 2000 रु और 1000 रु का औसत मासिक बैलेंस बनाए रखना पड़ता था। बैंक औसत मासिक बैलेंस न रखने पर 5 से 15 रु तक का जुर्माना लगाता था। इस पर टैक्स भी लिया जाता है। वहीं, मार्च महीने में कोरोना के कारण एससबीआई ने अपनी शाखा और अन्य बैंकों के एटीएम पर सभी लेनदेन के लिए सर्विस चार्ज को माफ कर दिया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

सीढ़ियां से उतरने के दौरान गिरे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव, कंधे की हड्डी टूटीदिल्ली और पंजाब में दी जा रही मुफ्त बिजली, गुजरात में क्यों नहीं?: केजरीवालहैदराबाद में बोले PM मोदी- 'तेलंगाना में भी जनता चाहती है डबल इंजन की सरकार, जनता खुद ही बीजेपी के लिए रास्ता बना रही'पीएम मोदी ने लंबे समय तक शासन करने वाली पार्टियों का मजाक उड़ाने के खिलाफ चेताया, कहा - 'मजाक मत उड़ाएं, उनकी गलतियों से सीखें'Rajasthan: वाहन स्क्रैपिंग सेंटर के लिए एक एकड़ जमीन जरूरीAchievement : ऐसा क्या किया पुलिस ने की मिला तीन लाख का ईनाम और शाबाशी ?Mumbai News Live Updates: फ्लोर टेस्ट से पहले शिवसेना का नया दांव, स्पीकर राहुल नार्वेकर से की 39 विधायकों के खिलाफ एक्शन की मांगहनुमानजी के नाम पर वोट मांग रहे कमल नाथ! भाजपा ने की शिकायत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.