Firozabad Fish: सुहागनगरी में होगी कुबैत और वियतनाम में मिलने वाली मछली की पैदावार, मिलेगी सस्ते दामों पर, देखें वीडियो

Firozabad Fish: सुहागनगरी में होगी कुबैत और वियतनाम में मिलने वाली मछली की पैदावार, मिलेगी सस्ते दामों पर, देखें वीडियो
fish farmer

arun rawat | Updated: 20 Jul 2019, 10:05:48 AM (IST) Firozabad, Firozabad, Uttar Pradesh, India

— किसानों की आय दोगुनी करने को लेकर जिला प्रशासन द्वारा उन्नतिशील किसानों को किया गया सम्मानित।

— कीमती दामों पर मिलने वाली मछलियों की फिरोजाबाद में की जाएगी पैदावार, किसान पालेंगे मछली।

फिरोजाबाद। किसानों की आय दोगुनी करने को लेकर सरकार अब मछली पालन के जरिए किसानों की आय बढ़ाने का काम करेगी। सुहागनगरी का नाम अभी तक कांच की चूड़ियों के लिए ही प्रसिद्ध था लेकिन अब मछली पालन में भी फिरोजाबाद का नाम जाना जाएगा। मछली पालन के जरिए किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार अब मछली पालन पर अधिक जोर दे रही है। विदेशों में होने वाली मछलियों की पैदावार अब फिरोजाबाद में हो सकेगी।

यह भी पढ़ें—

Kidnap Girl in Firozabad: तीन माह से लापता है युवती, परिजनों ने लगाया अपहरण कर ले जाने का आरोप, देखें वीडियो

 

किसानों को किया जा रहा प्रोत्साहित
फिरोजाबाद के उन्नतिशील किसानों को मछली पालन के लिए प्रोत्साहित किए जाने का काम अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है। उन्नति शील किसानों का सम्मान कर अधिकारियों ने अच्छी खेती करने का संदेश दिया। फ़िरोज़ाबाद जिले के शिकोहाबाद क्षेत्र के उरमरा किरार गांव में उन्नति शील किसान ख्वाब अहमद ने जो विदेशों में बड़ी कीमत पर कुबैत ओर वियतनाम से लाई जाने बाली मछली जो चार सौ से पांच सौ रुपये में खरीद कर लायी जाती थी वह अब सस्ते दाम में मिलेगी और इसकी पैदावार भी की जाएगी। इसका खाना( दाना) और बीज भी यहाँ से सुलभ प्राप्त हो सकेगा।

यह भी पढ़ें—

पत्रकार के साथ अभद्रता करने के मामले को लेकर डीएम को सौंपा ज्ञापन, बीडीओ के विरुद्ध कार्रवाई की मांग, देखें वीडियो

 

fish farmer

डीएम ने किया सम्मानित
डीएम चन्द्र विजय और सीडीओ नेहा जैन ने उन्नति शील किसानों को सम्मानित किया और किसानों की आय दूनी करने के उपाय बताए। उन्होंने कहा कि मछली पालन आय दोगुनी करने का सबसे अच्छा जरिया है। इसमें कम लागत और अधिक मुनाफा हो रहा है। विदेशों में पैदा की जाने वाली मछली अब फिरोजाबाद में ही पैदा की जा सकेगी। इससे मुनाफा भी अच्छा होगा और कम कीमत पर मछली लोगों को मिल सकेगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned