किसान नेता चढूनी बोले, एमएसपी की गारंटी बगैर नहीं हटेेंगे पीछे

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। इसी क्रम में भारतीय किसान यूनियन हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत की ओर से कही गई 40 लाख ट्रैक्टरों से संसद घेरने की बात को यह कहकर नजरअंदाज कर दिया कि इसका जवाब उनके पास नहीं है।

 

By: Purushottam Jha

Published: 27 Feb 2021, 09:31 AM IST

किसान नेता चढूनी बोले, एमएसपी की गारंटी बगैर नहीं हटेेंगे पीछे
-आज मनाएंगे मजदूर-किसान एकता दिवस
हनुमानगढ़. केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। इसी क्रम में भारतीय किसान यूनियन हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत की ओर से कही गई 40 लाख ट्रैक्टरों से संसद घेरने की बात को यह कहकर नजरअंदाज कर दिया कि इसका जवाब उनके पास नहीं है। दरअसल पदमपुर में आयोजित किसान महापंचायत में शामिल होने जाते समय हनुमानगढ़ रूके गुरनाम सिंह चढूनी मीडिया कर्मियों से बातचीत के दौरान उनके सवालों का जवाब दे रहे थे। इसी दौरान गत दिनों नोहर में आयोजित किसान महापंचायत में शामिल हुए राकेश टिकैत की ओर से 40 लाख ट्रैक्टरों के साथ दिल्ली में संसद घेरने के एक सवाल के जवाब में चढूनी ने कहा कि यह बात जिन्होंने कही, उसी से पूछें, इस सवाल का जवाब उनके पास नहीं है। चढूनी ने कहा कि आंदोलन की कड़ी में उन प्रदेशों में किसान महापंचायतें भी की जाएंगी जहां चुनाव होंगे। वहां जाकर लोगों को जागरूक किया जाएगा कि केंद्र सरकार कॉरपोरेट घरानों की सरकार है। आमजन चाहे वो किसान-मजदूर या व्यापारी है, उन सबका शोषण किया जा रहा है। केंद्र सरकार पूरे देश की सम्पति को बेच चंद पूंजीपतियों को पालने का काम कर रही है। इसको लेकर संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से पूरे देश में अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने साफ कहा कि अगर किसान आंदोलन 2024 तक भी चलाना पड़ा तो चलाएंगे लेकिन तीनों काले कानून वापस करवाए और एमएसपी गारंटी के बगैर पीछे नहीं हटेंगे। मलकीत सिंह मान, सौरभ राठौड़, गुरमेल सिंह, शैलेन्द्र मेघवाल, प्रेमराज नायक आदि ने हल भेंट कर किसान नेता चढूनी का सम्मान भी किया।
वहीं संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से घोषित युवा किसान दिवस डबली राठानरासर टोल प्लाजा पर मनाया गया। इस अवसर पर गीत कविता और विचारों के जरिए किसान विरोधी तीनों कृषि कानूनों के बारे में जानकारी दी गई। साथ में केंद्र सरकार से मांग की गई कि बेरोजगारों को रोजगार दो। रघुवीर सिंह वर्मा ने बताया कि 27 फरवरी को संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा मजदूर किसान एकता दिवस मनाया जाएगा इसी को लेकर हनुमानगढ़ जंक्शन में लाल चौक से लेकर मजदूर किसान मानव संखला बनाएंगे।

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned