जानवरों की चर्बी से तैयार हो रहा था घी, बोरियों में भरे थे जानवरों के अवशेष

Highlight

— छापेमारी के दौरान बोरियों में बंद मिले जानवरों के अवशेष
— रात के समय धधकती थीं भट्टियां, घी की कट्टियों में होता था पैक
— बुल्डोजर लगाकर बाउंड्रीवाल को कराया गया ध्वस्त
— फिरोजाबाद के थाना रामगढ़ और रसूलपुर क्षेत्र में चल रहा था गोरखधंधा

By: arun rawat

Published: 27 Jun 2021, 11:03 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

फिरोजाबाद। यूपी के फिरोजाबाद में जानवरों की चर्बी से घी तैयार किया जाता था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने कारखाने की बाउंड्रीवाल को ध्वस्त करा दिया। मौके से बोरियों में भरे हुए जानवरों के अवशेष मिले हैं। पुलिस अब इनके संचालकों की तलाश कर रही है क्योंकि पुलिस की कार्रवाई से पहले ही वहां काम करने वाले लोग भाग गए थे।
यह भी पढ़ें—

सेहरा सजने से पहले बदमाशों ने दी मौत, शादी की खुशी मातम में बदली

सिटी मजिस्ट्रेट की अगुवाई में हुई कार्रवाई
शनिवार शाम को सिटी मजिस्ट्रेट गुलशन कुमार के नेतृत्व में सीओ टूंडला अभिषेक श्रीवास्तव ने पुलिस फोर्स के साथ थाना रामगढ़ और रसूलपुर क्षेत्र के ताडो वाली बगिया, लालपुर एवं छपरिया मौहल्ला में छापेमारी की। जहां बंद पड़ी फैक्ट्रियों में मृत पशुओं के अवशेष, पशु कटान में प्रयुक्त मशीनों के अलावा दुधारू पशुओं व गौवंश के कान में लगने वाले टैग मिले है।
यह भी पढ़ें—

भाजपा ने हर्षिता सिंह को घोषित किया जिला पंचायत अध्यक्ष पद का प्रत्याशी, जिला प्रभारी ने की नाम की घोषणा


बांउड्रीबाल कराई ध्वस्त
सिटी मजिस्ट्रेट ने जांच के इरादे से कई बांउड्रीबाल को नगर निगम की जेसीबी से तुड़वा दिया। अंदर पशुओं के मांस के अलावा पशु कटान में प्रयुक्त मशीनों व औजार मौके पर पड़े मिले। पूरे प्रकरण में अवैध कट्टी घर संचालन व वनस्पति घी व खाद्य तेल में चर्बी मिलाने जैसी शिकायत मिली। बोरियों में जानवरों के अवशेष भरे हुए थे। चारों ओर खून फैला हुआ था। आस—पास के लोगों ने बताया कि रात के समय में यह कट्टीघर शुरू होता था। जहां भट्टियों पर जानवरों की चर्बी को उबाला जाता था और उससे घी तैयार किया जाता था। फिलहाल खाद्य विभाग की टीम ने पूछताछ में नाम सामने आए हाजी भूरा के विरुद्ध तहरीर दी है।

Show More
arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned