यूरो कप: 55 साल का इंतजार खत्म, डेनमार्क को हरा फाइनल में पहुंची इंग्लैंड

यूरो कप के सेमीफाइनल में इंग्लैंड ने डेनमार्क को 2-1 से हराकर फाइनल में जगह बनाई। इंग्लैंड की जीत के हीरो कप्तान हैरी केन रहे। केन ने डेनमार्क के गोलकीपर कैस्पर शिमीचेल द्वारा रोके गए स्पॉट किक पर रीबाउंड हुई गेंद को गोल में बदलकर इंग्लैंड को यह सफलता दिलाई।

By: Mahendra Yadav

Published: 08 Jul 2021, 12:17 PM IST

इंग्लैंड की फुबॉल टीम यूरो कप के फाइनल में पहुंच गई है। 55 साल में पहली बार इंग्लैंड की टीम किसी बड़े फुटबॉल टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची है। यूरो कप के सेमीफाइनल में इंग्लैंड ने डेनमार्क को 2-1 से हराकर फाइनल में जगह बनाई। इंग्लैंड की जीत के हीरो कप्तान हैरी केन रहे। केन ने डेनमार्क के गोलकीपर कैस्पर शिमीचेल द्वारा रोके गए स्पॉट किक पर रीबाउंड हुई गेंद को गोल में बदलकर इंग्लैंड को यह सफलता दिलाई। इंग्लैंड को यह स्पॉट किक रहीम स्टरलिंग को डेनिश पेनाल्टी एरिया में गिराए जाने के बाद मिला था।

साइमन काजोर का आत्मघाती गोल
साइमन काजेर ने 39वें मिनट में एक आत्मघाती गोल हुआ, जो इंग्लैंड के खाते में दर्ज ह्रुआ। डेनमार्क के लिए माइकल डैम्सगार्ड ने 30वें मिनट में गोल कर अपनी टीम को बढ़त दिलाई थी। फाइनल में इंग्लैंड का सामना इटली से होगा, जिसने पेनाल्टी शूटआउट में 4-1 से हराया। निर्धारित और एक्स्ट्रा टाइम तक दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर थीं। फाइनल मुकाबला रविवार को लंदन के वेम्बले स्टेडियम में खेला जाएगा।

यह भी पढ़ें— यूरो कप: फाइनल में पहुंची इटली, पेनल्टी शूटआउट में हराया स्पेन को

england_euro_cup.png

55 साल का इंतजार खत्म
इंग्लैंड की फुटबॉल टीम का 55 साल का इंतजार खत्म हो गया है। इंग्लैंड इससे पहले वर्ष 1966 में किसी बड़े टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची थी और मुकाबला जीता था। अब 55 साल बाद इंग्लैंड एक बार फिर बड़े टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंच गई है। घरेलू मैदान में अपने ही लोगों के बीच खेलते हुए फाइनल में पहुंचना इंग्लैंड के लिए राहत से कम नहीं था। सेमीफाइनल मुकाबले में डेनमार्क की टीम ने अच्छी शुरुआत की और पहले हाफ में ही बढ़त हासिल कर ली।

यह भी पढ़ें— रोनाल्डो के पास है दुनिया की सबसे महंगी कार, हीरे से सजी घड़ी जैसी चीजें, जीते हैं लग्जरी लाइफ

अतिरिक्त समय में केन ने दिलाई जीत
मैच के दूसरे हाफ में इंग्लैंड की ओर से हमला जारी रहा। इसके बावजूद डेनमार्क ने इंग्लैंड को गोल करने का मौका नहीं दिया। हालांकि निर्धारित 90 मिनट में दोनों में से कोई भी टीम जीत नहीं सकी और मुकाबला अतिरिक्त समय में गया। अतिरिक्त समय के पहले हाफ में ही इंग्लैंड ने बढ़त हासिल की। 103वें मिनट में हैरी केन ने पेनल्टी ली, लेकिन शमाइकल ने इसे रोक दिया लेकिन केन ने गेंद को रिबाउंड पर गोलपोस्ट में जमा दिया और टीम को 2-1 की बढ़त दिला दी।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned