ईरान को लग सकता है बड़ा झटका, सऊदी ने GCC सम्मेलन में विश्व समुदाय से की कार्रवाई की मांग

ईरान को लग सकता है बड़ा झटका, सऊदी ने GCC सम्मेलन में विश्व समुदाय से की कार्रवाई की मांग

Anil Kumar | Publish: May, 31 2019 05:46:49 AM (IST) | Updated: May, 31 2019 06:55:59 AM (IST) गल्फ

  • अमरीका ने ईरान पर कई तरह के पाबंदी लगाई है,जिससे ईरान की अर्थव्यस्था गिरती जा रही है।
  • ईरान और अमरीका के बीच तनाव को लेकर गल्फ देशों में भी हलचलें बढ़ गई हैै।
  • अमरीकी प्रतिबंधों को खत्म कराने के लिए ईरान ने पश्चिमी देशों को धमकी दी थी।

मक्का। अमरीका ( America ) और ईरान ( Iran ) के बीच विवादों का असर गल्फ देशों में दिख रहा है। ईरान की हरकतों को देखते हुए सऊदी किंग सलमान ( Saudi King Salman ) ने गुरुवार को ईरान के खिलाफ विश्व के देशों से अंतर्राष्ट्रीय रुख का आह्वाण किया। उन्होंने विश्व के देशों से आग्रह किया कि ईरान वैश्विक सुरक्षा और तेल आपूर्ति के प्रवाह के लिए खतरा है। सऊदी के पवित्र शहर मक्का में गल्फ कोऑपरेशन काउंसिल (GCC) की एक आपातकालीन शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए सलमान ने कहा कि अरब क्षेत्र के मामलों में ईरान के हस्तक्षेप और उसके परमाणु व बैलिस्टिक कार्यक्रमों के विकास में संयुक्त राष्ट्र का चार्टर मदद कर रहा है। 'हमें ईरानी प्रथाओं के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की आवश्यकता है, जो विश्व सुरक्षा और शांति के लिए खतरा पैदा करता है और सभी साधनों का उपयोग अन्य देशों के आंतरिक मामलों में आतंकवादी गतिविधियों के प्रायोजन को रोकने के लिए करता है।'

म्यूलर रिपोर्ट पर अमरीका में चढ़ा सियासी पारा, ट्रंप ने माना- रूस ने की थी मदद, फिर बयान से पलटे

ईरान के खिलाफ मोर्चाबंदी

बता दें कि इस महीने की शुरुआत में किंग सलमान ने मक्का में Gulf Cooperation Council (GCC) countries GCC और अरब शिखर सम्मेलन आयोजित करने का आह्वाण किया था। दरअसल, यमन के विद्रोही संगठन हौती ने सऊदी के तेल प्रतिष्ठानों व सैन्य शिविरों को निशाने बनाते हुए ड्रोन से हमला किया था। जिसके बाद सऊदी ने भी कार्रवाई करते हुए यमन पर मिसाइल दागे थे। इसमें कई लोगों की मौत हो गई थी। सऊदी का आरोप था कि हौती विद्रोहियों ने ईरान के इशारे यह हमला किया था। इस हमले के बाद गल्फ में तनाव काफी बढ़ गया था। क्षेत्र की सुरक्षा व शांति के साथ स्थिरता बनाए रखने के लिए किंग सलमान ने आपात अरब देशों की बैठक बुलाई थी। सऊदी के अलावा जीसीसी में यूएई, कुवैत, ओमान, कतर और बहरीन शामिल हैं। कतर, जो सऊदी अरब, यूएई और बहरीन के साथ एक राजनयिक संबंध है, जिन्होंने अपने प्रधानमंत्री को शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए भेजा।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned