सरकारी अस्पताल में इलाज कराना है तो खुद लेकर आएं पंखा, यह है बड़ी वजह

— फिरोजाबाद के जिला अस्पताल में हद दर्जे की हो रही लापरवाही, मरीजों को हो रही परेशानी।

By: arun rawat

Published: 10 Apr 2021, 10:23 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
फिरोजाबाद। प्रदेश की योगी सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने का भले ही दम भर रही हो लेकिन यूपी के फिरोजाबाद जिले के सरकार अस्पताल में हद दर्जे की लापरवाही मरीजों के साथ हो रही है। इलाज कराने के बाद मरीजों को पंखा भी अपने पैसों से खरीदकर लाना पड़ रहा है। कुछ ऐसा ही नजारा जिला अस्पताल में देखने को मिला।
यह भी पढ़ें—

शादी के तीन महीने बाद ही युवक की मौत, विद्युत अधिकारियों पर लापरवाही का आरोप

खराब पड़ा है पंखा
शहर के सुभाष तिराहा पर स्थित जिला अस्पताल के वार्ड नंबर एक हड्डी वार्ड (पुरूष) में मरीज परेशान हैं तो तीमारदार चकरघिन्नी। हों भी क्यों नहीं यहां लगे पंखे खराब पड़े हैं। नगला सलुआ निवासी रमाशंकर की आंतों का आपरेशन हुआ है। कमरे का पंखा बंद पड़ा था। बताया कि पंखा खराब है। गर्मी से बचने के लिए तीमारदार 1400 रुपए खर्च करके पंखा लेकर आए तब जाकर मरीज के पास लगाया। सिरसागंज से आये एक मरीज सरनाम सिंह ने बताया कि कल से पंखा बंद पड़ा है। एक मरीज की तीमारदार ज्योति ने बताया कि कुछ नहीं चल रहा है पंखा बंद पड़ा है।

District Hospital

ऐसे कैसे बदलेगी स्थिति
शहर के जिला अस्पताल में प्रतिदिन सैकड़ों मरीज इलाज कराने के लिए आते हैं। यहां इस प्रकार की लापरवाही सरकार द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं पर बट्टा लगाने का काम कर रही हैं। प्रभारी सीएमएस डॉ. आलोक कुमार ने बताया कि खराब पंखों को बदलवाया जा रहा है। जल्द ही खराब पंखों को बदलवा दिया जाएगा। मरीजों को किसी प्रकार की परेशानी है तो उनसे शिकायत कर सकते हैं।

Show More
arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned