Sukanya Samriddhi Yojana: बेटियों के लिए फायदेमंद है Post office की ये स्कीम, मैच्योरिटी पर मिलेगा 3 गुना रिटर्न

  • Sukanya Samriddhi Yojana :21 साल की इस योजना में महज 14 साल के लिए करना होगा निवेश
  • सुकन्या समृद्धि योजना में तीसरी बेटी का अकाउंट खुलवाने के लिए जन्म प्रमाण पत्र समेत हलफनामा देना होगा

By: Soma Roy

Published: 04 Sep 2020, 05:47 PM IST

नई दिल्ली। लड़कियों के उज्जवल भविष्य के लिए डाकखाने (Post Office) की सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) काफी पॉपुलर है। इस स्कीम में बेटी की शिक्षा से लेकर शादी तक में मदद मिलती है। इसमें सालाना निवेश कर अच्छा रिटर्न हासिल किया जा सकता है। सुकन्या स्कीम के तहत अकाउंट किसी भी पोस्ट ऑफिस या कमर्शियल बैंक में खुलवाया जा सकता है। इसमें अभी 7.6 फीसदी ब्याज मिल रहा है। योजना की खासियत यह है कि इसकी मेच्योरिटी 21 साल है। जबकि निवेश महज 14 साल के लिए ही करना होता है।

योजना से जुड़ी खास बातें
1.सुकन्या समृद्धि योजना में अधिकतम 1.50 लाख रुपए सालाना जमा कर सकते हैं। अगर आप मंथली जमा करते हैं तो आपको हर महीने 12500 रुपए देने होंगे।
2.योजना के तहत आवेदन के लिए बेटी की उम्र 10 साल से कम होनी चाहिए
3.एक परिवार में 2 बेटियों के नाम से अकाउंट खुलवाया जा सकता है। अगर किसी की 2 से ज्यादा बेटियां हैं तो उसका खाता खुलवाने के लिए बर्थ सर्टिफिकेट के साथ-साथ एक हलफनामा देना होगा।
4.इस स्कीम के तहत निवेश करने पर आयकर कानून की धारा 80C के तहत टैक्स में छूट मिलती है।
5.सुकन्या समृद्धि योजना में सालाना न्यूनतम 250 रुपए जमा कर सकते हैं।
6.बेटी की उम्र 18 साल होने पर उसकी पढ़ाई या शादी के लिए जमा रकम का 50 प्रतिशत हिस्सा निकाला जा सकता है।

आवेदन करने की प्रक्रिया
सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता (Sukanya Samriddhi Account) खुलवाने के लिए नजदीकी पोस्ट ऑफिस से संपर्क करें। यहां से स्कीम से संबंधित फॉर्म लें। अब इसमें माता-पिता अपना और बच्‍ची का नाम लिखें। साथ ही अन्य जरूरी जानकारियां भरें। फॉर्म भरने के बाद इसके साथ पहचान-पत्र, एड्रेस प्रूफ, आधार कार्ड और बेटी का नाम, उसका जन्‍म प्रमाण-पत्र आदि की फोटोकॉपी साथ में जमा करें।

63 लाख रुपए तक पा सकते हैं रिटर्न
सुकन्या समृद्धि योजना के तहत अगर आप सालाना 1.5 लाख रुपए 14 साल तक जमा करते हैं तो कुल निवेश रकम 21 लाख रुपए का होगा। इस पर 7.6 फीसदी सालाना कंपाउंडिंग के हिसाब से 14 साल तक इस पर इंटरेस्ट लगने से यह रकम 37,98,225 रुपए हो जाएगी। इसके बाद बाकी के 7 साल तक इस रकम पर और ब्जयाज मिलेगा। ऐसे में 21 साल बाद यानी मेच्योरिटी पर यह रकम करीब 63,42,589 रुपए हो जाएगी।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned