सफेद कद्दू से बनता है आगरे का पेठा, जानिए कद्दू के फायदे

आगरा का मशहूर पेठा इसी कद्दूू से बनाया जाता है, कद्दू की पत्तियों को खरोच या चोट पर लगाने से घाव जल्दी भरता है

By: दिव्या सिंघल

Published: 05 Aug 2015, 01:01 PM IST

सफेद कद्दू (कुम्हेड़ा) या पेठे को पूरे भारत में अलग-अलग तरह से खाया जाता है। दक्षिण में जहां इसकी सब्जी बनाई जाती है वहीं उत्तर भारत में इससे तैयार पेठा खाया जाता है। जानते हैं इसके फायदों के बारे में-

1. पेट रहेगा फिट: यह पेट के एसिड को कम कर अल्सर व जलन में आराम पहुंचाता है। सफेद कद्दू का एक गिलास ताजा रस पीने से किडनी की पथरी में आराम मिलता है।
2. तनाव: इसे ब्रेन फूड कहते हैं क्योंकि यह तनाव घटाकर मिर्गी, उत्तेजना व भ्रम आदि को नियंत्रित करता है।

 
3. चोट: इसमें मौजूद पोटेशियम ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मदद करता है। इसकी पत्तियों को खरोच या चोट पर लगाने से घाव जल्दी भरता है।
4. मोटापा: सफेद कद्दू में 96 प्रतिशत पानी होता है। यह अधिक कैलोरी युक्त खाद्य पदार्थो का बेहतर विकल्प है जो वजन नियंत्रित रखने में मदद करता है। दुबले लोग भी इससे स्वास्थ्य लाभ ले सकते हैं।


5. आयुर्वेदिक फायदे: वनौषधि विशेषज्ञ शंभू शर्मा के अनुसार आयुर्वेद में सफेद कद्दू का प्रयोग चटनी और पाक के रूप में किया जाता है। अगर 6 महीने तक इसे काटा न जाए तो भी यह खराब नहीं होता। आगरा का मशहूर पेठा इसी कद्दूू से बनाया जाता है।


दिव्या सिंघल
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned