script Crime in MP: शव की तलाश में नाले में उतारा हत्यारा, बोला 15 पॉलीथिन में टुकड़े भरकर फेंके | Crime in MP Murder accused arrested body parts in pieces pack in 15 Polly bags police investigation | Patrika News

Crime in MP: शव की तलाश में नाले में उतारा हत्यारा, बोला 15 पॉलीथिन में टुकड़े भरकर फेंके

locationग्वालियरPublished: Nov 27, 2023 10:51:41 am

Submitted by:

Sanjana Kumar

Crime in MP: मास्टरमाइंड का पुलिस में गहरा नेटवर्क, बचने के लिए वारंट निकलवा कर जेल गया

murder_case_of_gwalior_raju_khan_police_with_accused_searching_body_parts.jpg
इनसेट मृतक राजू खान तथा आरोपी के साथ शव के टुकड़े तलाशती पुलिस
झाडूवाला मौहल्ला (इंदरगंज) में राजू खान 40 की हत्या कर उसकी लाश के टुकडों को नशा तस्कर कल्लू खान और उसके बेटे नाजिम ने 15 पॉलीथिन में भरकर स्वर्ण रेखा नाले में फेंका था। पुलिस के हाथ आया नाजिम बता रहा है रामकुई पुल से इन टुकडों को नाले में फेंकना शुरू किया और कमानी पुल के पास तक फेंका। उसके बाद बेफ्रिक हो गए। प्लान था नाले में पुलिस झांकेगी नहीं, जब तक शक होगा टुकड़े गल सड़ जाएंगे। हत्या का सबूत ही खत्म हो जाएगा तो पुलिस कुछ नहीं कर पाएगी। उधर हत्यारों को पुलिस में भी गहरा नेटवर्क सामने आ रहा है। नृशंस हत्याकांड में बचने के लिए कल्लू ने पुलिस से दोस्ती का फायदा उठाया है। जनकगंज पुलिस उसे हत्याकांड में तलाश रही थी, इसी दौरान क्राइम ब्रांच ने उसे नशा कारोबार में पकड़ कर जेल भेज दिया। इसकी भनक अधिकारियों को भी लगने दी। नाजिम पकड़ा गया तब पता चला कि कल्लू तो जेल में है।

नाले में उतारा हत्यारा, बोला टुकड़े फेंके तो यही थे
कल्लू और नाजिम ने लाश के टुकड़े रामकुई पुल से करीब एक किलोमीटर दूर कमानी पुल तक तीन जगहों पर राजू की लाश के टुकड़े नाले में फेंके थे। उन्हे तलाशने के लिए रविवार को जनकगंज पुलिस ने नाजिम का जीवाजीगंज पुल के पास नाले में उतारा। नाजिम यहां कचरे के ढ़ेर में कुछ टुकड़े फेंकना बताए थे। लेकिन दीवाली पर नगरनिगम कचरे के ढ़ेर को साफ कर चुका है। इसलिए तलाशी में कुछ नहीं मिला। उससे थोडी दूर पुलिया पर के पास भी नाले को खंगाला गया। दोनों जगह पुलिस खाली हाथ रही।

नगरनिगम की टीम के साथ फिर सर्चिंग
पुलिस की नजर में राजू की लाश के टुकड़े स्वर्ण रेखा में ही हैं। इसलिए सोमवार को नगरनिगम की टीम के साथ रामकुई पुल से कमानी पुल के पास तक नाले को फिर खंगाला जाएगा। पुलिस अधिकारी मान रहे हैं नाजिम गुमराह कर रहा है। वह नहीं चाहता नाले से राजू की लाश के बचे हुए टुकड़े हाथ आएं।

ऐसे काम आई पुलिस से दोस्ती

- राजू के परिजन का आरोप 21 सितंबर को राजू को कल्लू ने राजीनामा के लिए बुलाया। घर में उसकी हत्या की।

- दूसरे दिन बहोड़ापुर थाने में राजू का गुमइंसान दर्ज कराया। उसके साथ वारदात और कल्लू पर शक भी जाहिर किया। लेकिन उनकी बात नहीं सुनी गई।

- 28 सितंबर को स्वर्ण रेखा नाले में राजू की लाश के टुकड़े मिले तब कल्लू परिवार समेत फरार हो गया।

- राजू की डीएनए रिपोर्ट पॉजीटिव आई तब जनकगंज पुलिस उसकी तलाश मे जुटी। यहां फिर उसे बचाने की कोशिश हुई।

- कल्लू पर क्राइम ब्रांच मे नशा तस्करी का केस दर्ज था। लेकिन उसे पकड़ा गया नहीं गया।

- वह खुलेआम दुकान पर बैठता था। अब हत्याकांड में पकड़ा जाना था तो पुराने वारंट के सहारे उसे जेल भेजा गया।

सीएसपी को जांच
एसएसपी राजेश चंदेल ने राजू खान की नृशंस हत्या की जांच सीएसपी षियाज केएम को सौंपी है। आदेश जारी किया है प्रकरण की गहनता से जांच कर शीघ्र निराकरण किया जाए ।

हत्याकांड में पुख्ता सबूत इक्टठा
हत्या कर लाश के टुकड़े कर नाले में फेंकने की वारदात में आरोपियों के खिलाफ पुख्ता सबूत जुटाए जा रहे हैं। हत्या के मास्टरमाइंड को भी दो दिन बाद जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाया जाएगा। लाश के कटे हुए टुकडों की तलाश में सोमवार को फिर स्वर्ण रेखा नाले को सर्च किया जाएगा।
- षियाज केएम लश्कर और क्राइम ब्रांच सीएसपी

ट्रेंडिंग वीडियो