scriptCommon Hygiene Myths we should not Believe | Hygiene Myths and Health Tips : जानें हाइजीन से जुड़े कुछ मिथकों को | Patrika News

Hygiene Myths and Health Tips : जानें हाइजीन से जुड़े कुछ मिथकों को

हम अपने स्वास्थ्य और साफ सफाई के प्रति कितना सचेत रहते हैं। परंतु क्या हम कभी इनमें से कुछ चीजों के पीछे का कारण पूछते हैं । यह जानने की कोशिश करते हैं ।आज हम आपको बताने जा रहे हैं इन्हीं हाइजीन और साफ-सफाई के विषय में कुछ प्रचलित मिथक के बारे में।

नई दिल्ली

Updated: October 29, 2021 08:15:34 pm

नई दिल्ली। हाइजीन और साफ-सफाई करना एक अच्छी आदत है। परंतु हमारे देश में कई सारे ऐसे प्रचलित मिथक हैं जो हाइजीन जिनके नाम पर चले आ रहे हैं। आज हम आपको इनके विषय में भी अवगत करवाएंगे । और बताएंगे कि सच में हाइजीन के लिए क्या सही है और क्या गलत। पुराने समय से चले आ रहे कई ऐसे स्वास्थ्य संबंधी टिप्स है जिनके बारे में डॉक्टरों की राय अब कुछ और है।
Hygiene Myths and Health Tips : जानें हाइजीन से जुड़े कुछ मिथकों को
Common Hygiene Myths we should not Believe
excess-sweating.jpgआइए जाने


1. पसीने से बदबू आना
पसीने से बदबू आता है । यह एक प्रकार का मिथक है। क्योंकि 99% पसीना प्योर वाटर होता है ।जो कि किसी भी प्रकार का स्मेल नहीं छोड़ता। ऐसे में यह बहुत समय पूर्व से चले आ रही मात्र एक मिथक ही है।
2. पब्लिक टॉयलेट जर्म्स का घर है
पब्लिक टॉयलेट को जर्म्स का घर कहना
सही नही होगा। रिसर्च का मानना है कि यदि आप पब्लिक टॉयलेट में सीट को भी टच कर लेते हैं। तो आपके और जर्म्स के बीच के कांटेक्ट का समय बहुत कम होता है। ऐसे में आपको किसी भी प्रकार की बीमारियां इसके थ्रू नहीं हो सकती।
3. रोज नहाना
रोज नहाना भी एक प्रकार का वर्षों से चला आ रहा प्रक्रिया ही है । यदि कोई इंसान एक दिन नहीं नहाता है तो इससे किसी भी प्रकार की बीमारियां या किसी भी प्रकार की गंदगी नहीं पनपती । रोज नहाना हाइजीन से ज्यादा एक सोशल कल्चर बन गया है ।जिसे हम रोजमर्रा की जिंदगी में फॉलो करते हैं।
4.पीरियड्स में सिर नहीं धोना चाहिए
लेकिन ये एक मिथक है, जो काफी समय से लोगों के मन में बनी हुई है। सच तो ये है कि नियमित रूप से स्नान करके अंतरंग क्षेत्र की सफाई करके महिलाओं को स्वच्छता बनाए रखनी चाहिए। इससे महिलाओं को पीरियड्स से जुड़ी कई तरह की बीमारियों से बचने में बहुत मदद मिलेगी।

5. पीरियड्स में नो एक्सरसाइज
इस दौरान ये भी माना जाता है कि एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए, क्योंकि आप पहले से ही कमजोर महसूस कर रही हैं। परंतु यह एक मिथक है । लेकिन असल में रेगुलर एक्सरसाइज आपकी बॉडी को एक्टिव रखती है और पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द को कम करती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमी100-100 बोरी धान लेकर पहुंचे थे 2 किसान, देखते ही कलक्टर ने तहसीलदार से कहा- जब्त करोराजस्थान में यहां JCB से मिलाया 242 क्विंटल चूरमा, 6 क्विंटल काजू बादाम किशमिश डालेShani Parvat: हाथ में मौजूद शनि पर्वत बताता है कि पैसों को लेकर कितने भाग्यशाली हैं आपफरवरी में मकर राशि में ग्रहों का महासंयोग, मेष से लेकर मीन तक इन राशियों को मिलेगा लाभNew Maruti Wagon R : अनोखे अंदाज में आ रही है आपकी फेवरेट कार, फीचर्स होंगे ख़ास और मिलेगा 32Km का माइलेज़2 बच्चों के पिता और 47 साल के मर्द पर फ़िदा है ‘पुष्पा’ की 25 साल की एक्ट्रेस, जाने कौन है वो

बड़ी खबरें

Jammu Kashmir: अनंतनाग के हसनपोरा में आतंकी हमला, पुलिस हेड कांस्टेबल अली मोहम्मद शहीदभरोसा बनाए रखें, प्रिंट मीडिया को कोई खतरा नहींः प्रो. संजय द्विवेदीहम 'जनमन' की बात करते हैं और वे 'गन' की : स्वतंत्र देव सिंहUP Assembly Elections 2022: राजा भैया के खिलाफ कुंडा से समाजवादी के बाद बीजेपी ने घोषित की प्रत्याशी, जाने कौन है सिंधुजा मिश्रा जो राजा को देगी टक्करमहिला आयोग के नोटिस के बाद झुका SBI, विवादित सर्कुलर लिया वापसBeating the Retreat: गणतंत्र दिवस समारोह के समापन पर विजय चौक पर भव्य शो, 300 साल पुरानी है 'बीटिंग द रिट्रीट' परंपराभाजपा MLA की ‘जाति’ पर सवाल,हाईकोर्ट ने कहा- 90 दिन में सरकार करे समाधानराजनीतिक संरक्षण में हुआ है रीट परीक्षा का पेपर आउट,मंत्रिमंडल तक जुड़े हैं तार-राठौड़
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.