IAF चीफ बोले- बालाकोट में हमने सैन्य लक्ष्य हासिल किया, राफेल होता तो परिणाम अलग होते; एयरस्पेस में नहीं घुस पाया पाक

  • पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक की थी।
  • पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

By: Pawan Tiwari

Published: 24 Jun 2019, 12:22 PM IST

ग्वालियर. कारगिल विजय दिवस के समारोह में भारतीय वायुसेना ( Indian Air Force )के प्रमुख बीएस धनोआ ( BS Dhanoa ) मध्यप्रदेश के ग्वालियर एयरबेस पहुंचे। यहां उन्होंने मीडिया को संबोधित करते हुए बालाकोट एयर स्ट्राइक ( balakot air strike ) को लेकर बड़ा बयान दिया। बीएस धनोआ का कहना है कि पुलवामा हमले के बाद बालाकोट में एयर स्ट्राइक करते हुए भारत ने अपना सैन्य लक्ष्य हासिल कर लिया। उन्होंने कहा- बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान का कोई भी लड़ाकू विमान भारत की हवाई सीमा में नहीं आया था। हमारा उद्देश्य आतंकी शिविरों पर हमला करना था और उनका उद्देश्य हमारी सेना को निशाना बनाना था। हमने अपने सैन्य उद्देश्य हासिल किया। वहीं, पाकिस्तान का कोई भी लड़ाकू विमान हमारे क्षेत्र में नियंत्रण रेखा को पार नहीं कर सका।

 

राफेल होते तो परिणाम कुछ अलग होता
एयर फोर्स के प्रमुख ( Air Chief Marshal ) बीएस धनोआ ने कहा कि अगर बालाकोट एयर स्ट्राइक ( air strike ) के समय हमारे पास राफेल ( Rafale ) होता तो आज परिणाम कुछ और होते। उन्होंने कहा कि भारत अब पांचवी जनरेशन में प्रवेश कर रहा है। भारत अपने दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देने की क्षमता रखता है।

 

हमारी अर्थव्यवस्था मजबूत
वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने कहा- पाकिस्तान ने अपना हवाई क्षेत्र बंद कर दिया है जो उनकी समस्या है। हमारी अर्थव्यवस्था जीवंत है और हवाई यातायात हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है। वायु सेना ने कभी अपने नागरिकों के लिए हवाई यातायात को नहीं रोका। केवल 27 फरवरी, 2019 को हमने श्रीनगर हवाई क्षेत्र को 2-3 घंटे के लिए बंद कर दिया था। वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था बहुत बड़ी है और उनकी तुलना में अधिक मजबूत है।

 

पाक हमारे एयरस्पेस में नहीं घुस सका
वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने बालाकोट एयर स्ट्राइक के बारे में आगे कहा, 'कितने आए कहां गए कैसे किया और किस तरह का कॉम्बैट हुआ। हमने अपना मिलिट्री ऑब्जेक्टिव अचीव किया। उन्होंने अपना ऑब्जेक्टिव अचीव नहीं किया। पर उनमें से कोई हमारे एयरस्पेस में नहीं आया।

 

तनाव के बावजूद हवाई मार्ग बंद नहीं किया
वायुसेना चीफ धनोआ ने कहा, 'वायुसेना को जो टास्क सरकार देती है हम उसके लिए हमेशा तैयार रहते हैं हम लाशें नहीं गिनते हैं। बालाकोट के बाद पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस बंद किया है यह उनका प्रॉब्लम है। उनकी इकॉनमी अलग है। हमारी इकॉनमी में एयरस्पेस अहम हिस्सा है। हमने अपने देश के नागरिकों के लिए कभी भी हवाई मार्ग को बंद नहीं किया। 27 फरवरी 2019 को केवल 2-3 घंटे के लिए हमने श्रीनगर में हवाई मार्ग बंद किया था। पाकिस्तान के साथ तनाव हमारे सिविल एविएशन को बाधित नहीं करता क्योंकि हमारी इकॉनमी उनसे कहीं ज्यादा बड़ी और मजबूत है।

Show More
Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned