west up bulleti[email protected] PM: यहां पढ़ें आज दिनभर की बड़ी खबरें

खबरें जो कल पहुंचेंगी आप तक, उसे अभी पढ़ें आप

By: Iftekhar

Published: 24 Jul 2018, 08:52 PM IST

गाजियाबाद. पश्चिमी उत्तर प्रदेश से मंगलवार को कई बड़ी खबरें आई। इनमें सबसे बड़ी खबर ग्रेटर नोएडा से आई यहां पश्चिम बंगाल और यूपी के एटीएस ने दो बांग्लादेशी संदिग्ध आतंकवादी को गिरफ्तार किया। वहीं, दूसरी बड़ी खबर बागपत से आई। यहां रालोद मुखिया अजीत सिंह ने बड़ा एक ऐलान किया। उन्होंने कहा कि अब मैं 2019 का चुनाव नहीं लड़ूंगा। वहीं, तीसरी बड़ी खबर गाजियाबाद से आई। यहां हिन्दू लड़की से शादी के आरोप में एक मुस्लिम युवक को सरेराह जुलूस निकाल कर पिटाई की गई।


जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्लादेश के सदस्य बताए जा रहे हैं तो संदिग्ध

ग्रेटर नोएडा. स्वतंत्रता दिवस नजदीक आते ही राजधानी दिल्ली और इसके आसपास के क्षेत्रों में आतंकवादियों की गतिविधियां बढ़ गई हैं। ऐसे ही एक मामले में मंगलवार को इंटेलिजेंस इनपुट के आधार पर पश्चिम बंगाल और गौतमबुद्ध नगर पुलिस व यूपी एटीएस के ज्वाइंट ऑपरेशन में ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर थाना क्षेत्र से दो संदिग्ध आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया है। दोनों संदिग्ध जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्लादेश के सक्रिय सदस्य बताए जा रहे हैं।

पूरी खबर पढ़ने के लिए इस लिंक को क्लिक करेंः देश को दहलाने की बड़ी साजिश नाकाम, यूपी एटीएस ने दो संगिदग्ध आतंकवादियों को किया गिरफ्तार
लोकदल के मुखिया अजित सिंह नहीं लड़ेंगे 2019 लोकसभा चुनाव
बागपत. आगामी लोकसभा चुनाव की रणनीति तैयार करने के लिए बागपत पहुंचे लोकदल के मुखिया अजित सिंह ने यहां अपने ऐलान से सभी को चौंका दिया। रालोद मुखिया अजित सिंह ने ऐलान किया कि वह 2019 में लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगे। इस मौके पर अजीत सिंह ने भाजपा और केन्द्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। हाल ही में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान संसद में राहुल गाँधी द्वारा पीएम से गले मिलने पर उन्होंने कहा कि राहुल की झप्पी का पीएम नरेंद्र मोदी जवाब नहीं दे पाए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि संसद में हुई डिबेट के बाद लोगों ने मान लिया है कि अब मोदी की हार तय है।

पूरी खबर पढ़ने के लिए इस लिंक को क्लिक करेंः लोकदल के मुखिया अजित सिंह नहीं लड़ेंगे 2019 लोकसभा चुनाव, ये बताई वजह


अल्वर के बाद अब गाजियाबाद में लव जिहाद के नाम पर मुस्लिम युवक बना भीड़ का शिकार

गाजियाबाद. मॉब लिंचिंग पर संसद से सड़क तक हंगामे और हिंसक भीड़ पर नकेल कसने के लिए कानून बनाने के ऐलान के बाद भी अमन के दुश्मनों पर कोई असर पड़ता नहीं दिख रहा है। अभी राजस्थान के अल्वर में रकबर खान की मॉब लिंचिंग में मौत का माला शांत भी नहीं हुआ है कि अब गाजियाबाद से भी ऐसी ही खबर सामने आई है। गाजियाबाद की घटना में सबसे चौंकाने वाली बात ये है कि यहां इस घटना को कोर्ट परिसर में अंजाम दिया गया। यहां कथित लव जिहाद के आरोप में एक मुस्लिम युवक का जुलूस निकाला गया। इस दौरान भीड़ में शामिल युवकों ने इस मुस्लिम युवक की जमकर पिटाई की। इस मामले में सबसे बड़ी चिंता की बात ये है कि कानून के रखवाले वकीलों के बैठने वाली गली में इस हिंसा को अंजाम दिया गया।

पूरी खबर पढ़ने के लिए इस लिंक को क्लिक करेंः गोरक्षा के बाद अब लव जिहाद के नाम पर कोर्ट परिसर में मुस्लिम युवक को भीड़ ने बनाया शिकार

Show More
Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned