scriptIf you send provocative message on social media police took action | 'अग्निपथ' आंदोलन : सोशल मीडिया पर भड़काऊ मैसेज किया तो खैर नहीं, एक्शन में पुलिस | Patrika News

'अग्निपथ' आंदोलन : सोशल मीडिया पर भड़काऊ मैसेज किया तो खैर नहीं, एक्शन में पुलिस

पुलिस अधीक्षक और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने एक आरोपी को सोशल मीडिया पर झूठी अफवाह और भड़काऊ मैसेज फैलाने के मामले में गिरफ्तार किया है।

ग्वालियर

Published: June 19, 2022 02:53:10 pm

ग्वालियर. केंद्र सरकार द्वारा शुरु की जा रही 'अग्निपथ' योजना की घोषणा होते ही मध्य प्रदेश समेत देश के अलग अलग राज्यों में शुरु हुए प्रदर्शन ने ग्वालियर समेत कई शहरों में हिंसक रूप दारण कर लिया है। बिहार से उठी हिंसक लपटें देखते ही देखते मध्य प्रदेश के ग्वालियर को भी अपनी चपेट में ले लिया। प्रदर्शनकारियों ने ना सिर्फ सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया बल्कि आमजन के आवागमन भी बहुत हद तक बाधित की। शहर में हुए उपद्रव के बाद ग्वालियर प्रशासन और पुलिस ने जैसे तैसे उपद्रवियों पर काबू किया है।

News
'अग्निपथ' आंदोलन : सोशल मीडिया पर भड़काऊ मैसेज किया तो खैर नहीं, एक्शन में पुलिस

जानकारो का कहना है कि, ग्वालियर में बिगड़ने वाले हालातों को इंटेलिजेंस फेलियर का बड़ा प्रमाण है। लेकिन, इस उपद्रव के बाद ग्वालियर पुलिस ने हर तरफ चौकसी बढ़ा दी। इसी चौकसी के चलते ग्वालियर पुलिस अधीक्षक और ग्वालियर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने एक आरोपी को सोशल मीडिया पर झूठी अफवाह और भड़काऊ मैसेज फैलाने के मामले में गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़ें- लाखों पेंशनरों के लिए पुरानी पेंशन-DR Hike पर आया नया अपडेट, पूर्व CM की सरकार से खास मांग


ये मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल

बता दें कि, बीते शनिवार ग्वालियर पुलिस की साइबर क्राइम सेल को एक जानकारी मिली, जिसमें कहा गया कि, इस शख्स द्वारा सोशल मीडिया पर चुनाव नहीं होने देने के संबंध में तथा ग्वालियर में चल रही नामांकन प्रक्रिया को रोकने के लिए एक ऑडियो मैसेज भेजा था। मैसेज में जिस भाषा का उपयोग किया गया वो भड़काऊ थी, ऐसे में ग्वालियर पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार किया है।


पुलिस ने इस तरह लिया एक्शन

मैसेज की जानकारी लगते ही पुलिस ज्ञात नंबर की मदद से इस शख्स की जानकारी जुटानी शुरू करी। पड़ताल में सामने आया कि, जिस मोबाइल से ये मैसेज सबसे पहले शेयर हुआ वो यूजर भितरवार तहसील के बागबई गांव का रहने वाला है और मौजूदा समय में चंद्रबदनी नाके पर रहता है। जब पुलिस द्वारा इस व्यक्ति के नंबर की ट्रेस किया गया तो उसकी लोकेशन गोल पहाड़िया चौराहे पर आई। पुलिस ने स्पॉट पर पहुंचकर उसे दबोच लिया।


आरोपी ने बड़काऊ मैसेज करना कबूला

पूछताछ के दौरान इस व्यक्ति ने व्हाट्सएप पर भड़काऊ मैसेज भेजना और समाज में द्वेष भावना के साथ चुनाव प्रक्रिया को बाधित करने का विचार स्वीकारा। आपको बता दें, शक्स के गुनाह कुबूलने के बाद पुलिस ने व्यक्ति का मोबाइल जप्त कर उसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

ट्रक में फंसने से टूटा तार , सुधारते वक्त चालू कर दी बिजली सप्लाई, वीडियो में जानें फिर क्या हुआ

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.