यूपी के इस शहर में लोगों को रोजगार के साथ मिलेगा बेहतर इलाज, जानिए कैसे

यूपी के इस शहर में लोगों को रोजगार के साथ मिलेगा बेहतर इलाज, जानिए कैसे

Virendra Kumar Sharma | Publish: Mar, 14 2018 11:14:18 AM (IST) Greater Noida, Uttar Pradesh, India

यमुना अथाॅरिटी आैर यूके की कंपनी के बीच हुआ करार, होगा 1500 करोड़ का निवेश

 

ग्रेटर नोएडा. जेवर एयरपोर्ट के साथ में यमुना एरिया मेडिकल के नाम से भी जाना जाएगा। यूके की कंपनी इंडो-यूके इंस्टीटयूट आॅफ हेल्थ यमुना एरिया में मेडिकल कॉलेज, जैनेटिक्स रिसर्च सेंटर, एक हजार बेड का अस्पताल, फाइव स्टार होटल, नर्सिग होम आदि बनाएगी। यूके की कंपनी इस एरिया में करीब 1500 करोड़ रुपये का निवेश करने जा रही है। इसके लिए कंपनी और यमुना अथॉरिटी के अधिकारियों के बीच में एमओयू साइन हो चुका है।

यह भी पढ़ें: VIDEO: इस सुपरहिट मूवी में काम कर चुकी यह लड़की नहीं बनना चाहती बॉलीवुड की टॉप एक्ट्रेस, जानिए क्यों?

अथॉरिटी अधिकारियों की माने तो यूके की कंपनी इस एरिया को मेडिसिटी डिवलेप करेगी। कंपनी की तरफ से सेक्टर-22 में एक हजार बेड वाला मल्टी स्पेशिऐलिटी हेल्थ सर्विस अस्पताल बनाएगी। कंपनी की तररफ से 1500 करोड़ रुपये का निवेश होने के बाद में करीब 10 हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार भी मिलेगा। यमुना अथॉरिटी के सीईओ डॉक्टर अरुणवीर सिंह ने बताया कि कंपनी इस एरिया में 100 एकड़ जमीन में मेडिसिटी बनाएगी। यहां एक हजार बेड वाला अस्पताल, 150 सीट का मेडिकल कॉलेज, 200 सीट वाला नर्सिग कॉलेज, ई-हेल्थ यूनिट, रेजीडेंशयल सेक्टर के अलावा मेडिकल टूरिज्म और फाइव स्टार होटल भी कंपनी की तरफ से बनाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: एयर टिकट देकर करते थे ऐसा काम, पुलिस ने किया मास्टर माइंड को गिरफ्तार

सीईओ डॉक्टर अरुणवीर सिंह ने बताया कि यूके की कंपनी से एमओयू साइन हो चुका है। साथ ही कंपनी के अधिकारी भी जमीन को देख चुके है। उन्होंने बताया कि कंपनी के अधिकारियों को जमीन पंसद है। अथॉरिटी के पास में प्रोजेक्ट के लिए जमीन उपलब्ध है। जल्द ही कंपनी को जमीन अलॉट कर दी जाएगी। दरअसल में जेवर एयरपोर्ट की आहट के बाद में इस एरिया में विदेशी निवेशकों की नजर है। इससे पहले भी कई देश की कपंनी जमीन खरीदने में रुचि दिखा चुकी है। वहीं अब मेडिसिटी के लिए भी यूके की कंपनी ने एमओयू साइन किया है। माना जा रहा है कि जल्द ही यमुना एरिया भी नोएडा और ग्रेटर नोएडा की तर्ज पर डिवलेप हो जाएगा।

पकौड़ा बेचने को रोेजगार बताना पीएम मोदी पर पड़ेगा भारी, अन्ना के नेतृत्व में लाखों छात्र खोलेंगे मोर्चा

Ad Block is Banned