Hajj के लिए मक्का पहुंच रहे श्रद्धालु, दो-तिहाई विदेशी एक तिहाई सऊदी नागरिक होंगे शामिल

Highlights

  • हर साल दुनियाभर से करीब 25 लाख लोग हज यात्रा (Hajj) पर जाते हैं, इस बार इनकी संख्या सीमित रखी है।
  • यात्रियों की संख्या को कम रखा जाएगा, इनकी संख्या 1,000 से 10,000 के बीच है।

By: Mohit Saxena

Updated: 29 Jul 2020, 09:58 AM IST

दुबई। कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के कारण हज यात्रा में काफी विलंब हुआ है। इस बीच सऊदी सरकार (Saudi Government) ने दोबारा से इस यात्रा को बुधवार खोल दिया। सादगी और सावधानी से शुरू होने जा रहे हज के लिये मुस्लिम श्रद्धालु मक्का पहुंच रहे हैं। हर साल दुनियाभर से करीब 25 लाख लोग हज यात्रा पर जाते हैं।

इस बार कोविड-19 (Covid-19) के कारण हाजियों की संख्या में काफी कमी आई है। सऊदी अरब (Saudi Arab) के हज मंत्रालय के अनुसार इस बार पहले से तय किया गया है कि यात्रियों की संख्या को कम रखा जाएगा। इस साल पहले से ही देश में रह रहे लोग ही हज कर सकेंगे। इनकी संख्या 1,000 से 10,000 के बीच है। इनमें दो-तिहाई विदेशी एक तिहाई सऊदी नागरिक होंगे।

सऊदी अरब से कोरोना वायरस के मामलों के देखते हुए यहां की सरकार ने ऐसे कदम उठाए हैं। यहां पर अब तक 2,66,000 से अधिक लोग संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से 2,733 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। कोरोना वायरस के कारण सऊदी अरब में हाजियों को सतर्कता बरतने को कहा गया है। विदेश नागरिकों को सऊदी सरकार विशेष ऐहतियात बरत रही है। एक मामले में सरकार ने अरब में पढ़ाई कर रहीं मलेशियाई नागरिक फातिन दाऊद को हज इजाजत दी है। मगर उन्हें इस दौरान कई सावधानियां बरतनी होगी।

फातिन के चुनाव के बाद सऊदी स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी उनके घर आए थे। उनकी कोविड-19 जांच की गई। इसके बाद उन्हें इलेक्ट्रॉनिक ब्रेसलेट दिया गया। इससे उनकी आवाजाही की निगरानी की जाती है। इसके अलावा उन्हें कई दिन तक के लिये घर में क्वारंटाइन रहने के लिए कहा गया है।

Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned