पत्थरबाजी के विरोध में बंद रहा सिराली का बाजार

एक दिन पहले विसर्जन जुलूस पर हुई थी पत्थरबाजी, पुलिस ने सात के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार किया

By: gurudatt rajvaidya

Published: 06 Sep 2017, 02:09 PM IST

सिराली (हरदा)। सिराली का बाजार बुधवार सुबह से बंद रहा। यह विरोध प्रदर्शन मंगलवार को गणेश विसर्जन जुलूस पर पत्थरबाजी के फलस्वरूप था। प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार दोपहर विसर्जन जुलूस निकल रहा था। इसी दौरान एक धार्मिक स्थल के पास से कुछ लोगों ने जुलूस पर पत्थर बरसाए। इससे तनाव फैल गया। सूचना मिलते ही वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके के लिए रवाना हुए। एएसपी हेमलता कुरील भी मौके पर पहुंची थीं। इसी बीच पुलिस लाइन से भी बल सिराली पहुंचा। पत्थर बरसाने से कुछ लोगों को मामूली चोट आने की भी खबर है। पुलिस ने कानून व्यवस्था संभालते हुए जुलूस को आगे बढ़ाया और प्रतिमाएं विसर्जित कराई। इस दौरान गणेश उत्सव समिति के लोगों ने आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की। सूचना मिलने पर एसडीएम संजय उपाध्याय व आसपास के थाना प्रभारी बल के साथ पहुंचे थे। नाराज लोगों से चर्चा कर थाना प्रभारी कंचन ठाकुर ने उन्हें आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया। पुलिस व प्रशासन ने तनावपूर्ण स्थिति को नियंत्रित की। इसके बाद बुधवार को बाजार बंद करने का निर्णय लिया गया। यह किसी संगठन विशेष के आह्वान के बजाए सर्वसम्मति से लिया गया। बुधवार सुबह से बाजार नहीं खुले। ग्रामीण क्षेत्रों से आए लोग जरूरी सामान लेने के लिए यहां-वहां भटके। उन्हें बेरंग लौटना पड़ा। दोपहर 2 बजे तक बाजार बंद था।
एक ही परिवार के चार के खिलाफ प्रकरण दर्ज
पुलिस ने मंगलवार रात को सात आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया। इनमें एक ही परिवार के चार शामिल हैं। कस्बे में तनाव फैलने की खबर के बीच समुदाय विशेष ने पहल करते हुए आरोपी पक्ष पर गिरफ्तारी के लिए दबाव बनाया। इसके बाद पुलिस ने सातों आरोपियों को गिरफ्तार किया। एसडीएम संजय उपाध्याय ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है।
निजी शिक्षण संस्थाएं भी रहीं बंद
घटना के विरोध में निजी शिक्षण संस्थाएं भी बंद रही। आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों से पढऩे के लिए आने वाले बच्चे स्कूल बंद होने से वापस घर लौट गए।

gurudatt rajvaidya Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned