अपहरण के झूठे मुकदमे में विरोधियों को फंसाने वाला एटा में बनवा रहा था, मकान पुलिस ने किया गिरफ्तार

— जमीनी रंजिश में विरोधियों को फंसाने के लिए युवक ने अपने अपहरण की रची थी झूठी कहानी, पत्नी ने विरोधियों के विरुद्ध लिखाया मुकदमा।

By: arun rawat

Published: 11 Jun 2021, 06:09 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
फिरोजाबाद। जमीनी रंजिश में विरोधियों को अपने अपहरण के झूठे मामले में फंसाने वाला युवक एटा में मकान बनवा रहा था। पुलिस ने आरोपी और उसके भाई व पत्नी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
यह भी पढ़ें—

बाइक चोरी करने वाले गिरोह के तीन आरोपी गिरफ्तार, चोरी की बाइक बरामद

एसएसपी ने दी जानकारी
एसएसपी अशोक कुमार ने बताया कि 12 जनवरी 2021 को चन्द्रवती पत्नी भूप सिंह निवासी मोहनपुर थाना एका ने पांच लोगों द्वारा पति का अपहरण कर ले जाने का मुकदमा दर्ज कराया था। तभी से पुलिस युवक की तलाश कर रही थी। गुरुवार को मुखबिर ने पुलिस को सूचना दी कि जिस व्यक्ति का अपहरण हुआ है वह गांव नगला सैंया थाना पिलुआ एटा में प्लाट खरीदकर मकान बना रहा है। सूचना पर पुलिस ने मौके पर जाकर देखा और युवक को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने पुलिस के सामने साारी सच्चाई बयां कर दी। उसने पुलिस को बताया कि विरोधियों को फंसाने के लिए उसने अपने अपहरण की झूठी कहानी तैयार की थी। अपने बिस्तर पर कबूतर को मारकर उसका खून डाल दिया था, जिससे ऐसा प्रतीत हो कि अपहरणकर्ताओं ने उसकी इतनी पिटाई की है कि उसका खून निकल आया है।

गांव के लोगों को फंसाया
उसने बताया कि गांव के ही भूपेन्द्र, अजय, दीनदयाल, अन्शुल, नीरज से उसका जमीनी विवाद चल रहा है। इस मामले में वह और उसके दो भाई जेल जा चुके हैं। पत्नी को साथ लेकर उसने यह सारा षड़यंत्र रचा था। वह अपने रिश्तेदारों के यहां रह रहा था। पुलिस ने भूप सिंह के अलावा षड़यंत्र में शामिल उसके भाई नौबत और पत्नी चन्द्रवती को भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned