कुर्सी से उठने-बैठने को लेकर एसडीएम व चिकित्सक भिड़े, दोनों में जमकर बहस

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. जिले के गोलूवाला उप तहसील के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में बुधवार शाम निरीक्षण के दौरान पीलीबंगा एसडीएम व सीएचसी प्रभारी के बीच विवाद हो गया। दोनों के बीच कुर्सी से उठने-बैठने को लेकर बहस हुई। इससे कुछ देर तनातनी की स्थिति रही।

कुर्सी से उठने-बैठने को लेकर एसडीएम व चिकित्सक भिड़े, दोनों में जमकर बहस
- गोलूवाला सीएचसी के निरीक्षण के दौरान हुई घटना
- आईएमए ने जताया घटना पर रोष
हनुमानगढ़. जिले के गोलूवाला उप तहसील के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में बुधवार शाम निरीक्षण के दौरान पीलीबंगा एसडीएम व सीएचसी प्रभारी के बीच विवाद हो गया। दोनों के बीच कुर्सी से उठने-बैठने को लेकर बहस हुई। इससे कुछ देर तनातनी की स्थिति रही। जानकारी के अनुसार पीलीबंगा एसडीएम प्रियंका तलानिया शाम को सीएचसी का निरीक्षण करने पहुंची। प्रभारी चिकित्सक नरेन्द्र बिश्नोई ने उनको दूसरी तरफ इशारा करते हुए बैठने के लिए कहा। इस पर उपखंड अधिकारी ने कहा कि आपको अधिकारी से बातचीत व व्यवहार करने का सलीका नहीं है। आप अपना काम करें। मगर अधिकारी के साथ तमीज से तो बात करें।
यद्यपि एसडीएम ने इस तरह की घटना से इनकार किया है। अस्पताल का सामान्य निरीक्षण करने की बात कही। मगर डॉक्टर नरेन्द्र कुमार ने दुव्र्यवहार का आरोप लगाया है। निरीक्षण के दौरान एसडीएम के साथ गोलूवाला थाना प्रभारी व तहसीलदार भी थे। उन्होंने चिकित्सक को समझाया कि एसडीएम मजिस्टे्रट होता है। प्रोटोकोल होता है। सीएचसी प्रभारी ने बताया कि शाम को उपखंड अधिकारी सीएचसी पहुंची। उनको खड़े होकर दूसरी कुर्सी पर बैठने के लिए कहा। मगर उन्होंने मेरी कुर्सी पर बैठने की बात कही तो उनका बताया कि मरीज देख रहा हूं। यहां सब सेट सेटअप लगे हुए हैं। आप सामने की कुर्सी पर बैठ जाइए। मगर उन्होंने दुव्र्यवहार करते कहा कि आपका दिमाग सेटअप नहीं है। हालांकि इसके बाद वे दूसरे कमरे में चली गई तथा कामकाज जांचा।

आईएमए में रोष
इस घटना पर आईएमए ने रोष जताया है। आईएमए अध्यक्ष निशांत बतरा ने बताया कि चिकित्सक से इस तरह का व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। अगर एसडीएम ने घटना को लेकर माफी नहीं मांगी तो आईएमए विरोध का रास्ता अपनाएगा।

adrish khan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned