scriptSisters tie a protective thread on brother's wrist, pray for prayers | बहनों ने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांध, मांगी दुआ | Patrika News

बहनों ने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांध, मांगी दुआ

locationहनुमानगढ़Published: Aug 22, 2021 10:09:22 pm

Submitted by:

adrish khan

बहनों ने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांध, मांगी दुआ
हनुमानगढ़. भाई बहन के अटूट प्रेम का प्रतीक रक्षाबंधन का पर्व जिले में रविवार को मनाया गया।

बहनों ने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांध, मांगी दुआ
बहनों ने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांध, मांगी दुआ
बहनों ने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांध, मांगी दुआ
हनुमानगढ़. भाई बहन के अटूट प्रेम का प्रतीक रक्षाबंधन का पर्व जिले में रविवार को मनाया गया। बहनों ने भाइयों की कलाई पर राखी बांधकर दीप दिखाकर उनके दीर्घायु होने की कामना की। वहीं भाईयों ने भी उपहार के तौर पर उसकी रक्षा करने का संकल्प लिया। इस दौरान बहनों ने दुकानों पर अपनी पसंद की राखियां खरीदी। तो भाईयों ने उपहार खरीदे।
बाजार में मिठाई एवं गिफ्ट की दुकानों पर भीड़ रही। पर्व को लेकर बस स्टैंड पर यात्रियों का तांता लगा रहा। बसों में अधिक भीड़ होने के कारण महिला यात्रियों को खासी परेशानी झेलनी पड़ी। पर्व के अवसर पर जिले के अधिकांश घरों में विभिन्न तरह के व्यंजन बनाये गये। इसके अलावा सोशल मीडिया पर भी धूम मची। भाई-बहन के इस अटूट पर्व पर अपने बहनों से राखी नहीं बंधवाने पर भाई-बहनों ने सोशल मीडिया के माध्यम से रक्षा बंधन की एक-दूसरे को बधाई दी।
थाने में मनाया रक्षाबंधन का त्योहार
हनुमानगढ़. रक्षाबंधन का त्योहार जिले में धूमधाम से मनाया गया। जंक्शन थाना में रविवार को कुछ बहनें पुलिस जवानों को राखी बांधने पहुंची। जंक्शन थाना प्रभारी नरेश गेरा ने ऐसे आयोजन होते रहने की जरूरत बताई। इसी तरह पुलिस लाइन में भी कार्यक्रम हुआ।
कार्यक्रम का किया आयोजन
हनुमानगढ़. प्रजापिता ब्रह्कुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की ओर से बीके शिला ने जिला जेल में केदियों को राखी बांधी। ब्रह्मकुमारी आश्रम में कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया।
संगरिया. भाई बहन के प्रेम के पर्व रक्षाबंधन का आयोजन रविवार को क्षेत्र में हर्षोल्लास से किया गया। इस बार भी रक्षाबंधन पर कोरोना के चलते अलग-अलग स्थानों पर पढने वाले भाई-बहन एक साथ उपस्थित रहे। बड़ी संख्या में घर पर बनी व सजाई गई राखियों का उपयोग किया गया। बाजार में पूरे दिन अच्छी संख्या में ग्राहकी देखने को मिली। मिठाई व उपहार की दुकानों पर अच्छी बिक्री देखने को मिली। मिठाई से बनाई गई राखी भी छोटे बच्चों द्वारा पसंद की गई।(नसं.)
झुग्गी झोंपडियों में पहुंच बंधवाई राखी
रावतसर. भाई बहन के स्नेह के प्रतीक का त्यौहार रक्षा बंधन कस्बे में धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर बहनों ने भाईयों की कलाई पर राखी बांध कर सदैव रक्षा करने व भाईयों की सुख स्मृद्धि की कामना की। बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष जितेन्द्र गोयल द्वारा रक्षा बंधन का त्यौहर झुग्गी झौंपडिय़ों में जाकर नन्ही बालिकाओं से राखी बंधवाकर मनाया गया। मन की उड़ान फाउण्डेशन के अध्यक्ष संदीप कालेरा ने उनकी सार संभाल एवं सुरक्षा का भरोसा दिलाया। इस अवसर पर समिति अध्यक्ष जितेन्द्र गोयल व मन की उड़ान फाउण्डेशन द्वारा बालिकाओं को उपहार भेंट किए। इस अवसर पर अमित भाटी, संजय वर्मा आदि मौजूद रहे।
टिब्बी. भाई-बहन के स्नेह का प्रतीक रक्षाबंधन का पर्व रविवार को क्षेत्र में पारम्परिक श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया गया। इस दौरान बहनों ने भाइयों की कलाई पर राखी बांधकर उनकी दीर्घायु की कामना की, वहीं भाइयों ने बहनों को उपहार देकर उनकी सुरक्षा का वचन दिया। रक्षाबंधन पर्व के दौरान कस्बे के बाजार में काफी चहल-पहल रही। प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के स्थानीय अध्ययन केन्द्र पर आयोजित कार्यक्रम में केन्द्र प्रभारी ब्रह्माकुमारी बहन अनिता व रावतसर केंद्र प्रभारी बहन निलिमा ने रक्षाबंधन के पर्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने मन,वचन और कर्म से श्रेष्ठ नागरिक बनने का आह्वान किया। साथ ही रक्षाबंधन के अध्यात्मिक महत्व की जानकारी दी गई। इस दौरान संस्था में नियमित रूप से आने वाले भाई-बहनों को ब्रह्मकुमारी अनिता बहन और निलिमा बहन ने रखी बांधी। इसके तहत ब्रह्माकुमारी बहन अनिता ने स्थानीय थाने में थानाधिकारी व अन्य पुलिस कर्मियों को रक्षा सूत्र बांधकर उनकी दीर्घायु तथा स्वस्थ एवं मंगल जीवन की कामना की।
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों ने कस्बे की सेवा बस्ती में रक्षाबंधन पर्व मनाया। इस दौरान स्वयंसेवकों ने सेवा बस्ती की बहनों से राखी बंधवाई व बच्चों को मिठाई बांटी। इस मौके पर सदस्यों ने पौधरोपण किया तथा उनकी सुरक्षा के लिए गार्ड लगाए। इस दौरान संजय सिंह, प्रहलाद सिंह, भरत गौड, कुलवंत सुथार, गोविन्द, गौरीशंकर हुडा सहित अनेक कार्यकत्र्ता मौजूद थे।
टोपरिया. रक्षाबंधन के पर्व को लेकर ग्रामीण क्षेत्र में महिलाएं कुछ दिन पहले ही बाजार से राखी खरीद लेती हैं और जैसे जैसे समय मिलता है, अपने भाइयों को राखी बांधती हैं। गांव में रक्षाबंधन के इस पवित्र त्यौहार को बहन अपने भाई के राखी बांधकर अपनी खुशियां प्रकट की।
फेफाना. यहां भाई-बहन के पवित्र बंधन के पर्व रक्षाबंधन को लेकर काफी उत्साह नजर आया। बहनों ने अपने भाइयों की कलाइयों पर रक्षा सूत्र बांधकर उनकी दीर्घायु की कामना की। दिनभर मुख्य बाजार में राखी खरीदने को लेकर खूब चहल-पहल नजर आई। उधर, स्थानीय आर्य समाज मंदिर में श्रावणी पूर्णिमा के मौके पर यज्ञ किया गया।
लिखमीसर। क्षेत्र में यह पर्व धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर बहनों ने भाइयों की कलाई पर राखी बांधकर उनकी लंबी उम्र की कामना की। वहीं भाइयों ने बहिनों को उपहार स्वरूप नगद राशि तथा उपहार देकर उनको रक्षा का वचन दिया। इस अवसर पर दिन भर चहल-पहल देखने मिली। राखी तथा मिठाइयों की दुकानों पर दिन भर ग्राहकों की भीड़ लगी रही।
भाई बनकर रक्षा का दिया वचन
परलीका. भाजपा गोगामेड़ी मंडल द्वारा मंडल अध्यक्ष बलवान सिंह मेहरड़ा के नेतृत्व बहिनों से राखी बंधवा कर सुरक्षा और रक्षा का संकल्प लिया। मंडल अध्यक्ष बलवान सिंह मेहरड़ा ने बताया कि जिन बहिनों के भाई नहीं उन बहिनो से राखी बंधवाकर यह विश्वास दिलाया कि हम आपके भाई हैं। जिला परिषद सदस्य दीप चंद बेनीवाल ने कहा है कि सरकार लड़का लड़की एक समान मानती है, पढ़ाई में, नोकरी में यहां तक की राजनीति में सब बराबर हैं परंतु समाज की मानसिकता अभी कमजोर है। इसलिए आज बहिनों के सम्मान और उत्साहवर्धन के लिए घर घर जाकर रक्षा सूत्र बंधवा कर आशीर्वाद दिया। इस मौके मंडल महा मंत्री हनुमान भार्गव, चंद्र सेन, धर्मपाल, सूचित, रामसिंह, राजेश पंच, सुरेंद्र, मोहन, डॉ. कृष्ण बाटेसर और राम स्वरूप आदि मौजूद थे।
राखी बांध मनाया रक्षाबंधन पर्व
जाखड़ांवाली. रविवार को रक्षाबंधन पर्व क्षेत्र में बड़े उल्लास व उत्साह के साथ मनाया गया। बहनों ने भाईयों की कलाई पर रक्षासूत्र बांधकर लम्बी उम्र की कामना की तो भाईयों ने भी उपहार भेंट कर रक्षा का प्रण लिया। पूर्णिमा के अवसर पर घरों में अनेक प्रकार के पकवान बनाये गए। रक्षाबंधन के उपलक्ष में बस स्टैन्ड पर दिनभर ग्राहकों की भीड़ रहने से बाजार में रौनक रही। दुकानदारों ने भी दुकानों के आगे कांउटर लगाकर दुकानों को सजाया। पूर्णिमा के अवसर पर मंदिरों में भी श्रद्धालुओं का दिनभर तांता लगा रहा।
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.