विश्व के सभी देशों को कोरोना वैक्सीन का उचित आवंटन होना चाहिए - डब्ल्यूएचओ

फाइजर और बायोएनटेक द्वारा उनके कोविड-19 वैक्सीन के 90 फीसदी सफल होने की बात कहने के बाद डब्लूएचओ के महानिदेशक ने कही ये बात ।

By: विकास गुप्ता

Published: 11 Nov 2020, 05:40 PM IST

जिनेवा । फाइजर और बायोएनटेक द्वारा उनके कोविड-19 वैक्सीन के 90 फीसदी सफल होने की बात कहने के बाद डब्लूएचओ के महानिदेशक ट्रेडोस एडहोम घेब्रेयेसिस ने वैक्सीन के 'उचित आवंटन' का आह्वान किया है। डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने मंगलवार को 73वीं विश्व स्वास्थ्य महासभा में कहा कि संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी फाइजर की इस आशाजनक खबर का स्वागत करती है और उम्मीद करती है कि जल्द ही दुनिया को प्रभावी टीके मिलेंगे। उन्होंने आगे कहा, "मैं सदस्य देशों से फिर से कोविड वैक्सीन के उचित आवंटन के लिए प्रतिबद्ध रहने की बात दोहराता हूं। हमें किसी भी देश को पीछे नहीं छोड़ना चाहिए।"

वर्तमान अनुमानों के आधार पर, फाइजर और बायोएनटेक इस साल विश्व स्तर पर 5 करोड़ वैक्सीन डोज और 2021 तक 1.3 अरब डोज तक का उत्पादन करेंगी। इस मौके पर डब्ल्यूएचओ के अफ्रीका के क्षेत्रीय निदेशक मत्स्यदिसो मोएटी ने कहा, "एक संभावित प्रभावी टीका उपलब्ध होने की खबर रोमांचक है, लेकिन अफ्रीकी देशों को इसे रखने के लिए जरूरी कोल्ड चेन को लेकर चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। इसे लेकर उसे सहायता देनी होगी।"

सोमवार को विश्व स्वास्थ्य महासभा में अपने शुरुआती भाषण में डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने कहा था कि महामारी को नियंत्रित करने के लिए एक टीके की तत्काल जरूरत है, लेकिन हमें यह देखना होगा कि गरीबी, भूख, जलवायु परिवर्तन या असमानता को मिटाने के लिए कोई टीका नहीं है।

COVID-19 COVID-19 virus
विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned