प्लेन बनाने वाली कंपनी बोइंग गोरखपुर में बनाएगी 200 बेड का कोविड अस्पताल

कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिये प्लेन बनाने वाली कंपनी बोइंग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शहर गोरखपुर में 200 बेड का कोविड अस्पताल बनाएगी। ये अस्पताल गोरखपुर एम्स में बनाया जा सकता है।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गोरखपुर. कोरोना संक्रमितों के इलाज में मदद के लिये मल्टीनेशनल कंपनियां भी आगे आ रही हैं। प्लेन बनाने वाली कंपनी बोइंग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शहर गोरखपुर में 200 बेड का कोविड अस्पताल बनवाएगी। इस आईसीयू युक्त डेडिकेटेड कोविड अस्पताल में वेंटिलेटर से लेकर कोविड मरीजों के इलाज के लिये जरूरी सभी सुविधाएं मुहैया होंगी। बोइंग कंपनी ने अस्पताल बनाने का प्रस्ताव देते हुए इसके लिये गोरखपुर में जगह मांगी है। माना जा रहा है कि इस अस्पताल को बनाने के लिये गोरखपुर एम्स का चयन किया जा सकता है। कहा जा रहा है कि मुख्यमंत्री की ओर से भी इसके चयन को मंजूरी देते हुए तत्काल तैयारियां शुरू करने को कहा है।

 

जिला प्रशासन को मिले बोइंग कंपनी की ओर से मिले प्रस्ताव के बाद गोरखपुर पहुंचे मुख्यंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर में इसको लेकर वहां के कमिश्नर जयंत नार्लिकर से बात की। जानकारी के मुताबिक कमिश्ननर और डीएम की ओर से एम्स को इसके लिये सबसे बेहतर विकल्प बताया।


कोविड अस्पतालों के लिये तलाशें जगह

मुख्यमंत्री ने कहा है कि सूबे में चिकित्सकीय सुविधाओं के तेजी से विस्तार के लिये सरकार सरकारी संसाधनों के साथ विभिन्न कार्पोरेट और मल्टी नेशनल कंपनियों से सहयोग लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अस्पतालों के लिये जगह का चयन पहले से कर लें। अधिकारियों को कोविड अस्पतालों के लिये दूसरे विकल्प तलाशने के भी निर्देशे दिये है। उन्होंने कहा कि कोविड अस्पताल बनाने के लिये आगे आने वाली कंपनियों के लिये जगह का विकल्प तैयार रखें, ताकि इसमें देरी न हो। कहा कि संक्रमितों का इलाज करने के लिये सरकार दृढ़ संकल्पित है और एक-एक जान बचाने का प्रयास किया जा रहा है।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned