हनुमानगढ़ के व्यापारी के मुनीम से मांगे दो करोड़, नहीं देने पर हत्या की धमकी

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. शहर के प्रमुख व्यापारी के मुनीम को जान से मारने की धमकी देकर दो करोड़ रुपए की फिरौती मांगने के मामले में जंक्शन पुलिस ने मंगलवार को दो जनों को प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया।

By: adrish khan

Published: 23 Feb 2021, 10:41 PM IST

हनुमानगढ़ के व्यापारी के मुनीम से मांगे दो करोड़, नहीं देने पर हत्या की धमकी
- खुद को लॉरेंस गैंग का बताने वाले आरोपी प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार
- जंक्शन पुलिस जुटी जांच में
हनुमानगढ़. शहर के प्रमुख व्यापारी के मुनीम को जान से मारने की धमकी देकर दो करोड़ रुपए की फिरौती मांगने के मामले में जंक्शन पुलिस ने मंगलवार को दो जनों को प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया। आरोपियों ने खुद को लॉरेंस का गैंग का सदस्य बताते हुए पैसे नहीं देने पर मुनीम को जान से मारने की धमकी दी थी। पुलिस ने आरोपी कार्तिक पुत्र राजेन्द्र कुमार निवासी दो केएलएम, रावला को श्रीगंगानगर स्थित केन्द्रीय कारागृह तथा आशीष बिश्नोई पुत्र प्रवीण बिश्नोई निवासी घड़साना को रायसिंहनगर जेल से गिरफ्तार कर यहां लाई है। उनको बुधवार को कोर्ट में पेश कर रिमांड मांगा जाएगा। इसको लेकर जंक्शन थाने में 26 जनवरी को मामला दर्ज कराया गया था।
जंक्शन थाना प्रभारी नरेश गेरा ने बताया कि रविकुमार धानका (38) पुत्र सतपाल धानका निवासी सेक्टर 12 ने रिपोर्ट दी थी कि व्यापारी इन्द्र हिसारिया पुत्र शिवकुमार हिसारिया निवासी जंक्शन के यहां वह मुनीमी का कार्य करता है। उसके मोबाइल फोन पर अज्ञात नम्बरों से 24 जनवरी को कई बार फोन आया। मगर उसने फोन नहीं उठाया। कुल 14 मिस्ड कॉल आई। इसके बाद 25 जनवरी को व्हाट्सएप कॉल आई तो उसने रिसीव कर ली। फोन पर अज्ञात जनों ने धमकाते हुए कहा कि वे लॉरेंस गैंग के लोग हैं। अगर जिंदा रहना चाहते हो तो दो करोड़ रुपए का प्रबंध कर लो। अगर पैसे नहीं दिए तो जान से मार देंगे। पुलिस ने परिवाद के आधार पर अज्ञात जनों के खिलाफ मामला दर्ज किया। मोबाइल नम्बर के आधार पर अज्ञात जनों के बारे में तथ्य जुटाए। अब दोनों को प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया गया है। पुलिस दोनों से रिमांड अवधि के दौरान मुनीम के मोबाइल नम्बर कहां से जुटाए आदि को लेकर पूछताछ करेगी।
श्रीगंगानगर में चढ़े थे हत्थे
फिरौती के लिए धमकी देने वाले गैंग के लीडर, महाराष्ट्र के शूटर सहित आठ जनों को श्रीगंगानगर पुलिस ने दो फरवरी को गिरफ्तार किया था। आरोपियों में इंद्र हिसारिया के मुनीम को धमकाने वाले भी शामिल थे। श्रीगंगानगर जिले में भी लॉरेंस गैंग के नाम से दो व्यापारियों को धमकी के मामले 27 दिसम्बर 2020 तथा 8 नवम्बर 2020 को दर्ज हुए थे। इन मामलों में चक ज्वाला कॉलोनी घड़साना निवासी बबलू कडेला उर्फ जयपाल पुत्र मालाराम, वार्ड नंबर दो सुंदर कॉलोनी निवासी मनदीप सिंह उर्फ दीपा पुत्र नाजर सिंह, वार्ड नंबर 29 अमर कॉलोनी नई मंडी घडसाना निवासी नाजम सिंह पुत्र बलजीत सिंह व चक 10 एमडी घडसाना निवासी आकाशदीप बराड़ पुत्र पाल सिंह, अमर कॉलोनी घड़साना निवासी आशीष बिश्नोई पुत्र प्रवीण, गांव गोडगांव अम्बेगांव पुणे महाराष्ट्र निवासी अभिषेक उर्फ सोनू पुत्र दलीप कोहली, चक 22 एमडी घडसाना निवासी राजदीप बराड़ पुत्र सुखमन्द्र सिंह व गांव चैनपुरा बड़ा सिद्मुख चूरू हाल कैलाशपुरी बीकानेर निवासी अभय सिंह पुत्र सोहन सिंह राठौड़ को गिरफ्तार किया गया। इनमें गिरफ्तार आशीष बिश्नोई पुत्र प्रवीण बिश्नोई गैंग का लीडर है, जो वसूली, फायरिंग, सहयोग, टारगेट आदि के निर्देश देता है। आरोपियों के संपर्क थाईलैंड व कनाडा से भी जुड़े मिले। आशीष बिश्नोई व हरियाणा का इनामी गैंगस्टर काला राणा भी जुड़े हुए हैं। गिरफ्तार किए गए आठ आरोपियों में सोनू महाराष्ट्र का शूटर है। आरोपी नाजम सिंह जयपुर में रहता है। आरोपी आशीष बराड़ आरोपियों के हथियारों को अपने पास रखता है।

adrish khan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned